Polytechnic करने से क्या होता है- पॉलीटेक्निक के फायदे और नुकसान,Fees

इस Article की मदद से हम जानेंगे की पॉलीटेक्निक करने से क्या होता है और पॉलीटेक्निक करने के क्या फायदे और नुकसान होता है तथा Polytechnic में क्या होता है, Polytechnic कैसे करते हैं, Polytechnic की पूरी जानकारी इस पोस्ट में विस्तार से जानेंगे. 

पॉलीटेक्निक करने से क्या होता है और पॉलीटेक्निक करने के क्या फायदे और नुकसान

Polytechnic Me Kya Hota Hai

पॉलिटेक्निक में क्या होता है: पॉलीटेक्निक में आपको इंजीनियरिंग कोर्स करवाये जाते है जैसे कि सिविल इंजीनियरिंग, मेकैनिकल इंजिनीरिंग, इलेक्ट्रॉनिक इंजीनियरिंग अथवा इलेक्ट्रिक इंजीनियरिंग और अन्य कई तरह के कोर्स करवाये जाते हैं.

Polytechnic Ka Matlab

पॉलिटेक्निक का मतलाब: पॉलीटेक्निक का यह मतलब होता है की इंजीनियरिंग में डिप्लोमा पाना. यह कोर्स 10 क्लास और 12 क्लास के बाद किया जाता हैं. और यह काफी पॉपुलर कोर्स माना जाता है. इस कॉर्स के अंतर्गत जूनियर इंजीनियर तैयार किये जाते है. और आप पॉलीटेक्निक का कोर्स कर ले तो इसके बाद बी.टेक कोर्स कर सकते हैं.

Polytechnic Karne Se Kya Hota Hai

पॉलिटेक्निक करने से क्या होता है: पॉलीटेक्निक करने से आपको इंजीनियरिंग में डिप्लोमा प्राप्त हो जाता है. और आपको इसमे के कोसे करने को मिलते है जैसे कि सिविल इंजीनियरिंग, मेकैनिकल इंजिनीरिंग, इलेक्ट्रॉनिक इंजीनियरिंग अथवा इलेक्ट्रिक इंजीनियरिंग और इससे आप जूनियर इंजीनियर बन सकते हैं.

Polytechnic Kaise Karte Hain

पॉलिटेक्निक कैसे करते हैं: आज हम आपको बताएगे की पॉलीटेक्निक कैसे करते हैं. सबसे पहले आपको 10 क्लास को पास करना पड़ेगा उसके बाद आपको पॉलीटेक्निक के लिए एंट्रेंस एग्जाम देने पडेगी और फिर उसमें अच्छी रैंक लाने पड़ेगी. फिर आपको कॉउंसलिंग के लिए अप्लाई करना पडेगा और कॉलेज चुनना पड़ेगा. यहां सब होने के बाद आपको इनट्रंशिप करनी चाहिए.

Polytechnic Ki Fees Kitni Hai

पॉलिटेक्निक की फीस कितनी है: पॉलीटेक्निक की फीस सरकारी स्कूलों में कम रहती है और प्राइवेट स्कूलों में बहुत अधिक होती है.

पॉलीटेक्निक के लिए सरकारी कॉलेजों की फीस लगभग 20,000 से लेकर 30,000 तक होती है. और प्राइवेट कॉलेजों की फीस इससे कई गुना ज्यादा होती है. जैसे कि 1.5लाख से लेकर 2 लाख तक होती है.

Polytechnic Diploma Kya Hota Hai

पॉलिटेक्निक डिप्लोमा क्या होता है: पॉलीटेक्निक डिप्लोमा यानी कि आप इंजीनियरिंग के कोर्स में डिप्लोमा प्राप्त कर सकते हैं. इस डिप्लोमा को प्राप्त करके आप कही भी इनटर्नशिप के लिए अप्लाई कर सकते हैं. और डिप्लोमा करने के बाद आप बी.टेक भी कर सकते हैं.

Polytechnic Admission Kab Se Hoga

पॉलिटेक्निक एडमिशन कब से होगा: पॉलिटेक्निक का एडमिशन हर साल नया सत्र शुरू होने पर होता है इसके लिए आपको एंट्रेंस एग्जाम देनी होती है और फिर आपकी मेरिट लिस्ट निकलती है उसके बाद अगर आपका मेरिट लिस्ट में नाम आ जाता है तो फिर आप काउंसलिंग के लिए अप्लाई कर सकते हैं.

पॉलीटेक्निक एडमिशन के लिए यह सारे डाक्यूमेंट्स होना अनिवार्य है जैसे कि..

Polytechnic Admission Ke Liye Document

  • 1. जेईईकप एडमिट कार्ड और हॉल टिकट
  • 2. जेईईकप रिजल्ट और स्कोरकार्ड
  • 3. 10 और 12 क्लास की मार्कशीट
  • 4. 10 और 12 क्लास की टी.सी
  • 5. चरित्र प्रमाण पत्र
  • 6. जेईईकप कॉउंसलिंग लेटर
  • 7. आधार कार्ड
  • 8. जाती प्रमाण पत्र
  • 9. निवास प्रमाण पत्र
  • 10. आय प्रमाण पत्र

Polytechnic Ke Bare Mein Jankari

पॉलिटेक्निक के बारे में जानकारी: पॉलीटेक्निक एक डिप्लोमा कोर्स है जिसमे आपको इंजीनियरिंग के अलग अलग कोर्सेज के बारे में पढ़ाया जाता है. जैसे कि सिविल इंजीनियरिंग, मेकैनिकल इंजिनीरिंग, इलेक्ट्रॉनिक इंजीनियरिंग अथवा इलेक्ट्रिक इंजीनियरिंग और अन्य कई तरह के कोर्स करवाये जाते हैं.

Polytechnic Karne Ke Fayde in Hindi

पॉलिटेक्निक करने के फ़ायदे हिंदी में: पॉलीटेक्निक करने से आपको बहुत से लाभ मिलते है जैसे कि अगर पॉलीटेक्निक कर लेते है तो आपको तुरन्त जॉब मिल जाती है और आप जूनियर इंजीनियर भी बन जाते है. और फिर आप किसी भी अस्सिटेंट इंजीनियर के पद के लिए अप्लाई भी कर सकते हैं.

Polytechnic Karne Ke Nuksan

पॉलिटेक्निक करने के नुक्सान: पॉलीटेक्निक के नुकसान भी होता है जैसे कि 12वीं के बाद पॉलिटेक्निक करने का मुख्य नुकसान यह होगा कि, आप अपने दो साल खो देंगे और कुछ मामलों में 1 साल, यदि आप अपने 12 वीं के अंक के आधार पर लेटरल एंट्री के माध्यम से पॉलिटेक्निक द्वितीय वर्ष में शामिल हो रहे हैं। पॉलिटेक्निक 3 साल का कोर्स है और 12वीं के बाद इसमें शामिल होना कोई समझदारी भरा फैसला नहीं है

Polytechnic Karne Ke Liye Kya Karen

पॉलिटेक्निक करने के लिए क्या करें: पॉलीटेक्निक करने के लिए आपको सबसे पहले आपको 10 क्लास को पास करना पड़ेगा उसके बाद आपको पॉलीटेक्निक के लिए एंट्रेंस एग्जाम देने पडेगी और फिर उसमें अच्छी रैंक लाने पड़ेगी. फिर आपको कॉउंसलिंग के लिए अप्लाई करना पडेगा और कॉलेज चुनना पड़ेगा. यहां सब होने के बाद आपको इनट्रंशिप करनी चाहिए.

Polytechnic Karne Se Kya Kya Fayda Hai

पॉलिटेक्निक करने से क्या क्या फ़ायदा है: पॉलीटेक्निक करने से आपको बहुत से लाभ मिलते है जैसे कि अगर पॉलीटेक्निक कर लेते है तो आपको तुरन्त जॉब मिल जाती है और आप किसी भी सरकारी नौकरी के लिए अप्लाई कर सकते हैं और आप जूनियर इंजीनियर भी बन जाते है. और फिर आप किसी भी अस्सिटेंट इंजीनियर के पद के लिए अप्लाई भी कर सकते हैं.

Polytechnic – FAQs
Polytechnic Degree Hai Ya Diploma

पॉलीटेक्निक न ही डिग्री है और न ही डिप्लोमा है यह सिर्फ एक सर्टिफिकेट कोर्स है.

उम्मीद करते है आपको हमारी यह पोस्ट पॉलीटेक्निक करने से क्या होता है और पॉलीटेक्निक करने के क्या फायदे और नुकसान पसंद आई होगी.

अगर आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया है तो इसे ज्यादा से ज्यादा लोगों के साथ शेयर कर दीजिए और इस आर्टिकल से जुड़ा कोई भी सवाल हो तो उसे आप नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट कर के पूछ सकते है.

धन्यवाद☺

Questions & Answer:
TV का आविष्कार किसने किया और Television Ka Avishkar Kab Hua Tha

TV का आविष्कार किसने किया – टेलीविज़न का आविष्कार कब हुआ था

Avishkar
Scrub Se Kya Hota Hai और स्क्रब के फायदे और नुकसान

Scrub से क्या होता है – Scrub के फायदे और नुकसान

Kya Kaise
Vidyut Bulb Ka Avishkar Kisne Kiya और Vidyut Bulb Ki Sanrachna

Vidyut Bulb का आविष्कार किसने किया – विद्युत बल्ब की संरचना

Avishkar
Author :
प्रिये पाठक, आपका हमारी वेबसाइट Lipibaddh.com पर स्वागत है, इस वेबसाइट का काम लोगों को हिंदी भाषा में देश, विदेश एवं दैनिक जीवन में काम आने वाली जरुरी चीजों के बारे में जानकरी देना है.
Questions Answered: (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *