Triphala Churna खाने से क्या होता है – त्रिफला चूर्ण कब और कैसे खाना चाहिए

इस पोस्ट में हम जानेंगे की Triphala Churna Khane Se Kya Hota Hai और त्रिफला चूर्ण कब और कैसे खाना चाहिए साथ ही जानेंगे त्रिफला चूर्ण कैसा होता है और त्रिफला चूर्ण घर पर कैसे बनाए.

Triphala Churna Khane Se Kya Hota Hai और त्रिफला चूर्ण कब और कैसे खाना चाहिए

साथ ही पोस्ट में जानेंगे की त्रिफला और शहद के फायदे और त्रिफला चूर्ण का यूज़ करें. इन सब के बारे में इस पोस्ट में विस्तार से जानेंगे.

Triphala Churna Ke Bare Mein Bataen

त्रिफला चूर्ण हमारे शरीर में कुछ बीमारियों के लिए फायदा मंद माना जाता है एक विज्ञानिक शौध के अनुसार बजन घटाने से लेकर डायबिटीज जैसी कई समस्याओ के लक्षण को कम करने में साबित हो सकता है.या फिर कभी गलत खान-पान या ज्यादा बहार का खाना खा लेते है तो ठीक से पच नही पता तो इसे खाना से हमारा खाना जल्दी पच जाता है.

Triphala Churna Kya Hai

त्रिफला एक संस्कृत शब्द से मिलकर बना है  त्रि यानि तीन और फला यानि  फल .इसका मतलब है की यह कोई जड़ी बूटी नही बल्कि यह तीन चीजें से मिल कर बना है जो चूर्ण के रूप में मिलता है.

Triphala Churna Kya Hota Hai

त्रिफला चूर्ण  इम्युनिटी बढाने के लिए फायदामंद माना जाता है इसमें मौजूद तीन सामग्री के कारण है यह सामग्री है – आंवला ,बहेड़ा और हरड़ जो कि इम्युनिटी को बढाने के लिए मदद करता है.

Triphala Churan Kaisa Hota Hai

त्रिफला चूर्ण गर्म होता है गर्मी के सीजन में इसका अधिक सेवन नही करना चाहिए.

Triphala Churna Banane Ki Vidhi

त्रिफला चूर्ण बनाने के लिए कुछ जड़ी बूटी की आवश्यकता होती है इसको बनाने के लिए आंबला, बहेड़ा एवं हरड़ तीनों को पीस कर एक साथ मिला कर उसे भून लेना है इस प्रकार से त्रिफला चूर्ण बनाते है.

Triphala Churna Ghar Par Kaise Banaye

कुछ जड़ी बूटी है जो की त्रिफला चूर्ण में उपयोग करते है जैसे कि आंवला-80  ग्राम  , हरड़-20 ग्राम   और बहेड़ा-40 ग्राम  इन सबको अच्छे से बारीक पीस लेना है  फिर इसे एक बारीक छलनी से छान लेना चाहिए .आपका तैयार हो जायेगा त्रिफला चूर्ण इसका उपयोग आप रोजाना कर सकते है.

Triphala Churna Ka Upyog

त्रिफला चूर्ण का उपयोग पेट संबध बीमारी के लिए किया जाता है जैसे कि पेट में गैस बनना , डायबिटीज, कब्ज आदि ऐसी समस्या के लिए जाता है.

Triphala Churna Ka Use Kaise Kare

त्रिफला चूर्ण का उपयोग कही तरह से कर  सकते है इसको  गुनगुने पाने के साथ ले सकते है और  इसे गुड़,शहद अथवा कही अन्य चीजे के साथ ले सकते है.

त्रिफला चूर्ण कब और कैसे खाना चाहिए

त्रिफला चूर्ण सुबह और शाम को खाना चाहिये जिससे पेट में बीमारी को खत्म करता है और खाना ठीक से पच जाता है इसको हल्के गुनगुने पाने के साथ ले सकते है या गुड़,शहद आदि के साथ ले सकते है.

Triphala Churna Kaise Le

त्रिफला चूर्ण को सुबह गुनगुने पाने के साथ लेना चाहिए .इसको और तरह से ले सकते है जो कि इस प्रकार है त्रिफला चूर्ण को पानी के साथ भुगों को रखे उसके बाद उसे छान ले और उसे हल्का गरम करके पी सकते है और इसे गुड़ अथवा शहद के साथ भी ले सकते है.

Triphala Churna Khane Se Kya Hota Hai

त्रिफला चूर्ण खाने से कई फायदे है

  • चर्म रोग
  • मुंह की समस्या
  • कब्ज के लिए
  • दांतों के स्वास्थ के लिए
  • आँखों के लिए भी लाभकारी होता है.
  • गठिया विरोधी के लिए आदि बीमारियों के लिए किया जाता है.
त्रिफला और शहद के फायदे 
  • इसका प्रयोग हम मधुमेह के लिए
  • भूख बढाने के लिए
  • रेड ब्लड सेल बढाने के लिए मददगार है
  • यूरिन इन्फेक्शन कम करने में मददगार
  • त्वचा के लिए उपयोगी
  • बजन कम करने में मददगार त्रिफला चूर्ण बल्कि शहद का उपयोग बजन को नियंत्रण रखने के लिए करते है.

त्रिफला चूर्ण के नुकसान

त्रिफला चूर्ण खाने से कुछ बीमारिया हो सकती है जैसे कि पेट दर्द एवं सूजन  और इसे अधिक मात्रा में खाने से डायरिया भी हो सकता है.

Triphala Churna – FAQs
Triphala Churna Kaise Lena Chahiye

त्रिफला चूर्ण खाने के फायदे तभी हो सकते है जब इसे संयमित मात्रा में खाया जाए .त्रिफला चूर्ण की खुराक की मात्रा इस बात पर निर्भर करती है की इसका सेवन की स्वास्थ के लिए किया  जा रहा है  इसको लेने से डॉक्टर की सलाह जरुर लें.

Triphala Churna Khane Ki Vidhi

त्रिफला चूर्ण को आप दिन में एक बार या दो बार ले सकते है 5 ग्राम चूर्ण को  हल्के गर्म पाने के साथ सुबह और शाम को ले सकते है.

Triphala Churna Lene Ka Sahi Samay

त्रिफला चूर्ण को भोजन के आधा घंटा पहले या आधा घंटा बाद  में लें . ऋतुओ के अनुसार सालभर लेने से शारीरिक कमजोरी दूर होने के साथ त्वचा संबंधी परेशानियों भी दूर होती है.

Triphala Churna Subah Kaise Khaye

त्रिफला चूर्ण सुबह के समय खाने लिए हल्का गुनगुना पानी के साथ ले खा सकते है जो कि पेट में कब्ज और गैस जैसी समस्या को आराम मिल जाता है.

Triphala Churna Raat Ko Kaise Khaye

5 ग्राम त्रिफला  चूर्ण को सुबह मिटटी के बर्तन में भुगोकर रखें और शाम को छान के पी ले.उसी प्रकार शाम को रखें और सुबह पी लें.

उम्मीद करते है आपको हमारी यह पोस्ट Triphala Churna Khane Se Kya Hota Hai और त्रिफला चूर्ण कब और कैसे खाना चाहिए पसंद आई होगी.

अगर आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया है तो इसे ज्यादा से ज्यादा लोगों के साथ शेयर कर दीजिए और इस आर्टिकल से जुड़ा कोई भी सवाल हो तो उसे आप नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट कर के पूछ सकते हैं.

Questions & Answer:
Zandu Pancharishta Se Kya Hota Hai और झंडू पंचारिष्ट के फायदे और नुकसान

Zandu Pancharishta से क्या होता है – झंडू पंचारिष्ट के फायदे और नुकसान

Health
Camera Ka Avishkar Kisne Kiya और Camera Se Paise Kaise Kamaye

Camera का आविष्कार किसने किया – कैमरा से पैसे कैसे कमाए

Avishkar
Apps Kaise Chupaye

Apps कैसे छुपाये – Apps छुपाने वाला App – App Hide कैसे डाउनलोड करे

Computer
Author :
प्रिये पाठक, आपका हमारी वेबसाइट Lipibaddh.com पर स्वागत है, इस वेबसाइट का काम लोगों को हिंदी भाषा में देश, विदेश एवं दैनिक जीवन में काम आने वाली जरुरी चीजों के बारे में जानकरी देना है.
Questions Answered: (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published.