Migraine से क्या होता है – माइग्रेन कितने प्रकार के होते हैं, लक्षण और उपाय

इस पोस्ट में हम जानेंगे की Migraine Se Kya Hota Hai और माइग्रेन कितने प्रकार के होते हैं साथ ही जानेंगे माइग्रेन में क्या होता है और माइग्रेन किस विटामिन की कमी से होता है.

Migraine Se Kya Hota Hai और माइग्रेन कितने प्रकार के होते हैं

साथ ही पोस्ट में जानेंगे की माइग्रेन के नुकसान, लक्षण, उपाय और माइग्रेन की टेबलेट कौन सी है. इन सब के बारे में इस पोस्ट में विस्तार से जानेंगे.

तो चलिए शुरू करते हैं Migraine Se Kya Hota Hai Article विस्तार में पढने से….

Migraine Kya Hota Hai

माइग्रेन एक तरह की समस्यां होती है जिसमे इंसान को अत्यधिक सर दर्द का अनुभव होता है. इसमें सर दर्द कम ज्यादा होता रहता है.

माइग्रेन कितने प्रकार के होते हैं

माइग्रेन कई तरह के हो सकते है जिनमे से कुछ यहाँ बताये गए है :

  • क्रोनिक माइग्रेन : तनाव पूर्ण सिरदर्द होता है. ये उन लोगो को होता है जो अत्यधिक मात्रा में दवाइयों का सेवन करते है.
  • मासिक धर्म माइग्रेन : यह केवल महिलाओ में होता है जो केवल मासिक धर्म के समय में होता है. लगभग 60 फीसदी महिलाओ को यह समस्यां होती है.
  • एब्डोमिनल माइग्रेन : इस तरह के माइग्रेन में आंत और पेट में समस्यां हो सकती है.
  • दृष्टि संबंधी माइग्रेन : यह क्लासिक माइग्रेन होता है इसमें नेत्र सम्बन्धी परेशानी जैसे ठीक से ना दिखना, रौशनी में आँखे चकाचोंध होना आदि.
  • दृष्टि रहित माइग्रेन : यह माइग्रेन का सामन्य प्रकार होता है. इसमें उलटी, मूड स्विंग के लक्षण देखने को मिलते है.
  • ऑप्टिकल माइग्रेन : ऑप्टिकल मिग्रने भी कहते है जिसमे केवल एक आँख पर असर पड़ता है.
माइग्रेन किस विटामिन की कमी से होता है

माइग्रेन की समस्यां किसी खास विटामिन की कमी से हो सकती है. माइग्रेन की समस्यां विटामिन बी 12 की कमी होने के कारण हो सकती है.

Migraine Me Kya Hota Hai

माइग्रेन में कई तरह की समस्यां हो सकती है. माइग्रेन में अत्यधिक सिरदर्द, मतली, उलटी, प्रकाश से संवेदनशीलता, पसीना आना, मूड स्विंग, एकाग्रता में कमी, पेट में दर्द आदि चीजे भी देखने को मिलती है.

Migraine Se Kya Hota Hai

माइग्रेन एक ऐसी समस्या होती है जिसमें अत्यधिक सिर दर्द का एहसास होता है. माइग्रेन की समस्यां एक तरह की सिरदर्द की समस्या होती है. माइग्रेन की समस्या में कई बार लोगों को सिर में झनझनाहट सा महसूस होता है. माइग्रेन की समस्या में एक बात खास होती है इसमें सिर के आधे हिस्से में दर्द होता हैं.

जिन लोगों को माइग्रेन की समस्या होती है उन लोगों को उल्टी मतली आवाज और प्रकाश से संवेदनशीलता हो जाती है. मैडम के मरीज को 4 घंटे से लेकर कई दिनों तक सर में तेज दर्द हो सकता है.

माइग्रेन की समस्या को सामान्यता अनुवांशिकी माना जाता है परंतु इस बीमारी का सही कारण क्या है इस बात का अभी तक पता नहीं लगाया जा सका है. दुनिया की लगभग 20 फीसदी आबादी माइग्रेन की समस्यां से ग्रसित है.

माइग्रेन का टेस्ट कैसे होता है

माइग्रेन की समस्यां के लिए किसी भी विशिष्ट प्रकार की जाँच नहीं होती है बल्कि आपको होने वाले लक्षणों के बारे में डॉक्टर को बताना होता है, फिर डॉक्टर लक्षणों के मुताबिक दवाई देते है. कभी-कभी इस समस्यां को ठीक होने में थोड़ा ज्यादा समय भी लग सकता है.

Migraine Se Hone Wale Nuksan

माइग्रेन से कई तरह के नुकसान भी हो सकते है जो इस प्रकार है :

  • नींद ना आ पाना.
  • पेट में दर्द होना.
  • ब्रेन स्ट्रोक का खतरा.
  • स्वास्थ्य से जुडी परेशानियां.
माइग्रेन के लक्षण और उपाय

माइग्रेन के लक्षण और उपाय कुछ इस प्रकार है :

माइग्रेन के लक्षण :

माइग्रेन के मुख्य लक्षण अत्यधिक सिर दर्द होता है. माइग्रेन का दर्द अत्यधिक कष्टदायक होता है जिससे आप सामान्य नहीं रह पाते है. माइग्रेन में आपको सिर दर्द सिर के दोनों ओर हो सकता है. इसके अलावा चेहरे और गर्दन में भी दर्द का एहसास हो सकता है.

इसके अलावा ओर भी कई लक्षण देखने को मिलते है :

  • चक्कर आना 
  • कब्ज 
  • बार-बार भूख लगना 
  • आँखों की रौशनी कम होना 
  • तनाव 
  • चिड़चिड़ापन
  • मूड स्विंग आदि.

माइग्रेन के उपाय :

  • खानपान पर विशेष ध्यान दें
  • अधिक देर तक AC में ना रहे
  • तेज गर्मी में से आकर सीधे ठंडा पानी ना पिए
  • चाय, काफी के अधिक सेवन से बचे 
  • हरी घास पर नंगे पांव चले
  • योग एवं कसरत करें 
  • डॉक्टर की सहायता ले 

Migraine Me Kya Khana Chahiye

माइग्रेन में आप कई तरह के फल और सब्जी का  सेवन कर सकते है जो हेल्थी होने के साथ-साथ माइग्रेन के लक्षणों को कम करने में मदद करते हैं :

  • हरी पत्तेदार सब्जियां
  • गाजर
  • फूलगोभी
  • सोयाबीन
  • फैटी फिश सैल्मन, ट्राउट्स, सर्डिन आदि
  • अदरक 
  • बीन्स 
  • ताजा फल 
  • नमकीन 
  • पालक 
  • पर्याप्त मात्रा में पानी पीना 
Migraine Me Kya Nahi Khana Chahiye
  • बीफ और चिकन 
  • प्याज 
  • खट्टे फल 
  • खट्टी गोभी 
  • पिज्जा 
  • फ्लेवर्ड क्रैकल
  • चॉकलेट 
  • ठंडा या बासी खाना 
  • नूडल्स, पास्ता आदि 

Migraine Ka Ilaj Kya Hai

माइग्रेन का इलाज पूरी तरह से मुमकिन नहीं है परन्तु इस समस्यां और इससे होने वाले लक्षणों को कम किया जा सकता है :

माइग्रेन का घरेलु इलाज :

  • दूध और गुड़ का सेवन करे.
  • अदरक का सेवन करे.
  • दालचीनी का सेवन करे.
  • लौंग का सेवन करे.
  • बर्फ से सिकाई करे.
  • सिर की मसाज एवं मालिश कर के.
  • पर्याप्त नींद लें.
  • अत्यधिक तेज रौशनी में जाने से बचे.
  • खान-पान में परिवर्तन कर के.
  • एक्यूप्रेशर
  • योग एवं कसरत कर के.
  • पर्याप्त मात्रा में पानी पिए.

माइग्रेन का इलाज :

  • दर्द निवारक औषधि जैसे पैरासिटामोल, इबुप्रोफेन आदि दवाएं माइग्रेन की समस्यां को कुछ हद तक कम कर देती है.
  • ट्रिपटाँस दवाएं 
  • एंटी-एमेटिक्स आदि.
Migraine Kaise Thik Hota Hai

माइग्रेन की समस्यां का पूरी तरह से इलाज या ठीक होना मुमकिन नहीं है पर इस समस्यां को काफी हद तक कम किया जा सकता है. माइग्रेन की समस्यां को कम करने के लिए आप कुछ तरीके अपना सकते है :

  • खान-पान में बदलाव : हरी पत्तेदार सब्जिया, फल, बीन्स, नट्स, फलियां आदि को डाइट में शामिल करे.
  • दैनिक दिनचर्या में बदलाव कर 
  • नियमित योग एवं कसरत के द्वारा
  • पर्याप्त नींद लेना 
  • गुड़ और दूध का सेवन करना 
  • पर्याप्त मात्रा में पानी पीना 
  • मालिश करना 
  • तेज धुप में जाने से बचना आदि.

Migraine Ke Liye Tablet

माइग्रेन के इलाज के लिए कई तरह की दवाये आती है. माइग्रेनेक्स 10 माइग्रेन की परेशानी के इलाज में इस्तेमाल होने वाली दवाओं में से एक है.

इसके अलावा एर्गोटेमाइन, डीहाईड्रोएरगोटामाइन, सुमाट्रिप्टान, रिज़ाट्रिपटन, फ्रोवाट्रिपटन, मेटोक्लोपरामाईड, डिफेनहाईड्रामाइन, डोमपेरीडॉन, प्रोपैनलोल, ऐमिट्रिप्टिलाइन आदि भी माइग्रेन के इलाज के लिए इस्तेमाल  की जाती है.

Migraine Ke Liye Yoga

माइग्रेन की समस्यां से बचने और दूर करने के लिए आप कई तरह के योग और प्राणायाम कर सकते है :

  • कटी परिवर्त्तनासन 
  • विपरीत करनी आसन
  • सेतु बंध सर्वांगासन
  • ध्यान 
  • मार्जर्यासन
  • पश्चिमोत्तानासन
  • अधो मुख श्वानासन
  • मकरासन आदि.
Migraine – FAQs 
Migraine Bimari Ke Lakshan

सिरदर्द, उलटी, पेट दर्द, मूड स्विंग, पसीना आना, भूख न लगना, आँखों से कम दिखना आदि.

Migraine Mein Kya Hota Hai

गर्दन दर्द, पेट दर्द, आँखों के निचे काले धब्बे होना, आँखों से ठीक से ना दिखना, चिड़चिड़ापन, नींद ना आ पाना, भूख में कमी, अत्यधिक तेज सिरदर्द आदि.

माइग्रेन में क्या खाना चाहिए

माइग्रेन में हरी पत्तेदार सब्जियां जैसे पालक, मैथी, भिंडी, गिलकी, करेला आदि, कई तरह के फल जैसे अनार, केला, लीची, गाजर, सेवफल आदि, सोयाबीन, बीन्स, फलिया, फूल गोभी आदि चीजों का सेवन माइग्रेन की समस्यां में किया जा सकता है.

Migraine Se Kaise Bache

पर्याप्त मात्रा में पानी पीना, भरपूर नींद लेना, तनाव न लेना, खान-पान और रोजमर्रा की दिनचर्या में बदलाव करना, नियमित योग और कसरत करना, फल एवं हरी पत्तेदार सब्जियां खाना आदि.

Migraine Se Kya Khatra Hai

माइग्रेन की समस्यां से ब्रेन स्ट्रोक का खतरा बढ़ जाता है, इसके अलावा स्वास्थ्य से जुडी परेशानिया होना,आँखों की रौशनी कम होना या खराब होना जैसी गंभीर और घातक समस्यां होने का खतरा भी बढ़ जाता है.

Migraine Ki Tablet

माइग्रेन की कई तरह की दवाई होती है. जिनमे से एमोविग (aimovig) एक है. साथ ही एर्गोटेमाइन, डीहाईड्रोएरगोटामाइन, सुमाट्रिप्टान, माइग्रेनेक्स 10 आदि भी माइग्रेन की समस्यां की दवाएं है.

उम्मीद करते है आपको हमारी यह पोस्ट Migraine Se Kya Hota Hai और माइग्रेन कितने प्रकार के होते हैं पसंद आई होगी.

अगर आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया है तो इसे ज्यादा से ज्यादा लोगों के साथ शेयर कर दीजिए और इस आर्टिकल से जुड़ा कोई भी सवाल हो तो उसे आप नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट कर के पूछ सकते हैं.

Questions & Answer:
Dengue Ke Gharelu Upay - डेंगू का घरेलू इलाज

Dengue क्या है, कैसे होता है, लक्षण, घरेलु उपाय, देसी इलाज़, Treatment

Health
Kesar Se Kya Hota Hai और Kesar Ke Fayde Aur Nuksan

Kesar से क्या होता है – केसर की तासीर, कीमत, फायदे और नुकसान

Kya Kaise
Ct Scan Se Kya Hota Hai और Ct Scan Kaise Kiya Jata Hai

CT Scan से क्या होता है, कैसे किया जाता है, खोज किसने की, फायदे नुक्सान

Health
Author :
प्रिये पाठक, आपका हमारी वेबसाइट Lipibaddh.com पर स्वागत है, इस वेबसाइट का काम लोगों को हिंदी भाषा में देश, विदेश एवं दैनिक जीवन में काम आने वाली जरुरी चीजों के बारे में जानकरी देना है.
Questions Answered: (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *