Dashamlav क्या है – दशमलव की खोज किसने की,दशमलव की परिभाषा

आज इस article में हम जानेंगे, Dashamlav Kya Hai और Dashamlav Ka Avishkar Kisne Kiya साथ ही हम जानेंगे कि दशमलव की खोज कहाँ हुई थी, दशमलव कौन सी पद्धति में आती है और इसका क्या महत्व है.

Dashamlav Kya Hai और Dashamlav Ka Avishkar Kisne Kiya

इस article के माध्यम से हम विस्तार में जानेंगे की दशमलव जो की विज्ञान की दुनिया में एक बहुत ही महत्वपूर्ण खोज है उसके इतिहास के बारे में और समझेंगे कि इसका उपयोग कहा और कैसे किया जाता है.

Dashamlav Kya Hai

दशमलव ( Decimal ) गणित की संख्याओं को लिखने का एक चिन्ह है, जिसे बिंदु से प्रकट किया जाता है. इसका उपयोग दाशमिक संख्या पद्धति में होता है.

दाशमिक संख्या पद्धति गणित की वह पद्धति है जिसमें गिनती के लिए सिर्फ दस अंकों (0, 1, 2, 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9) का उपयोग किया जाता है. यह पद्धति सबसे ज्यादा उपयोग में ली जाती है.

दशमलव को संख्या के पूर्णांक भाग एवं अपूर्णांक भागों के बीच में लगाया जाता है. उदाहरण के तौर पर डेढ़ को 1.5 और ढाई को 2.5 लिखा जाता है.

सर्वप्रथम भारत ही ऐसा देश था जिसने अंकों को दस चिन्ह दिए थे. जिन्हें हम 0, 1, 2, 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9, के नाम से जानते हैं. संस्कृत साहित्य में हमारे इस अंक गणित को सर्व् श्रेष्ठ माना गया है.

पांचवी शताब्दी में भारत के महान गणितज्ञ आर्यभट्ट द्वारा अंक संज्ञाओं की खोज की गई थी. इसी क्रम में गणित के और भी formula भारत ने खोजे और संख्याओं के छोटे भाग करने के लिए दशमलव पद्धति का भी खोज किया.

Dashamlav Ka Avishkar Kisne Kiya

दशमलव का आविष्कार भारत के महान गणितज्ञ चंद्रशेखर वेंकट रमन ने किया था. वह भारत के पहले ऐसे खोजकर्ता थे, जिनकी वजह से भारत को विज्ञान की दुनिया में नाम करने का मौका मिला.

भारत ने दुनिया  को गणित के छेत्र में  सबसे महत्वपूर्ण 2 बात बताई जिनमें से एक शून्य की खोज थी, जो भारत के गणितज्ञ आर्यभट्ट ने की थी और दूसरी दशमलव की खोज जिसे Chandrasekhara Venkata Raman ने किया था.

Dashamlav Sankhya Kise Kahate Hain

दशमलव संख्या गणित की वह संख्या होती है, जिसे दाशमिक प्रणाली के अंतर्गत लिखा गया हो अर्थात् वह संख्या जिसका पूर्णांक भाग और अपूर्णांक भाग बिंदु के द्वारा अलग कर दिया गया हो.

दाशमिक प्रणाली से विभिन्न इकाइयों के मान को ज्ञात किया गया जिसमें दस का प्रयोग किया जाता है. इसमे प्रत्येक इकाई अपने से छोटी इकाई की दस गुनी बड़ी होती है और अपने से बड़ी इकाई की दशमांश छोटी होती है.

दाशमिक प्रणाली इतनी आसान प्रणाली थी की भारत के अलावा अन्य देशों ने भी इसे अपना लिया.

Shant Dashamlav Kya Hai

सांत दशमलव वह परिमेय संख्या होती है. जिनका दशमलव प्रसार सांत होता है. अर्थात वह Rational Number जिनका भाग देने पर शेषफल शून्य हो जाता है.

दशमलव में भाग कैसे करें

  1. दशमलव संख्याओं का भाग करने के लिए हमें पहले यह देखना होगा की भाजक एक पूर्ण संख्या है या नहीं अगर नहीं है तो पहले भाजक को पूर्ण संख्या बनाना होगा.
  2. पूर्ण संख्या बनाने के लिए भाजक को दस से तब तक गुणा करेंगे जब तक वह एक पूर्ण संख्या नहीं बन जाता.
  3. जितनी बार हमने भाजक का गुणा किया है उतनी ही बार हम भाज्य को भी दस से गुणा करेंगे.
  4. उसके बाद दोनों संख्याओं का आपस में भाग देंगे. उससे जो उत्तर प्राप्त होगा वही उस दशमलव का हल होगा.
  5. अगर भाजक पूर्ण संख्या है और भाज्य पूर्ण संख्या नहीं है तो हम संख्या को दस से गुणा नहीं करेंगे और simple भाग देंगे और फिर जो उत्तर आएगा उसमें उस स्थान पर दशमलव बिंदु लगाना है जिस स्थान पर भाज्य का दशमलव बिंदु है. वही हमारा उत्तर होगा.
दशमलव से भिन्न में बदलना

दशमलव से भिन्न में बदलने के लिए हमे इसे उदाहरण के द्वारा समझना होगा.

अगर हम 0.5 को भिन्न में परिवर्तित करना चाहते हैं तो हमे इस क्रम को फॉलो करना होगा.

उदाहरण :-

0.5 = 0.5/1 = (0.5*2)/(1*2) = 1.0/2 = 1/2

तो आपने देखा की हमने 0.5 को भिन्न में बदलने के लिए पहले ०.5 को (अंश/हर)  के रूप में लिखा. फिर अंश में ऐसी संख्या का गुणा किया जिससे वह संख्या पूर्ण हो जाए. फिर हमने उसी संख्या से हर में भी गुणा किया. दोनों जगह गुणा करने पर हमे हमारा उत्तर प्राप्त हो गया जो (अंश/हर) के रूप में आया है.

Who Invented Decimal in India

भारत में दशमलव पद्धत्ति का आविष्कार महान गणितज्ञ चंद्रशेखर वेंकट रमन (Chandrasekhar Venkat Raman) द्वारा किया गया था.

Dashamlav Paddhati Ke Avishkarak Kaun the

दशमलव पद्धति के आविष्कार का श्रेय भारत में महान गणितज्ञ चंद्रशेखर वेंकट रमण (Chandrasekhara Venkata Raman) को दिया जाता है उन्होंने ही इस पद्धति के बारे में सबसे पहले बताया था.

Dashamlav Ka Avishkar Kisne Kiya – FAQs

Dashamlav Ki Khoj Kisne Ki

दशमलव का आविष्कार Chandrasekhara Venkata Raman ने किया था.

Shant Dashamlav Kise Kahate Hain

सांत दशमलव वह Rational Numbers होते हैं जिनका भाग देने पर शेषफल शून्य आता है.

Dashamlav Kise Kahate Hain

दशमलव उस बिंदु को कहा जाता है जिसे हम गणित की संख्याओं को अंकित करने के उपयोग में लेते हैं.

Dashamlav Ki Khoj Kisne Ki Thi

दशमलव की खोज चंद्रशेखर वेंकट रमन ने की थी.

दशमलव का आविष्कार किसने किया

दशमलव का अविष्कार चंद्रशेखर वेंकट रमण द्वारा किया गया था.

उम्मीद है आपको यह article Dashamlav Kya Hai और Dashamlav Ka Avishkar Kisne Kiya पसंद आया होगा.

अगर आपको पसंद आया तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करें ताकि वह भी इसके बारे में जान सकते हैं. एवं आपको किसी तरह की समस्या आए तो आप नीचे दिए comment बॉक्स की मदद से हमसे पूछ सकते हैं.

Questions & Answer:
Hair Spa Se Kya Hota Hai - Hair Spa Benefits

Hair Spa से क्या होता है – कैसे किया जाता है – Benefits

Kya Kaise
DNA Test Se Kya Hota Hai और डीएनए टेस्ट घर पर कैसे करे

DNA Test से क्या होता है – डीएनए टेस्ट घर पर कैसे करे, DNA टेस्ट का खर्च

Health
Rudraksh Pahnane Se Kya Hota Hai और रुद्राक्ष पहनने के फायदे और नुकसान

रुद्राक्ष पहनने से क्या होता है – उत्पत्ति, कथा, पौधा, नियम, फायदे नुकसान

Kya Kaise
Author :
प्रिये पाठक, आपका हमारी वेबसाइट Lipibaddh.com पर स्वागत है, इस वेबसाइट का काम लोगों को हिंदी भाषा में देश, विदेश एवं दैनिक जीवन में काम आने वाली जरुरी चीजों के बारे में जानकरी देना है.
Questions Answered: (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *