जाने #7 Giloy का Juice पीने के फायदे, गिलोय रास पीने के नुकसान

| | 3 Minutes Read

आज इस पोस्ट में जानेंगे Giloy Ka Juice Peene Ke Fayde और गिलोय रस पीने के नुकसान.

साथ ही जानेंगे गिलोय जूस कब पीना चाहिए, गिलोय पीने के फायदे, गिलोय किसे नहीं खाना चाहिए, गिलोय से गठिया का इलाज इत्यादि की पूरी जानकारी इस पोस्ट में विस्तार से जानेंगे.

Giloy Ka Juice Peene Ke Fayde

1. गिलोय जूस में विटामिन C की अच्छी मात्रा होती है, जो Immune System को मजबूत करने में एवं शरीर को रोग और संक्रमण से लड़ने में मदद करता है.

2. इसमें Antioxidant Properties होती हैं जो शरीर को विजातीय रद्दी रेडिकल्स से बचाने और स्वास्थ को बेहतर बनाते हैं.

3. गिलोय Juice का नियमित सेवन करने से Blood Sugar स्तर नियंत्रित में रहता है. जिससे यह डायबिटीज के इलाज में मदद करता है.

4. गिलोय जूस एक प्राकृतिक Detoxifier है, जो शरीर के विषैले तत्वों को निकालने में सहायक है.

5. इसका सेवन पाचन और आंतिक्रिया प्रणाली को स्वस्थ रखने में मदद करता है.

6. गिलोय के सेवन से जोड़ों के दर्द को कम किया जा सकता है, खासकर गठिया रोग में.

7. Juice का सेवन शारीरिक और मानसिक ताक़त को बढ़ाता है.

गिलोय रस पीने के नुकसान

1. गिलोय जूस का अधिक सेवन करने से पाचन की समस्याएं होती हैं, जैसे कि Acidity, Bloating, बाहरी जीवों के साथ अस्तित्व की दिक्कतें इत्यादि.

2. हार्ट रोगी को गिलोय जूस का सेवन सावधानी से करना चाहिए, क्योंकि यह ब्लड प्रेशर को कम करता है. इसका अधिक सेवन हार्ट समस्याओं को बढ़ाता है.

3. गर्भवती महिलाओं और नर्सिंग मांओं को इसका सेवन डॉ के स्वास्थ्य पेशेवर से परामर्श लेना चाहिए.

4. कुछ लोग गिलोय या उसके रस के प्रति Allergic होते हैं. इससे त्वचा की खुजली, चुम्बकता या अन्य एलर्जिक प्रतिक्रियाएं होती हैं.

5. यदि आप किसी अन्य दवा का सेवन करते हैं, तो इससे दावा के साथ Reaction की संभावना होती है, इसलिए इसे डॉक्टर सुनिश्चित करें.

6. किडनी की समस्या से पीड़ित व्यक्ति को गिलोय जूस का सेवन सावधानी से करना चाहिए, क्योंकि यह किडनी को प्रभावित करता है.

Giloy Ki Taseer

गिलोय की तासीर ठंडी होती है. यह ठंडे मौसम में अधिक फायदेमंद होता है.

Giloy Peene Se Kya Hota Hai

गिलोय में Antioxidants और Vitamin C की अच्छी मात्रा होती है, जो Immune System को मजबूत करने में मदद करता है. यह शरीर के रोगों और संक्रमण से लड़ने की क्षमता में सुधार करता है. यह पाचन को सुधारने और आंतिक्रिया प्रणाली को स्वस्थ रखने में मदद करता है.

इसका सेवन शारीरिक और मानसिक ताक़त को बढ़ाता है, जिससे आपका शरीर मजबूत रहता है और थकान दूर होती है. गिलोय का सेवन मधुमेह के इलाज में सहायक है, क्योंकि यह Blood Sugar Level को नियंत्रित करने में मदद करता है.

गिलोय के सेवन से जोड़ों एवं गठिया रोग के दर्द को कम किया जाता है. गिलोय को Blood Purifier के नाम से जाना जाता है, जिससे खून की सफाई होती है और त्वचा स्वस्थ रहती है. यह मानसिक स्वास्थ्य को सुधारने और तनाव, चिंता को कम करने में मदद करता है.

Giloy Khane Ke Fayde

1. यह Immune System को मजबूत करता है, जिससे शरीर को रोगों और संक्रमणों से लड़ने की क्षमता में सुधार होता है.

2. गिलोय को Blood Purifier के नाम से जाना जाता है. इसके सेवन से खून और त्वचा स्वस्थ, ग्लोइंग रहती है.

3. यह पाचन को सुधारने और आंतिक्रिया प्रणाली को स्वस्थ रखने में मदद करता है.

4. गिलोय के सेवन से जोड़ों के दर्द को कम किया जाता है.

5. इसका सेवन मधुमेह के इलाज में मदद करता है, क्योंकि यह ब्लड शुगर स्तर को नियंत्रित करने में करता है.

6. गिलोय का सेवन मानसिक स्वास्थ्य को सुधारने में मदद करता है. जैसे कि तनाव, चिंता इत्यादि.

7. गिलोय बुखार के इलाज में भी उपयोग किया जाता है, खासकर डेंगू जैसे बुखार.

8. शारीरिक और मानसिक ताक़त को बढ़ाता है, जिससे शरीर मजबूत और थकान दूर होती है.

गिलोय किसे नहीं खाना चाहिए

1. गिलोय की एलर्जी : कुछ लोग गिलोय के प्रति एलर्जिक होते हैं. तो ऐसे में उन लोगों को इसका सेवन करने से बचना चाहिए. इससे त्वचा की खुजली, चुम्बकता या अन्य एलर्जिक प्रतिक्रियाएं होती हैं.

2. किडनी समस्याएं : किडनी समस्याओं वाले व्यक्तियों को गिलोय का सेवन सावधानी से करना चाहिए, क्योंकि इसका अधिक सेवन किडनी को प्रभावित करता है.

3. प्रेग्नेंसी:  गर्भवती महिलाओं को गिलोय का सेवन सिर्फ चिकित्सक की सलाह के बाद करना चाहिए.

4. नर्सिंग मांएं : स्तनपान कराने वाली महिलाओं को गिलोय का सेवन सिर्फ चिकित्सक की सलाह से करना चाहिए.

5. गर्मी और पित्त प्रकृति:  गर्मी और पित्त प्रकृति के लोगों को गिलोय का सेवन सावधानी से करना चाहिए, क्योंकि इसका अधिक सेवन उनके लिए स्वास्थ के लिए अच्छा नहीं होता है.

6. किसी और दवा के साथ संघटन : यदि आप किसी और दवा का सेवन कर रहे हैं, तो गिलोय के साथ Reaction की संभावना होती है, इसलिए इसे डॉक्टर से बिना सलाह लिए न खाएं.

Giloy Ka Upyog

गिलोय का उपयोग विभिन्न स्वास्थ्य समस्याओं के इलाज में किया जाता है. जैसे: 

1. Immune System को मजबूत करना: गिलोय का सेवन इम्यून सिस्टम को मजबूत करने में मदद करता है. जिससे आपके शरीर को विभिन्न Infections से बचाव होता है.

2. Anti-Inflammatory गुण: गिलोय में शरीर की सूजन को कम करने वाले गुण होते हैं, जिससे विभिन्न प्रकार की सूजन और शरीर की दर्द को कम किया जा सकता है.

3. डायबिटीज के इलाज में: गिलोय का सेवन Diabetes के इलाज में भी किया जाता है, क्योंकि इसका असर रक्त शर्करा स्तर को नियंत्रित करने में मदद करता है.

4. कब्ज़ के इलाज में: गिलोय का सेवन कब्ज़ के इलाज में भी किया जाता है. यह पाचन को सुधारने में मदद करता है.

5. श्वासन रोगों के इलाज में: यह श्वासन संबंधित समस्याओं को कम करने में मदद कर सकता है.

6. गिलोय का सेवन Cancer, Arthritis, Gout, Fibroids और हृदय रोग जैसे विशिष्ट रोगों के इलाज में भी किया जाता है, लेकिन ऐसे मामलों में डॉक्टर की सलाह लेना जरूरी है.

खाली पेट गिलोय खाने के फायदे

1. खाली पेट गिलोय का सेवन करने से Digestive System को साफ और पेट की समस्या कम होती है.

2. खून साफ़ होता है, जिससे त्वचा स्वस्थ और ग्लोइंग बनती है.

3. इम्यून सिस्टम मजबूत एवं रोगों और संक्रमणों से लड़ने की क्षमता में सुधार करता है.

4. पेट संबंधित समस्याओं, जैसे कि एसिडिटी, पेट दर्द और कब्ज इलाज में मदद करता है.

5. मानसिक स्वास्थ्य में सुधार करके तनाव और चिंता को कम करता है.

6.  यह ब्लड शुगर स्तर को नियंत्रित करने में करता है, जिससे मधुमेह के इलाज में मदद मिलती है.

7. गिलोय के सेवन से जोड़ों के दर्द को कम किया जा सकता है, खासकर गठिया रोग में.

Giloy Kya Hota Hai

गिलोय एक पौधा है, जिसे तिनोस्पोरा कोर्दिफोलिया के नाम से जाना जाता है. यह एक आयुर्वेदिक औषधि है. इसकी पत्तियों और दूसरे भागों का उपयोग स्वास्थ सुधारने के लिए किया जाता है.

इसका पौधा लता दारी और पत्तियाँ भद्र और सीधी होती हैं. साथ ही पत्तियों की रंगत हरी एवं फूल छोटे और पहूंच में होते हैं. यह गुणगुणाहट और औषधीय गुणों के लिए प्रमुख है.

गिलोय का उपयोग आयुर्वेदिक चिकित्सा में त्वचा स्वास्थ्य, इम्यून सिस्टम को मजबूत करने, रक्त पुनर्चक्रण, पाचन तंत्र सुधारने, शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य को सुधारने, जोड़ों के दर्द को कम करने एवं अन्य स्वास्थ्य समस्याओं के इलाज में किया जाता है.

Giloy Ka Vaigyanik Naam

गिलोय का वैज्ञानिक नाम टीनोस्पोरा कार्डीफोलिया (Tinospora Cordifolia) है.

Giloy Ras Ke Fayde

लीवर में, सर्दी-जुखाम में, कैंसर में, टीबी में, गठिया आदि.

Giloy Ki Taseer Kaisi Hoti Hai

गिलोय की तासीर गरम होती है. यह प्राक्रतिक रूप से ही गर्म मानी जाती है. इसीलिए किसी भी तरह के बुखार एवं सर्दी-जुखाम में इसका सेवन फायदेमंद होता है.

गिलोय कितने रुपए किलो है

कोरोना से पहले गिलोय आपको 15 से 20 रुपये किलो मिल जाती थी पर कोरोना में इसके दाम बड गए थे. अब यह आपको 30 से 35 रुपये किलो मिल सकती है यह कीमत इससे कम या ज्यादा भी हो सकती है.

गिलोय और एलोवेरा के फायदे

गिलोय और एलोवेरा के सेवन से आपका पाचन तंत्र मजबूत होता है, रोगप्रतिरोधक क्षमता बढती है, त्वचा पर चमक आती है, वजन कम होता है. इसके अलावा भी कई सारे फायदे होते है.

उम्मीद करते हैं आपको हमारी Giloy Ka Juice Peene Ke Fayde और गिलोय रस पीने के नुकसान पसंद आई होगी.

अगर आपको हमारा यह Article पसंद आया तो इसे ज्यादा से ज्यादा लोगों के साथ शेयर करें और अगर इस Article से जुड़ा कोई सवाल हो तो उसे नीचे दिए Comment Box में पूछ सकते हैं.

Author:

Hello!! दोस्तों मेरा नाम Shalini है. मैं lipibaddh.com की Writer हूँ. मुझे हिंदी में Health और Drinks Blogs लिखना पसंद है. मैं इन Blogs की मदद से आप तक सभी अगल-अलग Drinks और Health से जुड़ी जानकारी पहुंचाना चाहती हूँ. मेरा आपसे निवेदन है की आप इसी तरह मेरा सहयोग देते रहें और ज़्यादा से ज़्यादा लोगों के साथ मेरे लिखे Content को शेयर करें. मैं आप सभी के लिए Latest जानकारियाँ उपलब्ध करवाती रहूँगी.

Questions Answered: (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *