Potassium से क्या होता है – सबसे ज्यादा पोटेशियम किसमें पाया जाता है

इस पोस्ट में हम जानेंगे की Potassium Se Kya Hota Hai और सबसे ज्यादा पोटेशियम किसमें पाया जाता है साथ ही जानेंगे पोटैशियम नार्मल रेंज, एटॉमिक मास, सूत्र और संयोजकता क्या है.

Potassium Se Kya Hota Hai और सबसे ज्यादा पोटेशियम किसमें पाया जाता है 

साथ ही पोस्ट में जानेंगे की पोटैशियम के फायदे, ज्यादा होने के लक्षण और कम करने के उपाय क्या है. इन सब के बारे में इस पोस्ट में विस्तार से जानेंगे.

Potassium Short Form

पोटेशियम एक प्रकार की धातु होती है, जो कि सफेद रंग की एवं कोमल होती है. सामान्य ताप पर यह इतनी नरम होती है कि से चाकू से आसानी से काटा जा सकता है. पोटेशियम ऊष्मा और विद्युत का एक अच्छा सुचालक होता है. यह धरती पर पाया जाने वाला तत्वों में सातवां स्थान रखता है.

पोटेशियम आवर्त सारणी के S-Block से संबंधित है. पोटेशियम को सामान्य रूप से K से प्रदर्शित किया जाता है. इसकी परमाणु संख्या 9 होती है. पोटेशियम बहुत तेज से वातावरण की ऑक्सीजन से क्रिया कर लेता है.

Potassium Normal Range

हमारे शरीर को स्वस्थ रहने के लिए कई तत्वों की आवश्यकता होती है जिनमें से एक पोटेशियम भी है. सेहतमंद शरीर के लिए पोटेशियम की पर्याप्त मात्रा 4700 मिलीग्राम होती है. एक स्वस्थ व्यक्ति के शरीर में पोटेशियम की मात्रा 3500-4700 मिलीग्राम के बीच होती है.

Potassium Ka Atomic Mass

पोटेशियम जिसका संकेत K होता है. पोटेशियम की परमाणु संख्या 19 है एवं इस का परमाणु भार 39.0983u है.

Potassium Ka Formula

तत्वों की आवर्त सारणी में पोटेशियम S-block का तत्व होता है. आवर्त सारणी में पोटेशियम को K से प्रदर्शित किया जाता है. इसलिए पोटेशियम का Formula K होता है.

Potassium Ki Sanyojakta

पोटेशियम की संयोजकता:-

किसी भी परमाणु के इलेक्ट्रॉनिक विन्यास के आधार पर, उस परमाणु द्वारा रासायनिक संयोग में स्थानांतरण या ग्रहण करने में प्रयुक्त इलेक्ट्रॉनों की संख्या को उस तत्व की संयोजकता कहा जाता है.

पोटेशियम की परमाणु संख्या 19 है तथा इसका इलेक्ट्रॉनिक विन्यास 2, 8 , 8, 1 होता है. पोटेशियम की संयोजकता कोष में एक इलेक्ट्रॉन होता है. इसलिए पोटेशियम की संयोजकता 1 होती है.

Potassium Ki Valency

किसी भी परमाणु के इलेक्ट्रॉनिक विन्यास के आधार पर, उस परमाणु द्वारा रासायनिक संयोग में स्थानांतरण या ग्रहण करने में प्रयुक्त इलेक्ट्रॉनों की संख्या को उस तत्व की Valency कहा जाता है.

Valency जिसे हिंदी में संयोजकता कहा जाता है. आवर्त सारणी में तत्वों के अनुसार पोटेशियम की परमाणु संख्या 19 होती है और परमाणु संख्या के आधार पर इसका इलेक्ट्रॉनिक विन्यास 2, 8, 8, 1 होता है पोटेशियम के संयोजकता कोष में एक इलेक्ट्रॉन होता है. इसलिए पोटेशियम की संयोजकता 1 होती है.

Potassium Kisme Hota Hai

पोटेशियम के प्राकृतिक स्त्रोतों में केला, बादाम, मूंगफली, संतरा, एवोकाडो, हरी पत्तेदार सब्जियां, अंगूर, आलू, खजूर, शकरकंद, दही, टमाटर, दूध आदि आते हैं. शरीर में पोटेशियम का सही स्तर बनाए रखने के लिए इन तत्व का उपयोग करना चाहिए.

सबसे ज्यादा पोटेशियम किसमें पाया जाता है

पोटेशियम की प्राप्ति की कई स्त्रोत होते हैं. कुछ तथ्यों के आधार पर आलू पोटेशियम का सबसे अच्छा स्रोत माना जाता है क्योंकि एक छोटा भुना हुआ आलू लगभग 738 मिलीग्राम पोटैशियम देता है. इसके अतिरिक्त कई अन्य स्रोत है जो पोटेशियम की मात्रा को पूरी करते हैं. जो नीचे दर्शाए गए है:-

  • फलों में:-

केला, खरबूजा, सेब, कीवी, बेर, खुबानी, नाशपाती, तरबूज, संतरा आदि.

  • सब्जियों में:-

टमाटर, आलू, पालक, खीरा, बैंगन, कद्दू, गाजर, शकरकंद, मटर  आदि.

  • अन्य खाद्य पदार्थों में:-

मछली, दूध, दही, मशरूम, सोया आदि.

Potassium Se Kya Hota Hai

पोटेशियम हमारे शरीर के लिए एक आवश्यक मिनरल होता है. इसके शरीर में पर्याप्त मात्रा होने से शरीर स्वस्थ रहता है तथा इसकी मात्रा गड़बड़ होने से शरीर को नुकसान होता है. पोटेशियम से हमारे शरीर को कई फायदे होते हैं, जिनमें से कुछ नीचे प्रदर्शित है:-

  • दिल संबंधी परेशानियों से बचाने में सहायक है.
  • हड्डियों को बेहतर एवं मजबूत बनाता है.
  • मांसपेशियों को स्वस्थ बनाए रखता है.
  • रक्तचाप को नियंत्रित रखता है.
  • थकावट को दूर करता है.
  • तनाव को कम करता है.
Potassium Ke Fayde

पोटेशियम के फायदे:-

  • मांसपेशियों में दर्द, ऐठन और कमजोरी जैसी समस्याओं को दूर कर मांसपेशियों को स्वस्थ बनाए रखता है.
  • दिल संबंधी परेशानियों से बचाने में सहायक है.
  • हड्डियों को बेहतर एवं मजबूत बनाता है.
  • रक्तचाप को नियंत्रित रखता है.
  • थकावट को दूर करता है.
  • तनाव को कम करता है.

Potassium Jyada Hone Ke Lakshan

पोटेशियम ज्यादा होने के लक्षण:-

  • सीने में दर्द होता है.
  • सांस लेने में तकलीफ होती है.
  • शरीर में झनझनाहट होती है.
  • मांसपेशियां कमजोर हो जाती है.
  • पेट संबंधी समस्याएं होने लगती है.
  • दिल की धड़कन अनियमित हो जाती है.
पोटैशियम कम करने के उपाय

अगर किसी व्यक्ति को अपने शरीर में पोटेशियम की अधिक मात्रा के लक्षण दिखाई दें तो सर्वप्रथम चिकित्सक के पास जाकर सलाह ले. शरीर में पोटेशियम की मात्रा बढ़ने पर खाने पीने की चीजों में परहेज करें. जैसे जंक फूड, फास्ट फूड का उपयोग न करें इनके स्थान पर केले, संतरे, खुबानी, अंगूर, किशमिश, खजूर, पालक, ब्रोकोली, आलू, शकरकंद, मशरूम, मटर, खीरे, टमाटर आदि का प्रयोग करे.

शरीर में पोटेशियम की मात्रा को संतुलित बनाए रखने के लिए निम्नलिखित उपाय किए जा सकते हैं:-

  • Low-potassium Diet को Follow करें.
  • नमक युक्त चीजों का उपयोग कम करें.
  • Herbal Remedies को Avoid करें.
  • Healthcare द्वारा Provide की गई Water Pills/पोटैशियम Pills का उपयोग करें.
Potassium – FAQs
Potassium Ka Sutra

पोटेशियम आवर्त सारणी के S-block का तत्व है. पोटेशियम नरम, Silvery-white धातु है. यह धातु इतनी नरम होती है कि इसे आसानी से चाकू से काटा जा सकता है. पोटेशियम का सूत्र K होता है, जिसकी परमाणु संख्या 19 है.

उम्मीद करते है आपको हमारी यह पोस्ट Potassium Se Kya Hota Hai और सबसे ज्यादा पोटेशियम किसमें पाया जाता है पसंद आई होगी.

अगर आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया है तो इसे ज्यादा से ज्यादा लोगों के साथ शेयर कर दीजिए और इस आर्टिकल से जुड़ा कोई भी सवाल हो तो उसे आप नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट कर के पूछ सकते हैं.

Questions & Answer:
DC Current Ka Avishkar Kisne Kiya और DC Current Kaise Banta Hai 

DC Current का आविष्कार किसने किया – DC Current कैसे बनता है

Avishkar
Tambe Ke Bartan Mein Pani Peene Se Kya Hota Hai और तांबे के बर्तन में पानी पीने के फायदे और नुकसान

Tambe के बर्तन में पानी पीने से क्या होता है – Copper में पानी पीने के फायदे, नुकसान

Health
Cycle Ka Avishkar Kisne Kiya और भारत में साइकिल का आविष्कार कब हुआ 

Cycle का आविष्कार किसने किया – भारत में साइकिल का आविष्कार कब हुआ

Avishkar
Author :
प्रिये पाठक, आपका हमारी वेबसाइट Lipibaddh.com पर स्वागत है, इस वेबसाइट का काम लोगों को हिंदी भाषा में देश, विदेश एवं दैनिक जीवन में काम आने वाली जरुरी चीजों के बारे में जानकरी देना है.
Questions Answered: (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *