नीम के पत्ते खाने से क्या होता है – फायदे और नुकसान, उपयोग, Face – Skin

इस Article की मदद से हम जानेंगे की Neem Ke Patte Khane Se Kya Hota Hai और Neem Ke Patte Ke Fayde Aur Nuksan तथा नीम के उपयोग, Neem Ke Patte Ke Fayde for Face, Skin की पूरी जानकारी इस पोस्ट में विस्तार से जानेंगे. 

Neem Ke Patte Khane Se Kya Hota Hai और Neem Ke Patte Ke Fayde Aur Nuksan

Neem Ke Patte Khane Se Kya Hota Hai

निम् जिसे चमत्कारी जड़ी बूटी के रूप में जाना जाता है. इसका हर हिस्सा औषधीय उपचार में काम आता है. नीम के पत्ते खाने से रक्त की सफाई होती है. शरीर से किसी भी जहरीले तत्व को बाहर निकलने में मदद करता है. नीम के पत्तो के सेवन से शरीर में फंगस, वायरस, बैक्टीरिया से लड़ने की क्षमता आती है. नीम के पत्तो में एंटी कैंसर गुण भी होते है.

निम् के पत्तो के सेवन से कुष्ट रोग का इलाज भी होता है. इसके इस्तेमाल से नेत्र विकार, नकसीर, आतो की खराबी, पेट के विकार, भूख न लगना, त्वचा का अलसर, ह्रदय और रक्त वाहिकाओ के रोग, बुखार, मधुमेह, मसुडो की बीमारी, और जिगर के रोग ठीक किये जाते है.

Neem Ke Patte Ke Fayde

नीम के पत्तो से फायदे –

  1. नियमित रूप से नीम के पत्तो का सेवन करने से रोग प्रतिरोधक क्षमता बढती है.
  2. रोज सुबह खाली पेट नीम के पत्तो के सेवन से पेट के विकार दूर होते है.
  3. नीम के पत्तो का उपयोग दवाई के रूप में भी किया जाता है.
  4. नीम के पत्तो से सर की त्वचा स्वस्थ रहती है.
  5. नीम के पत्तो का पेस्ट बनाकर बालो में लगाने से बालो से जुडी समस्या दूर होती है. बाल घने और मजबूत बनते है.

Neem Ki Patti Khane Ke Fayde Aur Nuksan

नीम की पत्ती खाने के फायदे और नुकसान –

नीम की पत्ती खाने के फायदे –

  1. नीम की पत्ती को सुबह खाली पेट खाने से रक्तचाप नियंत्रित रहता है.
  2. कच्चे नीम का सेवन रोज सुबह करना त्वचा और शरीर दोनों के लिए फायदेमंद होता है.
  3. नियमित रूप से नीम के पत्तो का सेवन करने से रक्त शुद्ध होता है. और हिमोग्लोबिन का स्तर भी बढ़ता है.
  4. नीम की पत्ती खाने से शरीर की सुजन कम होती है और यह वसामय ग्रंथियों पर भी नियंत्रण रखती है.
  5. खाली पेट नीम के पत्ते खाने से बाल लम्बे घने और मजबूत कोमल बनते है.
  6. नीम की पत्तियों में कैंसररोधी गुण होते है. जिससे आपको कैंसर का खतरा बहुत कम हो जाता है.

नीम की पत्ती खाने के नुकसान –

नीम की पत्तियों से सेवन के कोई बड़ी हनी नही होती है पर कुछ परिस्थितियों में विपरीत परिणाम हो सकते है.

  1. नीम की पत्तियों की अनियमित और बड़ी खुराक लीवर और किडनी पर नकारात्मक प्रभाव डालती है.
  2. जो महिलाये गर्भवती है उनको नीम के पत्तो के प्रयोग से बचना चाहिए क्योकि यह गर्भनिरोधक के रूप में कम करती है.
  3. स्तनपान करने वाली महिलायों और बच्चो को भी नीम से दूर रहना चाहिए, इससे उल्दी, दस्त आदि की समस्या हो सकती है.
  4. नीम के पत्तो के आवश्यकता से अधिक उपयोग से मासिक धर्म से सम्बंधित ससमस्या भी हो सकती है.
  5. नीम की पत्ती का जरुरत से ज्यादा सेवन करना आपके इम्युनिटी सिस्टम को उतेजित करता है.

नीम के पत्ती के फायदे Skin Ke Liye

नीम के पत्ती के फायदे त्वचा के लिए –

  1. नीम के पत्तो का उपटन बना कर त्वचा में लगाने से त्वचा कोमल होती है.
  2. यदि त्वचा में कोई इन्फेक्सन हो तो नीम की पत्ती को पिस कर लगाने से ठीक हो जाता है.
  3.  नीम के पत्तो का अनुपातिक सेवन त्वचा संक्रमण से लडने में मदद करता है. यह खुजली, दाद, मुहासे से छुटकारा दिलाता है.
  4. गर्मी और मानसून में नीम का उपयोग काफी फायदेमंद होता है यह तैलीय त्वच, रोमछिद्र, ब्लैकहेड्स की समस्या को दूर करता है.
  5. नीम के पत्ते बालो की त्वचा के लिए भी बहुत उपयोगी होते है यह बालो की त्वचा को साफ और स्वस्थ रखते है और उन्हें मजबूत बनाते है.

Neem Ka Patta Khane Se Kya Hota Hai

नीम का पत्ता खाने से शरीर के बहुत से विकार दूर होते है. नीम के पत्तो में ऐसे रसायन की खान है जो रक्त शर्करा के स्तर को कम करने , पाचन में अलसर को ठीक करने, बैक्टीरिया को मरने और मुह में प्लाक  के निर्माण को रोकने में मदद करते है.

शोध बताता है की नीम के पत्तो का अर्क दातों मसुडो पर 6 सप्ताह लगाने से प्लाक की समस्या से छुटकारा मिलता है.यह मुह के बैक्टीरिया को भी कम करता है. और मसुडो के सुजन को भी कम करता है.

नीम के पत्तो का उपयोग कीटनाशक के रूप में भी किया जाता है और साप के काटने पर भी औषधीय के रूप में इस्तेमाल में लाया जाता है.

Neem Ke Patte Ke Fayde for Face

चहरे के लिए नीम के पत्ते के फायदे –

  1. नीम के उपयोग से चहरे के किल मुहासे ठीक होते है.
  2. यदि आप नीम से बना उपटन चहरे पर लगते है तो आपका चहरा दमकने लगता है.
  3. यदि आपको चहरे से सम्बन्धित कोई इन्फेक्सन है तो निम के पत्ते का उपयोग कर वह ख़त्म किया जा सकता है.
  4.  नीम के पत्ते के उपयोग से चहरे के दाग धाब्बे कम होते है. यह एंटी एजिंग गुणों से भरपूर होता है.
  5. नीम के फेस पैक का उयोग करने से झुरिया कम होती है. और यह बढती उम्र के प्रभाव को कम करता है.

Nim Ke Patte Ke Fayde

नीम के पत्ते के फायदे –

  1. नीम के पत्ते स्क्लेप के लिए भी बहुत फायदेमंद होता है यह स्वस्थ और साफ स्क्लेप का पोषण करता है.
  2. नीम के पत्ते एंटी फंगस गुणों से भरपूर होते है जो सर की त्वचा से जुए और संक्रमण को ख़त्म करने में मदद करते है.
  3. निक के पत्ते खाने और लगाने से शरीर को प्राकतिक तेल का पोषण मिलता है.
  4. नीम के पत्तो को अच्छा जड़ी बूटी माना जाता है यह फ्लू और बुखार जैसे संक्रमण को नियंत्रण में रखता है.
  5. नीम आपके पाचन तंत्र को स्वस्थ बनता है जो पोषक तत्वों के अवशोशन में सुधार करता है.

Neem Ke Patte Ka Upyog

निम के पत्ते का उपयोग बहुत  प्रकार से किया जाता है.निम् एक ऐसा पेड़ है जिसकी ताने, पत्तिया, बिज सभी औषधियों का काम करते है. इसकी पत्तियों का इस्तेमाल दवा बनाने में किया जाता है.

गाव में लोग इसके ताने से दातुन करते है. बहुत से लोग इसके कडवाहट के कारण इसे पसंद नही करते है. पर आयुर्वेद ने इसके चौकाने वाले फायदे बताए है. रोज सुबह खाली पेट निम् के पत्ते खाने से रोग प्रतिरोधक क्षमता बढती है और शरीर के विकार भी दूर होते है.

Neem Ki Patti Khane Se Kya Hota Hai

नीम की पत्ती खाने से सेहत और त्वचा सेहतमंद होती है. सुबह खाली पेट नीम के पत्ते खाने से पाचन क्रिया भी ठीक रहती है. यदि आप सुबह नीम के पत्तो का सेवन करते है तो दिन भर उर्जावान महसूस करेगे.

नीम हमारे शरीर के बहुत से विकारो को दूर करता है. हमारी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ता है. नियमित रूप से नीम के पत्तो का सेवन करने से मुह और मसुडो की समस्या दूर होती है.

नीम के पत्ती से शत्रु का विनाश

नीम का उपयोग टोटको के लिए भी किया जाता है. नीम के पत्तो की पूजा आदि में भी मान्यता बहुत होती है. माना जाता है और कुछ बाबाओ द्वारा बताया और मगाया जाता है नीम का पत्ता जिससे की आपके शत्रु का विनाश किया जा सके या अहित किया जा सके.

इसके अंतरगत विशेष प्रकार की पूजा होती है जिसमे कुछ विशेष सामान के साथ साथ नीम के पत्ते का उयोग किया जाता है. तो शत्रु के विनाश के लिए नीम के पत्ती का उपयोग किया जाता है.

नीम के पत्ते खाने से क्या होता है

नीम के पत्ते खाने से ये फायदे होते है –

  1. नीम के पत्ते एथेनाल से भरपूर होता है जो बहरी रोगजनिको  से लडने में मदद करता है.
  2. नीम के पानी का रोज सेवन करने से अंदरूनी घावो को भरने में मदद मिलती है जिससे आप कम बीमार पड़ते है.
  3. नीम के पत्तो में जीवाणु रोधी गुण होते है जो मसुडो में कैवेटी को बढने से रोकते है.
  4. नीम के पत्तो को चबाने से सासों की दुर्गन्ध दूर होती है और आपके दातों को भी प्राकृतिक रूप से सफेद बनती है.
  5. नीम के पत्ते मधुमेह के रोगियों के लिए बहुत फायदेमंद होते है यह मधुमेह को नियंत्रित करते है.

नीम के पत्ते खाने के नुकसान

नीम के पत्ते खाने के नुकसान –

  1. नीम के पत्तो का अनियमित और अधिक सेवन किडनी को नुकसान पंहुचा सकता है.
  2. यदि आप बड़ी मात्रा में नीम की पत्तियों का सेवन करते है तो आपके पेट में जलन हो सकती है.
  3. ज्यदा नीम के पत्तो के इस्तेमाल से त्वचा की एलर्जी भी हो सकती है.
  4. बहुत अधिक मात्रा में नीम के पत्ती का सेवन करने से ब्लड शुगर का स्तर बिगढ़ सकता है.
  5. यदि आपकी किसी प्रकार की दवाई चल रही है तो आपको डॉ की सलह से ही नीम का सेवन करना चाहिए. अन्यथा इसके दुस्परिनाम हो सकते है.

उम्मीद करते है आपको हमारी यह पोस्ट Neem Ke Patte Khane Se Kya Hota Hai और Neem Ke Patte Ke Fayde Aur Nuksan पसंद आई होगी.

अगर आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया है तो इसे ज्यादा से ज्यादा लोगों के साथ शेयर कर दीजिए और इस आर्टिकल से जुड़ा कोई भी सवाल हो तो उसे आप नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट कर के पूछ सकते है.

Questions & Answer:
Red Bull Se Kya Hota Hai - Red Bull Peene Ke Fayde Or Nuksan

Red Bull से क्या होता है – Red Bull पीने के फायदे और नुकसान

Kya Kaise
Slate Pencil Se Kya Hota Hai और Slate Pencil Kaise Banti

Slate Pencil खाने से क्या होता है, चौक कैसे बनता है, फायदे नुक्सान

Kya KaiseHealth
Papita Khane Se Kya Hota Hai और Papita Khane Ke Fayde Aur Nuksan

Papita खाने से क्या होता है – पपीता की तासीर, उपयोग, फायदे और नुकसान

Kya Kaise
Author :
प्रिये पाठक, आपका हमारी वेबसाइट Lipibaddh.com पर स्वागत है, इस वेबसाइट का काम लोगों को हिंदी भाषा में देश, विदेश एवं दैनिक जीवन में काम आने वाली जरुरी चीजों के बारे में जानकरी देना है.
Questions Answered: (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *