Gud खाने से क्या फायदा होता है – गुड़ और चना के फायदे

इस पोस्ट में हम जानेंगे की Gud खाने से क्या फायदा होता है और Gud or Chana Ke Fayde साथ ही जानेंगे गुड़ पट्टी कैसे बनाते है और गुड़ और दूध के फायदे क्या है.

Gud Khane Se Kya Fayda Hota Hai और Gud or Chana Ke Fayde

साथ ही पोस्ट में जानेंगे की गुड़ पपड़ी कैसे बनाते है और गुड़ ठंडा है या गरम. इन सब के बारे में इस पोस्ट में विस्तार से जानेंगे.

Gud Thanda Hai Ya Garam

गुड़ गरम प्रकृति का होता है| इसलिये इसका बहुत अधिक सेवन करने से शरीर में गर्मी बढ़ जाती है जिससे नाक से खून आ सकता है| लेकिन गरम होने के कारण ही इसका उपयोग सर्दी, जुकाम और खास तौर से कफ को दूर करने के लिये किया जाता है|

Gud Se Kya Hota Hai

गुड़ में प्रोटीन, आयरन, विटामिन्स और मिनरल्स होते है| यह स्वाद में मीठा और स्वादिष्ट होता है| इसका रंग सुनहरे भूरे रंग से लेकर गहरे भूरे रंग तक होता है| इसके नियमित तौर पर इस्तेमाल करने से हम खुद को कई प्रकार के रोगों से दूर रख सकते हैं| यह हमारे शरीर को स्वस्थ रखने के लिये एक महत्वपूर्ण तत्व है जिसके कई फायदे है| जिन्हें निम्न बिन्दुओं के आधार पर समझा जा सकता है:-

  • खून की कमी को पूरा करता है|
  • हड्डियों को मजबूत करता है|
  • पाचन में सहायता करता है|
  • वजन कम करने में मदद करता है|
  • Blood Pressure नियंत्रित रहता है|
  • जोड़ो के दर्द से छुटकारा मिलता है|
  • आयरन की कमी को दूर करता है|

Gud Se Kya Banaye

गुड़ से कई प्रकार के स्वादिस्ट व्यंजन बनाये जा सकते है जिनमे से कुछ इस प्रकार है:-

  • तिल-गुड़ के लड्डू
  • गुड़ के शकरपारे
  • गुड़-आटा पापडी
  • गुड़ के रसगुल्ले
  • मीठा पोंगल
  • मीठी मठरी
  • पुरन पोली
  • गुड़ सेव
  • मिठाइयाँ
  • चिक्की
Gud Patti Kaise Banate Hain

गुड़ पट्टी बनाने की रेसिपी:-

सामग्री:

  • मूंगफली के दाने – 1 कप (150 ग्राम) (भुने एवं छिले हुए)
  • गुड़ – 1 कप (200 ग्राम) (पिसा हुआ)
  • घी – 2 टेबल स्पून

विधि:

  • पैन में पिसा हुआ गुड़ और 1 छोटी चम्मच घी डाल दीजिए, गुड़ को लगातार चलाते हुए धीमी आंच पर पिघलाइए| गुड़ के पिघलने के 2 मिनिट बाद तक इसे चमचे से चलाते हुए पकाइये|
  • लगभग 2 मिनिट बाद, गुड़ फूला-फूला दिखने लगेगा इसे Check करने के लिए एक प्याली में थोड़ा सा पानी लीजिए इसमें थोड़ा सा गुड़ डालकर इसे ठंडा होने दे| इसके बाद गुड़ को उठाकर देखे, गुड़ अगर खिंच रहा हो तो गुड़ को थोड़ी देर और पका ले|
  • लगभग 1 मिनिट बाद गुड़ को फिर से Check करे अगर गुड़ टूटने लगे तो गुड़ की चाशनी तैयार है| गैस धीमी कर दे और गुड़ में मूंगफली के दाने डालकर अच्छी तरह से मिक्स कर दे| फिर गैस बंद कर दे|
  • मिश्रण जमाने के लिए बोर्ड और चमचे को घी लगाकर चिकना कर ले| गुड़ पट्टी का मिश्रण बोर्ड पर डालें और फिर चमचे से मिश्रण को पतला-पतला फैला ले| इसके बाद बेलन पर थोड़ा सा घी लगाकर चिकना कीजिए और गुड़ पट्टी के मिश्रण को बेल ले| बेली हुई गुड़ पट्टी के मिश्रण को थोड़ा सा ठंडा होने दे|
  • हल्की ठंडी होने पर इसे चाकू से अपनी पसंद के अनुसार Size में काटने के निशान लगा ले| पूरी तरह से ठंडा होने के बाद, इनके टुकड़े बोर्ड से अलग कर दे|
  • स्वादिष्ट गुड़ पट्टी तैयार है|

Gud Papdi Kaise Banate Hain

गुड़ पापडी बनाने की रेसिपी:-

सामग्री:

  • गुड़- ½ कप (125 ग्राम) (कद्दूकस किया हुआ)
  • गेहूं का आटा- 1 कप (150 ग्राम)
  • घी- ½ कप (125 ग्राम)
  • बादाम- 5 से 6 (बारीक कटे हुए)
  • इलाइची पाउडर- ¼ छोटी चम्मच
  • जायफल- 1

विधि:

  • गुड़ पापड़ी बनाने के लिए सबसे पहले आटे को भून लीजिए| आटा भूनने के लिए पैन गरम कीजिए, थोड़ा सा घी छोड़कर बाकी घी पैन में डालकर पिघला लीजिए| पिघले घी में आटा डाल दीजिए और आटे को लगातार चलाते हुए Golden Brown होने तक भून लीजिए| गैस मध्यम और धीमी रखे| जब आटा Golden Brown दिखने लग जाये तो गैस बंद कर दे और थोड़ी देर उस आटे को चलाते रहें ताकि वह पैन में चिपककर जले ना|
  • अब आटे में इलाइची पाउडर और जायफल कद्दूकस करके मिला दीजिए|
  • पापड़ी जमाने के लिए एक प्लेट लेकर उसे थोड़े से घी से चिकना कर लीजिए|
  • कढ़ाई(पैन) को गैस से उतारकर जाली वाले स्टेन्ड पर रख लीजिए| आटे में कद्दूकस किया गुड़ डालकर मिक्स कर लीजिए| गुड़ को आटे में अच्छे से मिलने और पिघलने तक मिक्स करते रहिए| जब आटा-गुड़ अच्छे से मिलकर एक हो जाए तब इसे प्लेट में जमा दीजिए|
  • पापड़ी जमाने के लिए मिश्रण को चिकनी की हुई प्लेट में डाल लीजिए| इसे चमचे से दबाकर एक जैसा कर लीजिए या तो इसे बेलन से बेल भी सकते है| अब  इसके ऊपर बारीक कटे बादाम डाल दीजिए और उन्हें थोडा चिपका दीजिए.
  • जमाए हुए मिश्रण पर चाकू से काटने के निशान लगा दीजिए और मिश्रण को थोड़ा सा ठंडा होने दीजिए| गुड़ पापड़ी के मिश्रण के पूरी तरह जमने के बाद, टुकड़ों को अलग करके निकाल लीजिए|
  • स्वादिष्ट गुड़ पापड़ी बनकर तैयार है|
Gud Wala Rasgulla

गुड़ वाला रसगुल्ला मुख्यतः बंगाल में खाया जाता है| यह वहा की एक प्रमुख और शौक़ से खाया जाने वाला व्यंजन है| गुड़ वाला रसगुल्ला बनाने की रेसिपी:

सामग्री:

  • 300 ग्राम बंगाली गुड़ (बारीक कटा हुआ)
  • 1 लीटर दूध
  • 1 लीटर पानी
  • 1/4 टी स्पून नींबू का सत
  • 2 टीस्पून गुलाबजल

विधि:

  • 1 ग्लास गुनगुने पानी में नींबू का रस घोल लें|
  • दूध को गरम कर लें|
  • उबाल आने पर नींबू के रस का घोल धीरे-धीरे मिलाएं|
  • दूध के फटने तक नींबू के रस का घोल मिलाते रहे|
  • फिर उसे मलमल के कपड़े की सहायता से छान लें|
  • ऊपर से ठंडा पानी डालें|
  • उस छेने की पोटली बांधकर पूरा पानी निथार लें|
  • छेना निकालकर हल्के हाथ से मैश करते हुए उसकी बॉल्स बना लें|
  • चाशनी के लिए पेन में पानी और गुड़ मिलाकर उबाल लें|
  • अब गैस से उतारकर छान लें|
  • फिर चाशनी को तेज़ आंच पर रखकर उबाल लें|
  • छेना बॉल्स डालकर 5 मिनट तक पकाएं|
  • फिर ढंककर 10 मिनट तक पकाएं| बीच में 1-2 बार पानी के छीटें मार दे|
  • आंच से उतारकर गुलाबजल मिलाएं|
  • अब उसे फ्रिज में ठंडा होने के लिए रखें|
  • गुड़ वाला रसगुल्ला तैयार है|

Gud Khane Se Kya Fayda Hota Hai

गुड़ खाने के फायदे:

  • खून की कमी को पूरा करता है|
  • हड्डियों को मजबूत करता है|
  • पाचन में सहायता करता है|
  • खाली पेट गुड़ खाने से वजन कम होता है|
  • त्वचा की कई समस्याओं से बचाता है|
  • अनिद्रा की समस्या को दूर करता है|
  • Blood Pressure नियंत्रित रहता है|
  • जोड़ो के दर्द से छुटकारा मिलता है|
  • आयरन की कमी को दूर करता है|
  • Period में भी सहायक होता है|
  • शरीर उर्जावान बना रहता है|
  • इम्युनिटी को बढाता है|

Gud or Chana Ke Fayde

गुड़ में प्रोटीन, आयरन, विटामिन्स और मिनरल्स होते है तथा सूखे चने में भरपूर मात्रा में प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट, कैल्शियम, आयरन और विटामिन्स होते हैं| इसलिये जब गुड़ को चने के साथ के साथ खाया जाता है तो उनका फायदा दोगुना हो जाता है|

गुड़ को चने के साथ खाने से निम्न फायदे होते है:-

  • गुड़ और चने दोनों में आयरन पर्याप्त मात्रा में होता है, जो शरीर में खून की कमी को पूरा करने में सहायता करता है|
  • गुड़ चने में पोटेशियम पाया जाता है जो हार्ट अटैक के खतरे को रोकता है।
  • लीवर को स्वस्थ रखने में भी सहायक है|
  • चिडचिडापन दूर करने में सहायक है|
  • मोटापा कम करने में सहायक है|
  • पाचन में भी मददगार होता है|

Gud Aur Dudh Ke Fayde

गुड़ और दूध दोनों ही हमारी सेहत के लिए अच्छे माने जाते है। रोजाना गर्म दूध के साथ गुड़ का सेवन करना बहुत फायदेमंद माना जाता है।

गुड़ और दूध के फायदे:-

  • दूध में गुड़ मिलाकर पीने से पीरियड्स अनियमित नहीं होते हैं और दर्द भी कम होता है।
  • रोजाना दूध में गुड़ मिलाकर पीने से एनिमिया का खतरा नहीं होता है।
  • गुड़ के साथ दूध का उपयोग करने से वजन Control में रहता है|
  • पेट सम्बधी हर समस्या से निजात पाया जा सकता है|
  • खून की कमी को पूरा करता है|
Gud Aur Pyaj Ke Fayde

प्याज और गुड़ दोनों ही शोधक का कार्य करते है| यह शक्तिवर्धक व कब्ज नाशक है|

गुड़ और प्याज के फायदे:-

  • गुड़ और प्याज को साथ में लेने से पीलिया जैसे रोगों मे लाभ होता है|
  • High Blood Pressure को नियंत्रित करने में सहायक है|
  • पाचन के लिये लाभकारी है|

Gud Dahi Ke Fayde

गुड़ दही के फायदे:-

  • खून की कमी को पूरा करता है|
  • सर्दी-जुकाम को दूर करता है|
  • वजन कम करने में सहायक|
  • कब्ज दूर करने में सहायक|
  • इम्युनिटी बढाता है|
Gud Falli Khane Ke Fayde

मूंगफली सेलेनियम से भरपूर होती है, और गुड़ प्रोटीन, आयरन, विटामिन्स और मिनरल्स से भरपूर होता है|

गुड़ फल्ली खाने के फायदे:-

  • पाचन में सहायक|
  • इम्युनिटी बढती है|
  • बेहतर रक्त संचार|
  • कमजोरी को दूर करता है|
  • खून की कमी को दूर करता है|
  •  दांत और हड्डियां मजबूत होती है|
  • प्रजनन संबंधी समस्याओं में सुधार करता है।
Gud Til Ke Fayde

गुड़ तिल के फायदे:-

  • गुड़-तिल की तासीर गरम होती है| सर्दी के मौसम में यह हमारे शरीर में आवश्यक गर्मी पहुंचाते हैं|
  • इसमें कैल्शियम भरपूर मात्रा में होता है इसलिये यह हड्डियों के स्वास्थ्य के लिए अच्छा होता है|
  • तिल-गुड़ पाचन तंत्र के लिए भी बहुत फायदेमंद होते है|
  • फेफड़ों के लिए भी काफी फायदेमंद होते हैं|
  • तिल-गुड़ भूख बढ़ाने में भी मदद करते हैं|

Gud Aur Mungfali Ke Fayde

गुड़ और मूंगफली के फायदे:-

  • पाचन में सहायक|
  • इम्युनिटी बढती है|
  • बेहतर रक्त संचार|
  • कमजोरी को दूर करता है|
  • खून की कमी को दूर करता है|
  •  दांत और हड्डियां मजबूत होती है|
  • प्रजनन संबंधी समस्याओं में सुधार करता है.
Gud Roti Khane Ke Fayde

पेट से जुड़ी समस्‍याएं जैसे कब्‍ज, गैस, जलन आद‍ि की श‍िकायत कई लोगो को होती है, गुड़ रोटी खाने से इन समस्‍याओं को दूर किया जा सकता है जिससे पाचन तंत्र सुचारू रूप से काम करता है|

यह Blood  Pressure को नियंत्रित रखता है साथ ही साथ यह शरीर में खून की कमी को पूरा करने में भी सहायक होती है| गुड़ रोटी में कैल्शियम प्रचुर मात्रा में होता है जिससे यह हड्डियों को मजबूत करता है|

Gud – FAQs
Gud Ki Taseer

गुड़ की तासीर गरम होती है| इसलिये इसका बहुत अधिक सेवन करने से शरीर में गर्मी बढ़ जाती है जिससे नाक से खून आ सकता है|

Gud Khane Se Kya Labh Hai

गुड़ में प्रोटीन, आयरन, विटामिन्स और मिनरल्स होते है| गुड़ खाने से वजन कम होता है, त्वचा की समस्यां दूर होती है, अनिद्रा, ब्लड प्रेशर, इम्युनिटी बढ़ती है तथा जोड़ो के दर्द में भी आराम मिलता है.

Gud Khane Se Period Aata Hai

हाँ, गुड़ खाने से Period आ सकता है| क्योकि गुड़ गरम तासीर का होता है जो शरीर में गर्मी को बढाता है और अगर गुड़ को सामान्य मात्रा से अधिक मात्रा में लिया जाये तो शरीर में गर्मी बढ़ जाती है जिससे Period आ सकते है|

Gud Ka Bhav

अभी देखा जाये तो गुड़ का भाव 80 रुपये किलो है मतलब 1 kg = 80/- Rs| यह भाव निश्चित नही होता है| गुड़ को किसी सामान्य दुकान, मॉल या ऑनलाइन ख़रीदा जा सकता है|

Gud Dudh Ke Fayde

गुड़ दूध के फायदे:-
दूध में गुड़ मिलाकर पीने से Period अनियमित नहीं होते हैं और दर्द भी कम होता है।
रोजाना दूध में गुड़ मिलाकर पीने से एनिमिया का खतरा भी कम हो जाता है।
गुड़ के साथ दूध का उपयोग करने से वजन Control में रहता है|
पेट सम्बधी हर समस्या से निजात पाया जा सकता है|
खून की कमी को पूरा करता है|

उम्मीद करते है आपको हमारी यह पोस्ट Gud Khane Se Kya Fayda Hota Hai और Gud or Chana Ke Faydeपसंद आई होगी.

अगर आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया है तो इसे ज्यादा से ज्यादा लोगों के साथ शेयर कर दीजिए और इस आर्टिकल से जुड़ा कोई भी सवाल हो तो उसे आप नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट कर के पूछ सकते हैं.

Questions & Answer:
Train Ka Avishkar Kisne Kiya और Train Kaise Chalti Hai

Train का आविष्कार किसने किया – ट्रैन कैसे चलती है, ट्रैन की जानकारी

Avishkar
Battery Se Kya Hota Hai और Battery Ka Avishkar Kisne Kiya

Battery से क्या होता है – बैटरी का अविष्कार किसने किया, बैटरी के प्रकार

Avishkar
Rocket Ka Avishkar Kisne Kiya और Rocket Kaise Udta Hai

Rocket का आविष्कार किसने किया – रॉकेट कैसे उड़ता है, भारत का पहला रॉकेट

Avishkar
Author :
प्रिये पाठक, आपका हमारी वेबसाइट Lipibaddh.com पर स्वागत है, इस वेबसाइट का काम लोगों को हिंदी भाषा में देश, विदेश एवं दैनिक जीवन में काम आने वाली जरुरी चीजों के बारे में जानकरी देना है.
Questions Answered: (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *