जाने Sar Dard के #6 घरेलू उपाय, सर दर्द की लाभदायक दवा

| | 3 Minutes Read

आज आप इस पोस्ट में जनेंगे Sar Dard Ke Gharelu Upay और Sir Dard Ki Dwa Ka Naam.

साथ ही जानेंगे Sir Dard Ke Lakshan, सिर दर्द के कारण, सिर दर्द की दवा, सिर दर्द का Tablet, यदि आपका सिर दर्द हो रहा है तो उससे संबंधित घरेलू उपाय इत्यादि की पूरी जानकारी विस्तार में जानेंगे.

Sar Dard Ke Gharelu Upay

1. प्राकृतिक उपाय4. घरेलू उपचार
2. प्रतिरोधक आहार5. आयुर्वेदिक उपाय
3. आदर्श जीवन शैली6. बचाव

1. प्राकृतिक उपाय:

अक्सर सिरदर्द का मुख्य कारण डिहाइड्रेशन होता है. सिरदर्द के साथ-साथ प्राकृतिक तरीके से पानी पीना बहुत महत्वपूर्ण है. प्रतिदिन कम से कम 8-10 गिलास पानी पीने से शारीरिक स्वास्थ्य सुधरता है और सिरदर्द को कम होता है.

सिरदर्द के समय आराम और पर्याप्त नींद महत्वपूर्ण होते हैं. दिन में कम से कम 7-8 घंटे की नींद लेने से सिरदर्द को आराम मिलता है.

कुछ आयुर्वेदिक उपचार भी सिरदर्द को कम करने में मदद करते हैं, जैसे कि त्रिफला चूर्ण, ब्राह्मी, शंकपुश्पी इत्यादि.

2. प्रतिरोधक आहार:

माइग्रेन जैसे सिरदर्द के लिए गर्मियों में जब दर्द हो तो, ठंडई का सेवन करने से राहत मिलती है. ठंडई में थानी में पानी, इलायची, बदाम और चावल का पाउडर होता है, जो दर्द को कम करने में मदद करता है.

हरी सब्जियों और पौष्टिक आहार का सेवन करना बहुत महत्वपूर्ण है. खासकर, पलक, गोभी, गाजर, टमाटर, मूली इत्यादि सिरदर्द को कम करने में मदद करते हैं.

जीरा और धनिया के बीजों का पाउडर बनाकर उन्हें पानी में मिलाकर पीने से सिरदर्द कम किया जाता है.

3. आदर्श जीवन शैली:

Stress सिरदर्द का एक मुख्य कारण होता है, इसलिए Stress प्रबंधन तकनीकों का सेवन करना महत्वपूर्ण है. जैसे कि: योग, ध्यान, प्राणायाम इत्यादि. योग और अन्य व्यायाम Practice करने सिरदर्द कम करने में मदद मिलती है. व्यायाम द्वारा शरीर के संचालन में Stress कम होता है.

यदि आपको सिरदर्द बार-बार हो रहा है, तो आपको आपकी नींद पर ध्यान देने की आवश्यकता है. आरामदायक नींद लेना आपके शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य को सुधारता है.

4. घरेलू उपचार:

अदरक का रस सिरदर्द को कम करने में मदद करता है. आधे चम्मच अदरक के रस को शहद के साथ मिलाकर पीने से राहत मिलती है. लौंग का तेल सिरदर्द को कम करने में मदद करता है. आप लौंग के तेल को गरम करके सिर के दर्द वाले हिस्से पर मालिश कर सकते हैं.

शहद में Anti-Inflammatory गुण होते हैं जो सिरदर्द को कम करने में मदद करते हैं. एक चम्मच शहद पीने से दर्द में राहत मिलती है.

5. आयुर्वेदिक उपाय:

कुछ आयुर्वेदिक औषधियां भी सिरदर्द को कम करने में मदद करती हैं. जैसे कि आमलकी, गोखरू, अश्वगंधा इत्यादि.

6. बचाव:

आपके आहार में सिरदर्द को कम करने में मदद करने वाले खाद्य पदार्थ होना जरूरी है. जैसे कि: मूली, टमाटर, अदरक इत्यादि. पानी का सही मात्रा में उपयोग करने के बारे में ध्यान रखें ताकि Dehydration से बचा जा सके.

सीधे धूप में जाने से बचें, खासकर अगर आपको तपेदिक या माइग्रेन है.

Sar Dard Ki Dawa Ka Name

Combiflam, Paracetamol, Brufen, Nummulite, Naproxen इत्यादि. सिरदर्द से कई बार Patient दिन भर कोई Activity नहीं कर पाते है. वह दिन-भर चिड़चिड़ा रहने के कारण सिर दर्द की गोली खाते हैं.

Sir Dard Ka Ilaj

Accupressure: Accupressure की मदद से सिर दर्द से आप कुछ ही मिनटों में छुटकारा पा सकते हैं. इसके लिए आप अपनी दोनों हथेलियों को सामने ले एक हाथ से दूसरे हाथ के अंगूठे और Index Finger के बीच की जगह पर हल्के हाथ से 5 मिनट के लिए मसाज करें ऐसा करने से आपको कुछ मिनटों में राहत मिल सकती है.

काली मिर्च: एक गिलास पानी में काली मिर्च और पुदीने को डालकर उबाले इस चाय का सेवन करे इससे आपको सिरदर्द में राहत मिलती है.  

अलसी के बीज: सिरदर्द होने पर अलसी के बीज का इस्तेमाल करना एक बहुत अच्छा उपाय है. अलसी के बीज में Omega 3 Fatty Acids होता है. अलसी के बीज को भुनकर सौंफ की तरह चबाकर खाने से सिरदर्द में राहत मिलती है.

Sir Dard Ke Prakar

1. एक तरफ़ा सिरदर्द:  एक तरफ़ा सिर दर्द में सिर के आधे भाग में दर्द होता है जो काफी पीड़ादायक होता है ये एक बार शुरु होने के बाद 72 घंटो तक बना रहता है इसमें आपको थोड़े दर्द होने पर ही Painkiller खा लेनी चाहिए. 

2. Migraine: माइग्रेन में सिर के अग्रभाग अथवा Side में Painful या थपथपाती जैसा दर्द महसूस होता है इसमें व्यक्ति को ध्वनी के प्रति सवेदंशिलता होती है.

3. Sinus सिरदर्द: साइनस सिरदर्द एक लगातार होने वाला सिरदर्द है यह आँखों, दांतों और नाक से संबंधित दर्द होता है सुबह-सुबह यह दर्द बहुत अधिक होता है. इसमें नाक भी बहती है.

4. थकान या तनाव सिरदर्द: यह सिर दर्द अधिक काम करने से या अधिक कम्प्यूटर चलाने से भी होता है इसमें कुछ करने का मन नहीं करता और थका – थका महसूस होता है. किसी बात के बारे में ज्यादा सोचने से भी सिर दर्द होता है.

5. Allergy सिरदर्द: इसमें किसी भी व्यक्ति को ठंड या एलर्जी से उत्पन्न होने वाले अवरुद्ध नाक के कारण आपको साइनस सिरदर्द महसूस होता है यह सिर दर्द भी सुबह – सुबह अधिक होता है. 

6. Cluster Headache: क्लस्टर हेडेक एक दुर्लभ प्रकार का सिर दर्द होता है या सिर के एक हिस्से और आँख के आसपास के क्षेत्र को प्रभावित करता है क्लस्टर हेडेक का अटेक बार – बार और लगातार होता है. यह आमतोर पर किसी भी व्यक्ति को 15 मिनट से तीन घंटे तक हर हफ्ते या महीने रहता है.

उम्मीद करते हैं आपको हमारी पोस्ट Sar Dard Ke Gharelu Upay और Sar Dard Ki Dawa Ka Name पसंद आई होगी.

अगर आपको हमारा यह Article पसंद आया तो इसे ज्यादा से ज्यादा लोगों के साथ शेयर करें और अगर इस Article से जुड़ा कोई सवाल हो तो उसे नीचे दिए Comment Box में पूछ सकते हैं.

Author:

Hello!! दोस्तों मेरा नाम Nisha है. मैं lipibaddh.com की Writer हूँ. मुझे हिंदी में Food और Cosmetics Blogs लिखना पसंद है. मैं इन Blogs की मदद से आप तक सभी अगल-अलग खाने और Cosmetics Products की जानकारी पहुंचाना चाहती हूँ. मेरा आपसे निवेदन है की आप इसी तरह मेरा सहयोग देते रहें और ज़्यादा से ज़्यादा लोगों के साथ मेरे लिखे Content को शेयर करें. मैं आप सभी के लिए Latest जानकारियाँ उपलब्ध करवाती रहूँगी.

Questions Answered: (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *