Mung खाने के फायदे, जाने मूंग के #10 अद्भुत गुण, तरीका

| | 3 Minutes Read

इस पोस्ट में हम जानेंगे Mung Khane Ke Fayde और Khali Pet Moong Khane Ke Fayde.

साथ ही जानेंगे मूंग क्या होता है, मूंग को अंकुरित कैसे करें, मूंग खाने के फायदे, नुकसान, मूंग में प्रोटीन की मात्रा कितनी होती है इत्यादि की पूरी जानकारी विस्तार में जानेंगे.

Mung Khane Ke Fayde

1. मूंग में पूरे प्रोटीन होता है, जिससे यह व्यक्ति के मांसपेशियों, बालों को स्वस्थ बनाने में मदद करता है.

2. मूंग में विटामिन ए, विटामिन सी, विटामिन बी, कैल्शियम, पोटैशियम, मैग्नीशियम आदि होते हैं, जो स्वास्थ्य के लिए महत्वपूर्ण होते हैं.

3. मूंग में फाइबर की अच्छी मात्रा होती है, जिससे यह आंतों की सफाई में मदद करता है और पाचन स्वास्थ्य को सुधारता है.

4. मूंग वजन प्रबंधन में भी मदद करता है, क्योंकि यह कम कैलोरी में उच्च पोषण प्रदान करता है और भूख को कम करने में मदद करता है.

5. मूंग में विशेष रूप से आंखों की तरही की बाजारी होती है, जिससे रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित करने में मदद मिलती है.

6. मूंग में लेसिथिन और इसोफ्लेवोनॉयड्स होते हैं, जो हार्ट के स्वास्थ्य को सुधारने में मदद कर सकते हैं.

7. मूंग में पोटैशियम, आयरन, और विटामिन बी6 होते हैं, जो हेमोग्लोबिन की मात्रा को बढ़ाने में मदद कर सकते हैं.

8. मूंग में प्रोटीन, विटामिन और एंटीऑक्सीडेंट्स की मात्रा होने से यह आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूती प्रदान करता है.

Khali Pet Moong Khane Ke Fayde

1. खाली पेट मूंग खाने से पाचन प्रणाली को सुधारने में मदद मिलती है, क्योंकि मूंग में फाइबर की अच्छी मात्रा होती है जो पाचन को सुधारने में मदद करती है.

2. खाली पेट मूंग खाने से वजन प्रबंधन में मदद मिलती है, क्योंकि यह कम कैलोरी में अच्छा पोषण प्रदान करता है और भूख को कम करने में मदद करता है.

3. मूंग में विटामिन और खनिजों की अच्छी मात्रा होती है, जो स्वास्थ्य के लिए महत्वपूर्ण होते हैं.

4. मूंग में फाइबर की मौजूदगी से आंतों की सफाई और पाचन प्रणाली को सुधार मिलता है.

5. खाली पेट मूंग खाने से रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित करने में मदद मिलती है, क्योंकि मूंग में अच्छी मात्रा में फाइबर होती है.

6. मूंग में कार्बोहाइड्रेट और शुगर होते हैं जो खाली पेट में ऊर्जा प्रदान कर सकते हैं.

7. मूंग में लेसिथिन और इसोफ्लेवोनॉयड्स होते हैं, जो हार्ट के स्वास्थ्य को सुधारने में मदद कर सकते हैं.

8. मूंग में प्रोटीन, विटामिन और एंटीऑक्सीडेंट्स की मात्रा होने से यह आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूती प्रदान करता है.

Moong Ko Ankurit Kaise Kare

1. मूंग की दाल का चयन: सबसे पहले, अच्छी गुणवत्ता वाली मूंग की दाल का चयन करें. यह सुनिश्चित करने के लिए कि दाल में कोई कीड़े नहीं हैं और वह स्वच्छ है.

2. दाल को धोना: मूंग की दाल को अच्छे से धो लें,ताकि उसमें किसी प्रकार की दिखाई न दे.

3. भिगोईं: अब मूंग की दाल को पानी में भिगो दें. इसके लिए दाल को अच्छे से धोकर पानी में डाल दें और उसे आधे घंटे से लेकर 4-6 घंटे तक भिगोने रखें.

4. अंकुरित करने की जगह की तैयारी: एक प्लेट या ट्रे को साफ़ पानी से धोकर साफ़ करें.

5. बिजली की रोशनी द्वारा उत्तान: अंकुरित करने के लिए, दाल को बिजली की रोशनी के निचले बिंदु के पास रखें.

6. पानी के बूँद डालना: अब धीरे-धीरे मूंग की दाल के ऊपर पानी की बूँदें डालें. आप इसे स्प्रे बोतल से भी कर सकते हैं.

7. आराम से उपर डाकें: अंकुरित की जगह को अब धूप और हवा में सुखाने के लिए आराम से ऊपर डाक दें.

8. पानी से बर्फ पिघलना: अब पानी से भरी एक बर्फीली ट्रे को अंकुरित की जगह के ऊपर रखें.

9. रोज़ाना सुबह-शाम धुलें: अंकुरित की जगह को रोज़ाना सुबह और शाम को पानी से धोकर आराम से सुखाते रहें.

10. अंकुरों की देखभाल: कुछ दिनों में ही मूंग की दाल के अंकुर निकलने शुरू हो जाएंगे. जब अंकुर लगभग 1-2 इंच तक बढ़ जाएं, तो आप उन्हें खा सकते हैं.

मूंग खाने के नुकसान

1. मूंग में फाइबर की अच्छी मात्रा होती है, जिससे कुछ लोगों को गैस और पेट में दर्द की समस्या होती है. यदि आपकी पाचन प्रणाली कमजोर है तो अधिक मूंग का सेवन करने से पेट की परेशानियाँ होती हैं.

2. मूंग में पुरानी होता है जिससे कुछ लोगों को गोडन (किडनी में पथरी) की समस्या होती है.

3. कुछ लोगों को मूंग खाने से त्वचा पर खुजली, लालिमा या अन्य एलर्जिक प्रतिक्रिया होती है.

4. कुछ लोगों की पाचन प्रणाली में अधिक पुरानी मित्रोज़ (एक प्रकार का अमीनो एसिड) के कारण मूंग के सेवन से उन्हें उचित तरीके से पाचन नहीं हो पाता है.

5. अधिक मूंग का सेवन करने से कुछ लोगों को उसका स्वाद पसंद नहीं आता है और वे इसे अधिक खाने में संकोच कर सकते हैं.

6. कुछ धार्मिक व्रतों में लोग मूंग की सेवन को पर्याप्त मात्रा में करते हैं, क्योंकि व्रतों में अन्य आहार प्रतिबंधित होता है और अधिक मूंग के सेवन से व्रत की पारंपरिक मान्यताओं का उल्लंघन होता है.

Mung Khane Se Kya Hota Hai

1. मूंग की दाल में पूरे प्रोटीन होता है, जिससे यह व्यक्ति के मांसपेशियों, बालों, और नकेली को स्वस्थ बनाने में मदद करता है.

2. मूंग की दाल में Vitamin A, Vitamin C, Vitamin B, Calcium, Potassium, Magnesium आदि होते हैं, जो स्वास्थ्य के लिए महत्वपूर्ण होते हैं.

3. मूंग की दाल में फाइबर की अच्छी मात्रा होती है, जिससे यह आंतों की सफाई में मदद करती है और पाचन स्वास्थ्य को सुधारती है.

4. मूंग की दाल वजन प्रबंधन में मदद करती है, क्योंकि यह कम कैलोरी में उच्च पोषण प्रदान करती है और भूख को कम करने में मदद करती है.

5. मूंग की दाल में विशेष रूप से आंखों की तरही की बाजारी होती है, जिससे रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित करने में मदद मिलती है.

6. मूंग की दाल में लेसिथिन और इसोफ्लेवोनॉयड्स होते हैं, जो हार्ट के स्वास्थ्य को सुधारने में मदद करते हैं.

7. मूंग की दाल में पोटैशियम, आयरन, और विटामिन बी6 होते हैं, जो हेमोग्लोबिन की मात्रा को बढ़ाने में मदद करते हैं.

8. मूंग की दाल में प्रोटीन, विटामिन और एंटीऑक्सीडेंट्स की मात्रा होने से यह आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूती प्रदान करती है.

Chana Aur Mung Khane Se Kya Hota Hai

1. चना और मूंग में अधिक मात्रा में प्रोटीन होता है. ये दोनों डालो के सेवन से आपका शरीर जरूरी अमीनो एसिड और प्रोटीन प्राप्त करता है, जो मांसपेशियों का निर्माण और रोजगार के संरक्षण में महत्तवपूर्ण है.

2. चना और मूंग में फाइबर भी होता है, जो पेट की अच्छी सेवा करता है. ये पेट के स्वास्थ्य को सुधारने और किताबों को रोकने में मदद करता है.

3. दालों में विटामिन और खनिज होते हैं जैसे विटामिन बी, फोलेट, पोटेशियम, मैग्नीशियम और जिंक. सभी तत्त्वों की उपस्थिति में आपके शरीर के सही विकास और स्वास्थ्य के लिए महत्व पूर्ण है.

4. चना और मूंग के सेवन से आपका वजन प्रबंधन (वजन प्रबंधन) होता है क्योंकि ये दलें आपको लंबे समय तक भरपुर महसूस करवाती हैं, जिसकी भूख कम लगती है और आप अधिक खाना नहीं खाते.

5. चना और मूंग का ग्लाइसेमिक इंडेक्स (जीआई) मध्यम है, इसका मतलब है कि ये आपके रक्त शर्करा के स्तर को संतुलित रखते हैं. इस मधुमेह के लक्षण भी दालों का सेवन कर सकते हैं.

6. मूंग और चने में एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं जो आपके शरीर के लिए हानिकारक मुक्त कणों से लड़ते हैं और पुरानी बीमारियों का जोखिम कम करते हैं.

7. फाइबर के साथ-साथ चना और मूंग आपके पचन तंत्र (पाचन तंत्र) के लिए भी अच्छे होते हैं. पार्टियों के सेवन पेट से संबंधित समस्याओं में, जैसी कि एसिडिटी और कब्ज, को काम करने में मदद मिलती है.

8. दलो के सेवन से हृदय स्वास्थ्य को सुधारने में मदद मिलती है क्योंकि ये कोलेस्ट्रॉल के स्तर को नियंत्रित रखते हैं और हृदय रोग का ख़तरा कम करते हैं.

भीगे मूंग खाने के फायदे

1. भीगे मूंग में पूरे प्रोटीन, अमिनो एसिड्स, और आवश्यक न्यूट्रिएंट्स होते हैं, जो बॉडी बिल्डिंग और मांसपेशियों को विकसित करने में मदद कर सकते हैं.

2. भीगे मूंग में फाइबर की अच्छी मात्रा होती है, जो पाचन प्रणाली को सुधारने में मदद करती है.

3. भीगे मूंग में विटामिन बी, विटामिन सी, फोलिक एसिड, कैल्शियम, पोटैशियम, मैग्नीशियम, आदि होते हैं, जो स्वास्थ्य के लिए महत्वपूर्ण होते हैं.

4. भीगे मूंग में कम कैलोरी होती है और यह भूख को कम करने में मदद करता है, जिससे वजन प्रबंधन किया जाता है.

5. भीगे मूंग में लेसिथिन और इसोफ्लेवोनॉयड्स होते हैं, जो हार्ट के स्वास्थ्य को सुधारने में मदद कर सकते हैं.

6. भीगे मूंग में फाइबर की मात्रा होती है, जिससे रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित करने में मदद मिलती है.

7. भीगे मूंग के सेवन से आंतों की सफाई में मदद मिलती है और पाचन स्वास्थ्य को सुधारती है.

Mung Kya Hai

मूंग एक प्रकार का बीज होता है. इसके बीज की दाल भी बनती है जिसे मूंग दाल कहते है. मूंग हरे रंग के छोटे बीज होते है. इन्हे कच्चा, उबालकर और भिगोकर भी खाया जा सकता है.

Mung Me Protein Ki Matra

मूंग में प्रोटीन उसकी मात्रा पर भी निर्भर करता है. 100 ग्राम मूंग में 24 ग्राम प्रोटीन पाया जाता है.

Mung Me Kya Paya Jata Hai

मूंग में कई तरह के पोषक तत्व जैसे Copper, Folate, Vitamins, Riboflavin, Fiber, Potassium, Phosphorus, Magnesium, Iron, Thiamine आदि पाए जाते है.

Moong Ka Rate

मूंग का rate ₹80 से ₹90 रुपये किलो है. इसका होलसेल बाजार में मूल्य ₹5,500 से ₹6,000 रुपये Quintal है. आप मूंग को ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरीकों से खरीद सकते है.

उम्मीद करते हैं आपको हमारी पोस्ट Mung Khane Ke Fayde और Khali Pet Moong Khane Ke Fayde पसंद आई होगी.

अगर आपको हमारा यह Article पसंद आया तो इसे ज्यादा से ज्यादा लोगों के साथ शेयर करें और अगर इस Article से जुड़ा कोई सवाल हो तो उसे नीचे दिए Comment Box में पूछ सकते हैं.

Author:

Hello!! दोस्तों मेरा नाम Nisha है. मैं lipibaddh.com की Writer हूँ. मुझे हिंदी में Food और Cosmetics Blogs लिखना पसंद है. मैं इन Blogs की मदद से आप तक सभी अगल-अलग खाने और Cosmetics Products की जानकारी पहुंचाना चाहती हूँ. मेरा आपसे निवेदन है की आप इसी तरह मेरा सहयोग देते रहें और ज़्यादा से ज़्यादा लोगों के साथ मेरे लिखे Content को शेयर करें. मैं आप सभी के लिए Latest जानकारियाँ उपलब्ध करवाती रहूँगी.

Questions Answered: (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *