Koyal की आवाज़ कैसी होती है, कोयल कैसे बोलती है, क्या खाती है

| | 2 Minutes Read

आज इस पोस्ट में हम जानेंगे Koyal Ki Awaaz Kaisi Hoti Hai साथ ही जानेंगे की कोयल क्या खाती है और कोयल की आवाज कैसी होती है.

साथ ही पोस्ट में जानेंगे की कोयल अंडा कहा देती है और कोयल का वैज्ञानिक नाम क्या है. इस पोस्ट में इन सबके बारे में विस्तार से जानेंगे.

Koyal Ki Awaaz Kaisi Hoti Hai

कोयल की आवाज़ बहुत मीठी और प्यारी होती है. जो भी इसकी आवाज सुनता है उसका मन प्रसन्न हो जाता है. शकुन शास्त्र के अनुसार यदि आपको सुबह-सुबह कोयल की आवाज सुनाई देती है, तो इसे धनलाभ का संकेत माना जाता है. इस शास्त्र के अनुसार कोयल की कूक के फायदे एवं नुकसान दोनों होते हैं.

यह इस बात पर भी निर्भर करता है कि आपको कोयल की आवाज किस दिशा से और किस समय आ रही है. यदि आपको कोयल की आवाज सुबह-सुबह दक्षिण-पूर्व दिशा से आती है तो इसे अशुभ संकेत माना जाता है, वहीं अगर शाम को उसी दिशा से आवाज आती है तो इसे शुभ संकेत का दर्जा दिया गया है.

अगर आप दिन में कोई कार्य करने जा रहे हैं और आपको कोयल की आवाज सुनाई देती है तो यह उस काम में सफलता का इशारा करता है. वहीं अगर उत्तर-पूर्व और पश्चिम-उत्तर दिशा से आपको कोयल की आवाज सुनाई देती है तो इसका मतलब आपको धन का लाभ होने की आशंका है.

आप यह जान कर हैरान होंगे कि उत्तर दिशा से कोयल की आवाज सुनाई देने पर घर में सुख समृद्धि आने के संकेत होते हैं.

Koyal Kaise Bolati Hai

कोयल की आवाज बहुत ही मधुर और सुरीली होती है. यह हर वर्ग के इंसानों को अच्छी लगती है. इसकी आवाज सुनने से मन को शांति मिलती है.

Koyal Ki Visheshta

इस पक्षी की एक खांस बात यह है कि यह अपना घोंसला नहीं बनाते हैं. आमतौर पर ये दुसरे पक्षियों के घोसलों में अपना अंडा देते हैं. आपको इनके अंडे ज़्यादातर कौवे के घोसले में देखने को मिल जाते हैं. इसके अलावा कोयल हमेशा किसी न किसी पेड़ पर ही उतरती या रहती है. यह जमीन पर कभी नहीं उतरती है इसलिए ये जंगलों में ही रहती है. इनकी उम्र केवल 6 साल होती है.

आप यह जान के हैरान होंगे कि कोयल की प्रजातियों में केवल नर कोयल ही गाता है. जब भी आप कू-कू की आवाज सुनते हैं, तो वो किसी न किसी नर कोयल की होती है. इनकी पेचान करने का सबसे अच्छा तरीके यह है कि इनकी आँखे लाल होती हैं और पंख लम्बे होते हैं.

कोयल घर में आने से क्या होता है

कोयल का घर में आना एक शुभ संकेत माना जाता है. अगर अभी आपके घर  उपलब्ध पेड़ पर पर कोई कोयल आकर आवाज करती या कूकती है, तो इसका मतलब उससे आपको धन का लाभ होने के संकेत हैं.

कोयल क्या खाती है

कोयल अक्सर छोटे-मोटे कीड़े खाती है. यह ज्यादातर बालों वाले कीड़े जैसे कि: सूंडी, झींगे, चींटियाँ इत्यादि खाती हैं. कोयल को सर्व हारी जीवों की श्रेणी में रखा जाता है. यह फल-फूल, कंद-मूल जैसी चीज़ें भी खाने में सक्षम होती हैं.

Koyal Kaisi Dikhti Hai

नर कोयल नीलापन में काले रंग का होता है, वही  मादा कोयल तीतर की तरह धब्बेदार चितकबरी भूरे रंग की होती है.

कोयल का वैज्ञानिक नाम

कोयल का वैज्ञानिक नाम यूडाइनेमिस स्कोलोपेकस (Eudynamics Scolopecus) होता है.

Koyal Ki Boli Kaisi Hoti Hai

कोयल की बोली मीठी होती हैं.

Koyal Ki Awaz Ko Kya Kahate Hain

कोयल की बोली को कूकना कहते हैं

Koyal Ka Rang Kaisa Hota Hai

नर कोयल का रंग काला और मादा का भूरा रंग होता है. इसके अलावा नर कोयल की आंखे लाल रंग की होती हैं.

उम्मीद करते हैं आपको हमारी पोस्ट Koyal Ki Awaaz Kaisi Hoti Hai और Koyal Kaise Bolati Hai पसंद आई होगी.

अगर आपको हमारा यह Article पसंद आया तो इसे ज्यादा से ज्यादा लोगों के साथ शेयर करें और अगर इस Article से जुड़ा कोई सवाल हो तो उसे नीचे दिए Comment Box में पूछ सकते हैं.

Author:

Hello!! दोस्तों मेरा नाम Rajesh है. मैं lipibaddh.com का Writer हूँ. मुझे हिंदी में Education Blogs लिखना पसंद है. मैं इन Blogs की मदद से आप तक Courses, Exams और Mythological Content की जानकारी पहुंचाना चाहता हूँ. मेरा आपसे निवेदन है की आप इसी तरह मेरा सहयोग देते रहें और ज़्यादा से ज़्यादा लोगों के साथ मेरे लिखे Content को शेयर करें. मैं आप सभी के लिए Latest जानकारियाँ उपलब्ध करवाता रहूँगा.

Questions Answered: (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *