Padhai का अविष्कार किसने किया – पढाई में मन लगाने के उपाय,सही समय क्या है

इस Article की मदद से हम जानेंगे की Padhai Ka Avishkar Kisne Kiya और Padhai Me Man Lagane Ke Upay और पढाई करने का सही Time क्या है,पढाई कैसे करे, पढाई करने का सही तरीका,पढाई से जुडी पूरी जानकारी इस पोस्ट में विस्तार से जानेंगे. 

Padhai Ka Avishkar Kisne Kiya और Padhai Me Man Lagane Ke Upay

Padhai Ka Avishkar Kisne Kiya

पढाई का अविष्कार किसी इंसान ने नही किया. पढाई करना तो कई हजारो वर्षो पूर्व हमारे ऋषि मुनियों ने शुरू किया था. तब गुरुकुल हुआ करते थे. वे अपने शास्त्रों, सभ्यताओ को आने वाली पीढ़ी तक पहुचने के लिए तथा चिकित्सा, युद्ध आदि का प्रशिकक्षण देने के लिए पढ़ते और पढाई करवाते थे.

Padhai Me Man Lagane Ke Upay

पढाई में मन लगाने के उपाये –

  1. समय सारणी बनाये – अगर आपका मन पढाई में नही लगता है तो सबसे पहले समय सारणी तैयार करे और सारे विषय को थोड़े थोड़े देर पढ़े इससे उस विषय में आपकी रूचि बढ़ेगी और आप बोर भी नही होगे.
  2. प्रतियोगिता – अपने कक्षा में सहपढ़ियो से प्रतियोगिता करे जिससे उनसे जितने की इच्छा में पढाई में ज्यादा ध्यान दे पायेगे.
  3.  प्रेरित होना – अगर आप किसी पद या किसी व्यक्ति से प्रेरित होते है या कोई आपका आदर्श होता है तो उसके जैसा बनने के लिए आप मेहनत करने लगते है और और पढाई में आपका मन लगने लगता है.
  4. नकारात्मक विचार – अगर पढाई में मन लगाना है तो नकारात्मक विचारो का त्याग कर दे. अगर आप परीक्षा से भयभीत होगे तो जितनी मेहनत करेगे उसके अनुरूप परिणाम नही पायेगे.
  5. एकाग्रता – जब भी पढने बैठे तो एकाग्र होकर बैठे और केवल अपने विषय पर ध्यान क्रन्द्रित करे. कोशिश करे की किसी शांत जगह पर पड़े और उस समय टीवी, मोबाईल आदि आपसे दूर रहे जिससे आपका ध्यान न भटके.

Padhai Ka Mahatva

पढाई बहुत ही महत्वपूर्ण है. यह आपके और आपके व्यक्तित्व विकास के लिए आवश्यक है. बिना पढाई के व्यक्ति अधुरा होता है. पढाई करने के आपके अंदर आत्मविश्वास आता है. वर्तमान समय में जीवन व्यापन के लिए पढाई बहुत जरुरी है. जो लोग पढाई करते है उनको समाज में आदर भी मिलता है. पढाई सामान्य जीवन को अच्छे से चलने के साथ साथ किसी ऊचे और अच्छे पद पर पहुचने के लिए भी बहुत मदद करती है. पढाई करने से दिमाग का भी विकास होता है.

Padhai Ka Matlab

पढाई का मतलब ज्ञान अर्जित करने से है. ज्ञान जिसके माध्यम से आप आत्मनिर्भर बनते है, आपके अन्दर आत्मविश्वाश आता है, व्यवाहरिकता आटा है. पढाई के दो स्तर होते है. पहला सामान्य और दूसरा विशिष्ट.

सामान्य पढाई वो होती है जो सबके लिए समान होती है और जीवन व्यापन के लिए महत्वपूर्ण होती है. जैसे 12 वी तक की पढाई सबके लिए सामान होती है. यहा तक पढने के बाद व्यक्ति के बुध्धि का विकास हो जाता है और वह आने वाले भविष्य के लिए तैयार हो जाता है.

विशिष्ट पढाई की शुरुआत 12 वी के बाद होती है. तब विधायर्थी अपने विवेक का उपयोग कर के भविष्य के लिए अपना रास्ता चुनता है. जैसे उसे भविष्य में क्या करना है, क्या बनना है. विशिष्ट पढाई में आप किसी आप अपने रूचि के विषय को लेकर आगे बढ़ते है. जैसे वाणिज्य विषय लेकर लेखापाल, गणित लेकर इंजीनियर, विज्ञानं लेकर वैज्ञानिक या डॉ, कला लेकर सरकारी नौकरी, फैशन डिजानर आदि.

Padhai Karne Ka Sahi Time

मेरे हिसाब से जिस समय आपको पढने का मन हो और आपका मन करे पढाई करने का वही समय पढाई करने का सही समय होता है. पर बुजुर्गो द्वारा हमेशा सुनने मिला है और शोध से यह भी पता चला है की पढाई करने का सही समय सुबह का होता है. जो लोग सुबह जल्दी उठ कर पढाई करते है उन्हें चीजे लम्बे समय तक याद रहती है और वे जल्दी सीखते है. इसका करण यह है की सुबह जब हम उठते है तो हमारा दिमाग फ्रेश होता है और शरीर रिलेक्स होती है.

Padhai Ki Khoj Kisne Ki

पढाई की खोज किसी के द्वारा नही की गयी है. जैसा की कहा  जाता है “आवश्यकता ही अविष्कार की जननी है.” सदियों पूर्व हमारे ऋषि मुनियों ने अपने ज्ञान, प्रशिकक्षण आदि को आने वाले पीढ़ी तक पहुचने के लिए गुरुकुल की स्थापना की और पढाई का विस्तार किया. ताकि समाज का संचालन उचित रूप से किया जा सके.

Padhai Me Concentrate Kaise Kare

पढाई में ध्यान केन्द्रित करने के ये उपाय हो सकते है –

  1. पढने का तरीका – पढाई में ध्यान केन्द्रित करने के लिए आपके पढाई करने का तरीका बहुत महत्वपूर्ण होता है. आप सदेव जमीन पर या कुर्सी और मेज पर ही पढाई करे. आदि आप बिस्तर पर पढाई करते है तो आपको नींद आ सकती है. जिससे समय व्यर्थ होगा.
  2.  कुछ भी छोड़े न – आप अपनी पुस्तक का सारा अध्याय अच्छे से पढ़े कुछ भी छोड़े न, जिससे आपको जानकारी अच्छे से हो और पुस्तक पूरा ख़त्म करने के बाद उसका दुबारा अध्यन करे जिससे वह आपको याद रहे ये प्रकिया हर महीने दुहराते रहे.
  3. अनुभव – किसी भी क्षेत्र में अनुभव बहुत मदद करता है अपने बड़ो से या शिकक्ष के बताई बातो को ध्यान से सुने और उनके अनुभव के अनुसार अपनी पढाई को बेहतर बनाते रहे. जब आप अपने ऊपर काम करना शुरू करेगे तो आपका ध्यान अपने आप पढाई में केन्द्रित होने लगेगा.
  4. समय सारणी – पढाई के लिए समय सारणी का होना जरुरी है. और उसका सही से पालन करना भी जरूरी है. सारे विषयों को बराबर समय दे और बिच बिच में 5 से 10 मिनट का ब्रेक जरुर ले.
  5. अनुसाशन – अच्छे से पढने के लिए अनुसाशन का होना बहुत जरूरी है. आप रोज अपने समय पर पढने बैठ जाये और स्वयं ही पढाई के लिए प्रेरित हो. आपसे किसी को कुछ कहने की आवश्यकता नही पढनी चाहिए.

Padhai Me Dhyan Kaise Lagaye

पढाई में ध्यान लगाने के उपाय –

  1. आप कितना ध्यान देकर पढाई करते है है आपके परिवेश और वातावरण पर निर्भर करता है. इसलिए किसी अच्छी जगह का चुनाव करे.
  2. पढाई में ध्यान लगाने के लिए  ऐसे स्थान पर पढने बैठे जहा शांत वातावरण हो.
  3. पढाई करते समय ध्यान दे की न तो ज्यादा गर्मी हो न ठंडी, जिससे आपका मन विचलित न हो.
  4. पढाई करने के लिए किसी टेबल या कुर्सी पर हो बैठे. बिस्तर में बैठ कर पढाई न करे, इससे आपको नींद आ सकती है.
  5. ध्यान रहे की आपके पास पढाई से सम्बन्धी किताबे और सामान पास हो बार बार उठाना न पड़े, तभी ध्यान से पढ़ पायेगे.

Padhai Kaise Kare

पढाई इस प्रकार करे –

  1. कुछ लोग पढाई करते समय गाना सुनते है, ऐसा करने से आपका ध्यान भटक सकता है तो पढाई से ब्रेक लेकर आप गाने सुने जिससे आपका दिमाग रिफ्रेश हो सके.
  2. जब पढाई शुरू करे तो परिवार में सब से कह दे की कोई आपको डिस्टर्ब न करे जिससे आप पढाई में पूरा ध्यान दे पायेगे.
  3. पढाई को अपना नियमित कार्य माने और योजना बनाये की कब, क्या और कैसे पढना है.
  4. रोज पढाई के लिए समय सरणी तैयार करे और उसके अनुसार पढाई करे.
  5. हमेशा खुद को पढाई करने के लिए उत्साहित करते रहे. किसी को अपना प्रेरणा स्वरूप माने और उसके जैसा बनने के लिए मेहनत करे.

Padhai Kaise Karte Hain

पढाई इस प्रकार करते है –

  1. 45 मिनट से ज्यादा लगातार न पढ़े और बिच बिच में 5 से 10  मिनट का ब्रेक लेते रहे.
  2. ध्यान रखे की आपको जब पढाई करना अच्छा लगे, आसानी हो उसी के अनुसार समय सरणी बनाये.
  3. जो चीजे पढाई के आपका ध्यान भटका सकती है उन्हें दूर रखे जैसे टेलीविजन, मोबाईल आदि.
  4. ज्यादातर समय पढाई को दे क्योकि आप जहा ज्यादा समय बितायेगे आपकी रूचि वही ज्यादा होगी.
  5.  जो भी पढ़े उसे अच्छे से और ध्यान से पढ़े. उससे सीखे और समझे, जिससे वह आपको हमेशा याद रहे.

Padhai Me Man Kaise Lagaye

पढाई में मन इस प्रकार लगाये –

  1. पढाई में मन लगाने के लिए लक्ष्य निधारित करे और उसे प्राप्त करे, इससे आपका मन पढाई में लगने लगेगा.
  2.  अपनी मेहनत और छोटी छोटी सफलताओ के लिए खुद को साबशी दे और उससे प्रेरणा लेकर और मेहनत करे.
  3. हमेशा सकारात्मक सोचे और खाली समय में उत्साहवर्धक किताबे पढ़े.
  4. जो भी पढ़े उससे समझे जरुर और समझ न आये तो किसी की मदद ले.
  5. पढाई के बारे में अपने विचरो को अपने शिक्षक, परिवार, दोस्तों से साझा जरुर करे और बेहतर करने की कोशिश करे.

Padhai Jivan Ka Aadhar Hai

बिलकुल सही बात है की पढाई जीवन का आधार है. पढाई से ही हम सीखते है की जीवन को जीना कैसे है. पढाई कर के हम आत्मनिर्भर बनते है. दिमाग का विकास होता है, अपनी जीविका कैसे चलानी है ये तय कर पाते है. आगे जीवन में क्या करना है ? क्या बनना है ? यह सब हम पढाई से ही सीखते है. तो हम कह सकते है की पढाई जीवन का आधार है.

Padhai Me Man Na Lage to Kya Kare

अगर आपका मन पढाई में नही लगता तो यह करे –

  1. पढाई में मन लगाने के लिए अनुशासन का होना बहुत जरुरी है. शुरू में आपका मन न भी लगे पर आप रोज अपने समय सरणी का पालन करे धीरे धीरे आपका मन पढाई में लगने लगेगा.
  2. जब आपको लगे की आपका ध्यान पढाई से भटक रहा है तो उसे रोके और दुबारा पढाई में लगाये.
  3. पढाई को बोझ समझ कर न पढ़े, उसे इंजॉय करे. धीरे धीरे आपका मन पढाई में लगने लगेगा.
  4. अपनी गलतियों को पहचने और उसमे सुधार करे जब परिणाम अच्छे आयेगे तो मन पढाई में लगने लगेगा.
  5. लगातार बहुत देर तक पढाई न करे बिच में ब्रेक ले जिससे आपका दिमाग ताजा हो सके.

Padhai Me Man Nahi Lagta

पढाई में मन नही लगता तो यह उपाय करे –

  1. लगातार पढाई न करे इससे पके दिमाग में कुछ नही जायेगा. थोडा समय परिवार के साथ बीते. जिससे दिमाग ताजा हो सके.
  2. लगातार एक ही विषय को न पढ़े इससे आप बोर हो जायेगे, एक के बाद दुसरे विषय को भी समय दे.
  3. अपने पढाई के तरीके को हमेशा बेहतर करने की कोशिश करे.
  4. अपनी प्रगति को देखे और खुद को साबशी दे.
  5. आने लिए लक्ष्य बनाये और उन्हें पूरा करे.

Padhai Me Tej Kaise Bane

पढाई में तेज बनने के लिए –

  1. पढाई में तेज बनने के लिए अपने समय सरणी का कठोरता से पालन करे.
  2. अपने आप से सवाल करे की मै अपनी पढाई में सुधार लाने के लिए और क्या कर सकता हु.
  3. सबका शरीर अलग अलग होता है कुछ लोग रात में पढने में अच्छे होते है कुछ दिन में. आप अपने को समझे और जो समय आपको अच्छा लगे उसमे पढ़े.
  4. पढाई में तेज बनने के लिए आपको अच्छे से सोना जरुरी है. जब हम नींद पूरी करते है तो शरीर हार्मोन रिलीज करता है. शरीर को भी आराम मिलता है और हम अच्छे से पढाई पर ध्यान दे पते है.
  5. पढाई के लिए स्वस्थ दिमाग की जरुरत होती है और दिमाग के स्वस्थ रहने के लिए शरीर का स्वस्थ रहना भी जरुरी है तो शरीर को स्वस्थ रखने के लिए हमारा पौष्टिक आहार लेना भी जरूरी है.

Padhai Chal Rahi Hai

पढाई चल रही है से तात्पर्य है की वर्तमान में व्यक्ति विद्यारत है. वह अभी पढाई कर रहा है. हो सकता है की वह स्कूल में हो या हो सकता है की वह कोलेज में हो. और उसकी पढाई चल रही हो.

Padhai Jaruri Hai

पढाई बहुत जरुरी है. अज कल के समय में पढाई बहुत ही जरुरी है. इसलिए माता पिता और सरकार भी कोशिश कर रही है की पढाई घर घर तक गॉव तक पहुचे. शिक्षा हर व्यक्ति का अधिकार है. वर्तमान में प्रतियोगिता इतनी बढ़ चुकी है की बिना पढाई के समय के साथ चल पाना संभव नही है. रोज कुछ नया अविष्कार हो रहा है. नई तकनीक आ रही है. जिसका उपयोग कर के ही आगे बढ़ सकते है. और आगे बढने के लिए, जीवन को अच्छे से चलाने के लिए, किसी अच्छे पद तक पहुचने के लये, समाज में मान सम्मान पाने के लिए पढाई जरूरी है.

Padhai Karne Ka Asan Tarika

मेहनत करना कभी भी आसान नही होता है. ह पर जब हम अपनी मेहनत को इंजॉय करने लगते है तो वह आसन लगने लगता है और सफलता निश्चित हो जाती है. अच्छे से पढाई कनरे के ये तरीके हो सकते है –

  1. पढाई करने का आसन तरीका यही है की जब आपको सुविधा हो तब पढाई करे.
  2. पढाई करते समय ध्यान दे की आपकी नींद पूरी हो और पेट खाली न हो जिससे आपको डिस्टर्ब न हो.
  3. पढाई को इंजॉय करे, रोज पढने बैठेगे तो पढना आसन लगने लगेगा.
  4. समय सरणी बना कर पढ़े जिससे टॉपिक ख़त्म होते जायेगे और आपको परीक्षा में आसानी होगी.
  5. जिस विषय में कठिनाई हो उसे अपने परिवार, शिक्षक, या दोस्तों से समझे, परेशान न हो.

Padhai Karne Ka Sahi Tarika

पढाई करने का आसन तरीका ये रहा –

  1. पढाई करते समय और कोई काम न करे, सिर्फ पढाई करे.
  2. पढाई को आसन बनाने के लिए रोज पढाई को समय दे.
  3. पढाई को आसन बनाने के लिए योगना बना कर पड़े.
  4. जब आपको सब समझ में आने लगता है तो चीजे आसान लगने लगती है, इसलिए समझ समझ कर पढ़े.
  5. स्वस्थ प्रतियोगिता का हिस्सा बने, क्योकि जब आप प्रितियोगिता में शामिल होगे तो ज्यादा मेहनत करेगे और धीरे धीरे पढाई आपके लिए आसन हो जाएगी.

Padhai Karne Ka Sahi Time Kya Hai

जिस समय आपका मन लगे वही पढाई करने का सही समय है. परन्तु सुबह के समय पढाई करना हमेशा से पढाई का सही समय माना जाता है. क्योकि सुबह हमारा दिमाग फ्रेश होता है और सभी विषय को जल्दी समझता है. और जो हम सुबह याद करते है वह हमें लम्बे समय तक याद रहता है.

Padhai – FAQs
Padhai Ki Spelling

पढाई को अध्ययन या पाठन भी कहते है. और इंग्लिश में पढाई की स्पेलिंग Sturdy है.

उम्मीद करते है आपको हमारी यह पोस्ट Padhai Ka Avishkar Kisne Kiya और Padhai Me Man Lagane Ke Upay पसंद आई होगी.

अगर आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया है तो इसे ज्यादा से ज्यादा लोगों के साथ शेयर कर दीजिए और इस आर्टिकल से जुड़ा कोई भी सवाल हो तो उसे आप नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट कर के पूछ सकते है.

Questions & Answer:
Butterfly Ghar Mein Aane Se Kya Hota Hai और शरीर पर तितली बैठने से क्या होता है

Butterfly घर में आने से क्या होता है – शरीर पर तितली बैठने से क्या होता है

Kya Kaise
मैनफोर्स खाने से क्या होता है और मैनफोर्स टेबलेट के नुकसान

Manforce खाने से क्या होता है – सही समय, तरीका, असर, फायदे और नुकसान

Kya Kaise
Liver Kharab Hone Se Kya Hota Hai और Liver Infection Ke Lakshan 

Liver ख़राब होने से क्या होता है, Infection के लक्षण, फैटी लीवर के नुकसान

Health
Author :
प्रिये पाठक, आपका हमारी वेबसाइट Lipibaddh.com पर स्वागत है, इस वेबसाइट का काम लोगों को हिंदी भाषा में देश, विदेश एवं दैनिक जीवन में काम आने वाली जरुरी चीजों के बारे में जानकरी देना है.
Questions Answered: (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *