Brain Hemorrhage कैसे होता है, जाने ब्रेन हेमरेज के #7 लक्षण

| | 6 Minutes Read

आज हम आपको इस Article की मदद से बताएंगे Brain Hemorrhage Kaise Hota Hai और Brain Hemorrhage Ke Lakshan.

साथ ही हम आपको Brain Hemorrhage से जुड़े और भी सवालों के जवाब देंगे. जैसे कि Brain Hemorrhage Kya Hota Hai, Brain Hemorrhage Kyu Hota Hai, ब्रेन हेमरेज किस विटामिन की कमी से होता है, ब्रेन हेमरेज के मरीज की देखभाल, Brain Hemorrhage Ka Ilaj इत्यादि की पूरी जानकारी विस्तार में जानेंगे.

Brain Hemorrhage Kaise Hota Hai

ब्रेन हेमोरेज ब्रेन में Bleeding संबंधी स्थिति है. जिसमें ब्रेन के अंदर मौजूद नशों से खून बहने लगता है. दिमाग में खून बहने के कई कारण हो सकते है जैसे कि, Blood-Bound Structures (Vessel) के टूटने आदि. Brain Hemorrhage एक गंभीर और जानलेवा स्थिति है.

जिसमें मस्तिष्क की कोई धमनी (Artery) फट जाती है और खून दिमाग के अंदर या आसपास के क्षेत्र में बहता है. इससे दिमाग काम करना बंद कर देता है. तो इस स्थिति को Brain Hemorrhage कहते हैं.

यह किसी भी व्यक्ति के साथ अचानक होने वाली स्थिति है. इसमें व्यक्ति को उलटी, अचानक सिरदर्द, चक्कर आना, देखने में दिक्कत जैसे लक्षण देखने को मिलते है.

Brain Hemorrhage Ke Lakshan

1. उल्टी आना

2. सुस्ती महसूस होना

3. देखने की क्षमता में बदलाव आना

4. अचानक सिरदर्द होना

5. दौरे पड़ना एवं चक्कर आना

6. उल्टी, जी-मिचलाना

7. चलने-फिरने में परेशानी होना

Brain Hemorrhage Kyu Hota Hai

1. गर्भावस्था के दौरान माँ के पेट पर लगी चोट के कारण ब्रेन हेमरेज की समस्या हो सकती है.

2. सिर में कोई पुरानी चोट का होना.

3. Brain Artery में कमज़ोरी होना.

4. Blood Vessels से सम्बधित समस्या.

5. रक्त एवं रक्तस्त्राव से सम्बंधित समस्या.

6. Liver की बीमारी होना.

7. Brain Tumor की समस्या.

8. गलत दवाइयों का सेवन करना.

ब्रेन हेमरेज कितने प्रकार के होते हैं

1. Intra-Axial Hemorrhage: इसे Cerebral Hemorrhage के नाम से जाना जाता है. इस स्थिति में दिमाग के अंदर Bleeding होने लगती है.

2. Extra-Axial Hemorrhage: इसमें दिमाग को छोड़कर खोपड़ी के अंदर कहीं भी Bleeding होने लगती है. इसे तीन भागों में बांटा गया है.

  • Extradural Hemorrhage/ Epidural Hematoma
  • Subdural Hemorrhage/ Subdural Hematoma
  • Subarachnoid Hemorrhage
ब्रेन हेमरेज किस विटामिन की कमी से होता है

किसी भी विटामिन की कमी से ब्रेन हेमरेज होने का सीधा संबंध नहीं है. लेकिन कुछ विटामिन की कमी से मस्तिष्क को प्रभावित होने वाली कुछ अन्य समस्याएं होती हैं. जैसे कि,

1. विटामिन B-1 (Thiamine) की कमी से बेरी-बेरी रोग होता है, जो मस्तिष्क, हृदय, पाचन और प्रतिरक्षा प्रणाली पर असर करता है.

2. विटामिन B-12 (Cobalamin) की कमी से Pernicious Anemia होता है, जो मस्तिष्क, Nervous System और Reproductive System को प्रभावित करता है.

3. Vitamin K में गड़बड़ी के कारण इसके Side Effect अधिकतर बच्चोमें देखने को मिलते है. लेकिन ब्रेन हेमरेज के लिए किसी विटामिन की कमी को ज्यादा देखा नही गया है. हमारी Body Conditions और दिमाग का Unhealthy होना भी इसका कारण हो सकता है.

ब्रेन हेमरेज के मरीज की देखभाल

1. ब्रेन हेमरेज के मरीजों को खाने में ज्यादा नमक न दे.

2. Soft Drinks पीने से बचें. यह दिमाग के लिए Harmful होती है.

3. ब्रेन हेमरेज के मरीजों को खाने में अनार, आडू और ब्लूबेरी दें. यह उनेक लिए फायदेमंद सबित होगा.

4. मरीज को जितना हो सके आराम करने दे.

5. डॉक्टर के द्वारा दी गई दवाइयों का सेवन समय से करें.

6. मरीज के खाने का समय तय रखें.

ब्रेन हेमरेज से बचने के उपाय

1. High Blood Pressure को Control रखें.

2. समय-समय पर Blood Pressure चेक कराते रहें.

3. शरीर को फिट रखने के लिए रोजाना Exercise करें.

4. ज्यादा मात्रा में Smoking करने से बचे.

5. दिमाग में चोट लगने से बचे एवं गाड़ी चलते समय Helmet का उपयोग करें.

Brain Hemorrhage Kya Hota Hai

ब्रेन हेमरेज एक ऐसी स्थिति है जो दिमाग की एक धमनी के टूटने से होती है. इसमें Brain के आसपास के Tissue में Bleeding होने लगती है. जिससे दिमाग की कोशिकाएं नष्ट हो जाती है.

इसे आसन शब्दों में समझें तो दिमाग की नस फटने से ब्रेन हेमरेज होता है. दिमाग की नस के फटने नसों से खून बाहर बहने लगता है जिसे हम Brain Hemorrhage या Stroke कहते है. इसके लिए हमारी शारीरिक Conditions कारण बनती है.

ब्रेन हेमरेज होने के बाद क्या होता है

ब्रेन हेमरेज की स्थिति में Brain के Tissues को ब्लड Circulate करने वाली Arteries फट जाती है. जिसके कारण Tissues में Blood Circulation ठीक से नहीं हो पता है. इससे दिमाग में Blood जमा हो जाता है.

जिसके कारण Tissues को Oxygen मिलने में रुकवाट होती है. रूकावट होने से दिमाग की कोशिका मर जाती है.

लकवा और ब्रेन हेमरेज में क्या अंतर है

लकवा/ Stroke: स्ट्रोक एक Medical Condition है जो दिमाग में Blood Circulation न हो पाने के कारण ब्रेन एरिया के नष्ट होने का संकेत देता है. इसका मुख्य कारण Bleeding का बंद होना एवं खून का थक्का होता है.

स्ट्रोक के प्रकारों में Ischemic Stroke: खून की आपूर्ति में न होने के कारण एवं Hemorrhagic Stroke: ब्लीडिंग के कारण शामिल होते हैं. इसके लक्षणों में बेहोशी, बोलने में समस्या, चक्कर आना, अंगों में कमजोरी और Sensitivity शामिल है.

ब्रेन हेमोरेज: दिमाग के अंदर खून का बहना ब्रेन हेमोरेज कहलाता है. इसका मुख्य कारण दिमाग के Vessel का टूटना होता है. इसमें Intracranial Hemorrhage: ब्रेन के अंदर ही खून का बहना, Subdural Hemorrhage: ब्रेन की परतों के बीच खून का बहना शामिल है. 

ब्रेन हेमोरेज के लक्षणों में अचानक दर्द होना, अस्थिरता, बेहोशी, उल्टी, दिल की गति में बदलाव, बोलने में समस्या इत्यादि शामिल है.

Brain Hemorrhage Ka Ilaj

1. MRI या CT Scan के आधार पर ब्रेन हेमरेज का इलाज़ होता है.

2. व्यक्ति की स्थिति गंभीर होने पर इलाज़ के लिए Surgery की जाती है.

3.दिमाग पर बन रहे दबाव को दूर करने के लिए दिमाग का Operation किया जाता है.

4. ब्रेन हेमरेज की स्तिथि ज्यादा गंभीर होने पर या कई Conditions में खोपड़ी के हिस्से को हटाया भी जाता है.

5. स्थिति ज्यादा गंभीर ना होने पर Doctor विशेष प्रकार की दवाई देकर मरीज का उपचार करते हैं.

6. रोगियों को Physical Therapy, Speech Therapy या आवश्यकतानुसार Occupational Therapy दी जाती है.

Brain Hemorrhage Ka Operation

Surgical Intervention के माध्यम से ब्रेन हेमोरेज का इलाज किया जाता है, जिसे ब्रेन हेमोरेज सर्जरी कहा जाता है. सर्जरी में निम्नलिखित तकनीकों का उपयोग किया जाता है जैसे कि,

1. Craniotomy: इसमें छोटे स्कलप के माध्यम से ब्रेन के ऊपरी भाग में एक छेदन/ Piercing किया जाता है ताकि हेमोरेज के कारण जमा हुआ खून बाहर निकाला जा सके.

2. Endoscopic Surgery: इसमें एक Endoscope का उपयोग किया जाता है, जो एक छोटे छेद के माध्यम से डॉक्टर को ब्रेन की आंतरिक संरचनाएं देखने में मदद करता है. यह तकनीक Bloodshed को रोकने एवं उसे सुधारने के लिए उपयोगी होती है.

3. Coils/ Clips लगाना: यदि हेमोरेज Aneurysm के कारण हुआ है, तो सर्जरी में Coils या Clips का उपयोग किया जाता है. इससे Bleeding को रोका जाता है.

4. इसके अलावा, गंभीर मामलों में दवाओं का उपयोग किया जाता है जो ब्लीडिंग को नियंत्रित करने और ब्रेन को सुरक्षित रखने में मदद करती हैं.

Brain Hemorrhage Se Kya Hota Hai

ब्रेन हेमरेज होने पर Brain के Cells मर जाते है जिससे दिमाग काम करना बंद कर देता है. यह एक प्रकार का Stroke है, जो ब्रेन में Arteries के फटने की वजह से होता है. इस Condition में दिमाग के आसपास के Tissues में Bleeding होती है जिससे Brain के Cells मर जाते है.

Brain Hemorrhage Kise Kahate Hain

दिमाग के अंदर आसपास के Tissue में Bleeding होने की स्तिथि को ब्रेन हेमरेज कहते हैं. यह दिमाग की धमनी के फूलने या फटने के कारण होता है.

अगर आपको Brain Hemorrhage Se Kya Hota Hai पोस्ट पसंद आई तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करें.

अगर आपके मन में कोई सवाल है तो आप Comment करके पूछ सकते हैं.

Author:

Hello!! दोस्तों मेरा नाम Shalini है. मैं lipibaddh.com की Writer हूँ. मुझे हिंदी में Health और Drinks Blogs लिखना पसंद है. मैं इन Blogs की मदद से आप तक सभी अगल-अलग Drinks और Health से जुड़ी जानकारी पहुंचाना चाहती हूँ. मेरा आपसे निवेदन है की आप इसी तरह मेरा सहयोग देते रहें और ज़्यादा से ज़्यादा लोगों के साथ मेरे लिखे Content को शेयर करें. मैं आप सभी के लिए Latest जानकारियाँ उपलब्ध करवाती रहूँगी.

Questions Answered: (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *