Compass किसे कहते हैं – Compass कैसे देखते है, प्रकार, आविष्कार

आज हम इस Article में जानेंगे कि Compass किसे कहते हैं और Compass कैसे देखते हैं साथ ही हम जानेंगे कि Compass से क्या होता है, Compass कैसे देखते हैं,

Compass Kise Kahate Hain और Compass Ka Avishkar Kisne Kiya

Compass की परिभाषा, कम्पास कितने प्रकार के होते हैं, कम्पास के हिस्सों के नाम और साथ ही हम जानेंगे कि कम्पास का पूरा नाम क्या है.

Compass Kise Kahate Hain

कम्पास एक प्रकार का Device है जिसे दिशा देखने के लिए उपयोग किया जाता है. कम्पास को दिक्सूचक, कुतुबनुमा और दिशा सूचक यंत्र के नाम से भी जाना जाता है. कम्पास के भी विभिन्न प्रकार होते हैं.

चुम्बकीय कम्पास हमेशा उत्तर दिशा की ओर संकेत करता है क्यूंकि चुम्बकीय कम्पास उत्तरी ध्रुव होता है और पृथ्वी का दक्षिणी चुम्बकीय ध्रुव उत्तर की ओर होता है. Opposite आकर्षित करते हैं इस वजह से कम्पास हमेशा उत्तर की तरफ़ इशारा करता है.

कम्पास ऐसे स्थानों पर बहुत लाभकारी होता है जहाँ पर दिशा ज्ञात करना बहुत मुश्किल हो जैसे मरुस्थल, महासागर आदि.

कम्पास से धरती के किसी भी कोने से दिशा का पता लगाया जा सकता है.

Compass Ka Avishkar Kisne Kiya

Compass का आविष्कार चीन में हुआ था. चीन में एक हान राजवंश हुआ करता था उनके काल में ही दूसरी शताब्दी ईसा पूर्व और पहली शताब्दी ईस्वी के बीच चुम्बकीय कम्पास का आविष्कार हुआ था. इसका उपयोग चीनियों ने दिशा देखने के लिए नहीं बल्कि भू-विज्ञान और भाग्य बताने के लिए किया था.

पहला कम्पास एक चुम्बकीय वस्तु को काँसे की Plate पर मैग्नेटाइट अयस्क को सेट करके बनाया गया था.

Compass Se Kya Hota Hai

Compass एक Navigation Device है जिससे दिशा का ज्ञान होता है. कम्पास की मदद से हम पृथ्वी पर कहीं से भी दिशा पता कर सकते हैं. यह चुम्बकीय ध्रुवों की मदद से हमें दिशा बताता है.

आज कम्पास हमारे मोबाइल फोंस में भी आता है जिसकी मदद से हम सेकंड्स में दिशा का अनुमान कर सकते हैं. यह भी बिलकुल कम्पास Device की ही तरह काम करता है. इसमें भी हमेशा कम्पास का Point उत्तर दिशा की और रहता है.

Compass Kaise Dekhte Hain

कम्पास को सही तरह से देखने के लिए आपको इसे सही तरह से पकड़ना होगा. इसे हमेशा समतल जगह पर रखा जाता है. यात्रा करते समय इसे अपनी हथेली पर रख सकते हैं और इसे ठीक सीने के सामने रखे.

कम्पास में एक लाल रंग की सुई होती है जो हमेशा उत्तर दिशा की ओर रहती है. इससे ही हम बाकी दिशाओं का भी पता लगाते हैं.

उत्तर दिशा के ठीक विपरीत में दक्षिण दिशा होती है. उत्तर से 90 डिग्री सीधे हाथ की तरफ़ पूर्व दिशा आती है और पूर्व के विपरीत पश्चिम दिशा होती है. इस तरह हम सिर्फ एक दिशा से चारों दिशाएं पता कर सकते हैं.

कंपास कितने प्रकार के होते हैं

कम्पास मुख्यतः चार प्रकार के होते हैं :-

  1. चुम्बकीय कम्पास : यह पृथ्वी के चुम्बकीय बल से दिशा बताता है.
  2. घूर्णदर्शीय कम्पास : यह पृथ्वी के घूमने से दिशा बताता है.
  3. रेडियो कम्पास : यह रेडियो सिग्नल पर आधारित है.
  4. सूर्य अथवा तारा कम्पास : यह सूर्य और तारों की मदद से दिशा बताता है.

Compass Kaise Banta Hai

Compass को ऐसे बनाया जाता है कि उसमें लगी चुम्बकीय सुई Freely घूम सके ताकि वह पृथ्वी की चुम्बकीय छेत्र की दिशा में घूम कर हमें सही दिशा बता सके.

एक साधारण कम्पास बनाने के लिए सबसे पहले एक Base Plate ली जाती है. उसके बीचों बीच 1 Housing लगाते हैं जिस पर सुई Freely घूम सके. उसके ऊपर चुम्बकीय सुई लगाते हैं.

Base Plate के ऊपर एक 360 डिग्री का डायल लगाया जाता है. इस डायल पर एक Arrow बना होता है जिसे Direction of Travel Arrow कहा जाता है. फिर उसके ऊपर एक Magnifier Glass सेट कर दिया जाता है.

Compass Ke Hisse Ke Naam

compass के हिस्सों में Base Plate, Scales and Rulers, Direction of Travel Arrow, Needle,  Magnifier, Index Line, Dial, Declination Scale, Orienting Arrow, Orienting Lines और  Housing आदि शामिल हैं.

Compass Kaisa Hota Hai

Compass एक गोल छोटा सा घड़ी की तरह दिखने वाला Device होता है जिस पर एक ग्लास लगा होता है और उसके अन्दर एक चुम्बकीय काँटा या सुई लगी होती है जो North Direction दिखाती है.

Compass Ki Paribhasha

Compass दिशा का ज्ञान कराता है.

Compass Ka Avishkar Kisne Kiya – FAQs

कम्पास का पूरा नाम क्या है

‘दिशा सूचक यंत्र’ कम्पास का पूरा नाम है. यह धरती के सभी कोनों से दिशा बताने की छमता रखता है.

कंपास की खोज किसने की

कम्पास की खोज चीन के हान राजवंश में हुई थी.

Compass Ka Full Form

कम्पास का कोई Full Form नहीं होता.

उम्मीद है आपको यह Article Compass Kise Kahate Hain और Compass Ka Avishkar Kisne Kiya पसंद आया होगा.

अगर आपको पसंद आया तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करें ताकि वह भी इसके बारे में जान सकें एवं आपको किसी भी तरह का कोई सवाल आए तो आप नीचे दिए Comment बॉक्स की मदद से हमसे पूछ सकते हैं.

Questions & Answer:
ITI Se Kya Hota Hai और ITI Ka Paper Kaisa Hota Hai

ITI Se Kya Hota Hai – आईटीआई कैसे करें,ITI की पूरी जानकारी,Form,Scholarship

Kya KaiseEducationJob
Peanut Butter खाने से क्या होता है और Peanut Butter खाने के फायदे

Peanut Butter खाने से क्या होता है, सही तरीका, वजन, फायदे नुक्सान

Kya Kaise
Saunf Khane Se Kya Hota Hai और Saunf Khane Ke Fayde Aur Nuksan

Saunf खाने से क्या होता है – सौंफ खाने के फायदे और नुकसान

Health
Author :
प्रिये पाठक, आपका हमारी वेबसाइट Lipibaddh.com पर स्वागत है, इस वेबसाइट का काम लोगों को हिंदी भाषा में देश, विदेश एवं दैनिक जीवन में काम आने वाली जरुरी चीजों के बारे में जानकरी देना है.
Questions Answered: (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *