Vitamin D की खोज किसने की, विटामिन डी कैसे मिलता है

| | 6 Minutes Read

इस पोस्ट में हम जानेंगे Vitamin D Ki Khoj Kisne Ki और Vitamin D Kaise Milta Hai साथ ही जानेंगे Vitamin D आपकी सेहत के लिए कैसा है इसे किस तरह इसका सेवन करने से आपके शरीर के लिए काफी लाभदायक हो सकता है..

इन सब के बारे में इस पोस्ट में विस्तार से जानेंगे.

Vitamin D Ki Khoj Kisne Ki

Vitamin D की खोज Sir Edwin Ford नामक वैज्ञानिक द्वारा की गई थी. उन्होंने 1922 में Vitamin D के महत्वपूर्ण गुणों की खोज की और उसके लिए 1930 में Noble पुरस्कार प्राप्त किया. उनके इस महत्वपूर्ण खोज के बाद ही हम Vitamin D के महत्व के बारे में अधिक जानकारी प्राप्त करने लगे.

Vitamin D Kaise Milta Hai

1. सबसे प्रमुख स्रोत सूरज की किरणें होती हैं. सूरज की किरणों में Vitamin D उपस्थित होता है. सूर्योदय और सूर्यास्त के समय सूरज की किरणें अधिक प्राकृतिक रूप से प्राप्त होती हैं.

2. कुछ खाद्य पदार्थ भी Vitamin D के स्रोत होते हैं, जैसे कि मछली, मुर्गी का अंडा, दूध, दही, अंजीर, Broccoli, Soya Beans आदि.

3. यदि आपके खाने के स्रोतों से Vitamin D प्राप्त करने में कठिनाई होती है, तो आप डॉक्टर की सलाह पर Vitamin D की Supplements भी ले सकते हैं.

4. सूरज की किरणों से Vitamin D प्राप्त करने के लिए सूर्य के नीचे निम्न समय बिताना फायदेमंद होता है, ध्यान दें कि आप सुरक्षित रूप से बिना सूरज के बिना सूरज की किरणों के संरक्षण के साथ यह करें.

Vitamin D Ko Kaise Badhaye

1. सूरज की किरणों में समय बिताना Vitamin D के स्तर को बढ़ा सकता है. सुबह के समय, सूर्योदय के बाद आप सूरज की किरणों में कुछ समय बिताएं.

2. Vitamin D युक्त खाद्य पदार्थों का सेवन करें. जैसे कि: मछली, मुर्गी का अंडा, दूध, दही, अंजीर, Broccoli, सोया Beans आदि.

3. डॉक्टर की सलाह पर Vitamin D की Supplements लें.

4. सूरज बड़ी मात्रा में Vitamin D होता है. आपकी रोजाना की जरूरतों को पूरा करने के लिए सुरक्षित रूप से सूरज की किरणों में समय बिताएं.

5. नियमित व्यायाम करने से भी Vitamin D की स्तर में सुधार हो सकता है.

6. अधिक Vitamin D की खुराक लेने से भी नकारात्मक प्रभाव हो सकता है.

7. यदि आपको Vitamin D की कमी है या आपके खान पान में संशोधन की आवश्यकता है, तो डॉक्टर से सलाह लें और उनके दिए गए निर्देशों का पालन करें.

Vitamin D Ke Karya

1. Vitamin D Calcium के अवशोषण को सुविधाजनक बनाता है, जिससे हड्डियाँ मजबूत और स्वस्थ रहती हैं.

2. Vitamin D हड्डियों के स्वास्थ्य को बनाए रखने में मदद करता है. जिससे हड्डियों की मजबूती बढ़ती है और Osteoporosis जैसी समस्याओं का भी प्रतिरोध करता है.

3. Vitamin D आपके Immune System को स्वस्थ और मजबूत बनाता है. इससे आपके शरीर को Infections से लड़ने की क्षमता मिलती है.

4. Vitamin D हृदय स्वास्थ्य को बनाए रखने में मदद करता है. इससे दिल की बीमारियों का खतरा कम होता है.

5. गर्भवती महिलाओं में Vitamin D की मात्रा को सामर्थ्य से बनाए रखना महत्वपूर्ण होता है. इससे बच्चे के हड्डियों और दांतों का विकास होता है.

6. Vitamin D के स्तर की वृद्धि Brain स्वास्थ्य को भी प्रोत्साहित करती है. इससे मानसिक Nerve System को स्वस्थ बनाए रखने में मदद मिलती है.

7. Vitamin D के कमी से मूड बिगड़ सकता है और Depression का खतरा बढ़ सकता है. सही मात्रा में Vitamin D से मूड को सुधारा जा सकता है.

Vitamin D Kin Cheezon Mein Hai

1. मछली: सामान्यत: Mackerel, Salmon, Sardine, Tuna जैसी मछलियाँ Vitamin D से भरपूर होती हैं.

2. दूध और डेयरी उत्पाद: दूध, दही, चीज़, दूध से बनी चीज़ें (पनीर, Yogurt) में Vitamin D पाया जा सकता है.

3. अंडे: अंडे भी Vitamin D का एक अच्छा स्रोत हो सकते हैं.

4. शाखा-मूल पौधों के तेल: जैसे कि सूरजमुखी का तेल, Soybeans का तेल, सरसों का तेल आदि.

5. आलू के परांपरिक तेल: जैसे कि मूंगफली का तेल, सरसों का तेल आदि.

6. कुकनियाँ की चरबी: यह एक स्रोत हो सकता है, लेकिन ध्यान दें कि इसमें अधिक मात्रा में Vitamin D नहीं होता है.

7. शाखा-मूल पौधों की पत्तियाँ: कुछ शाखा-मूल पौधों की पत्तियाँ भी Vitamin D के स्रोत हो सकती हैं.

Vitamin D Capsule Ke Fayde

1. Vitamin D आपके शरीर की प्राकृतिक प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूती देने में मदद करते हैं.

2. Vitamin D हड्डियों की मजबूती और स्वस्थता को बनाए रखने में मदद करते हैं.

3. Vitamin D का सेवन आपकी शिक्षात्मक प्रणाली को सुधारने में मदद करता है.

4. Vitamin D के सेवन से मानसिक स्वास्थ्य में सुधार होती है.

5. Vitamin D के का सेवन Diabetes के प्रबंधन में मदद करता है.

6. Vitamin D के सेवन से वजन प्रबंधन में मदद होती है.

Vitamin D Kya Khane Se Milta Hai

Vitamin D का प्रमुख स्रोत सूरज की किरणें होती हैं, जिनके संरक्षण में आपकी त्वचा का संपर्क आवश्यक होता है. सूरज के प्रकाश में समय बिताने से Vitamin D उत्पन्न होता है. अधिक सूरज के प्रकाश में बिताए गए समय के साथ ही Vitamin D की उत्पत्ति बढ़ती है.

Vitamin D Ka Chemical Name

Vitamin D का रासायनिक नाम Calciferol है. यह एक Vitamin है जिसका महत्वपूर्ण भूमिका हमारे शरीर के स्वास्थ्य में होता है. Calciferol सूरज की किरणों के संरक्षण में मदद करता है और हड्डियों, दांतों, शरीर के मांसपेशियों आदि के विकास और स्वास्थ्य को सहायक बनाता है.

इसके अलावा, Vitamin D एक स्वस्थ Immune System के लिए भी महत्वपूर्ण होता है जो बीमारियों से लड़ने की क्षमता में मदद करता है.

Vitamin D कब लेना चाहिए

Vitamin D की सही मात्रा का सेवन आप दिन के प्रथम आधे में Vitamin D Supplements लें, क्योंकि इस समय सूरज की किरणें सबसे अधिक होती हैं और आपके शरीर को Vitamin D की आवश्यकता होती है.

Vitamin D Ke Srot

Vitamin D के प्रमुख स्रोत सूरज की किरनें, मछली, दूध और दूध से बने उत्पाद, अंडे, मशरूम, कुछ अनाज और तेली पदार्थ होते हैं.

Vitamin D Ka Rasayanik Naam Kya Hai

Vitamin D का रासायनिक नाम “Cholecalciferol” है.

Vitamin D Se Kya Milta Hai

Vitamin D का अन्य स्रोत मछली, दूध और दूध के उत्पाद, अंडे, मशरूम, खासी अण्डाशय की आदतें, कुछ प्रकार के खाद्य पदार्थ इत्यादि हैं.

उम्मीद करते हैं आपको पोस्ट Vitamin D Ki Khoj Kisne Ki और Vitamin D Kaise Milta Hai पसंद आई होगी.

अगर आपको यह Article पसंद आया तो इसे ज्यादा से ज्यादा लोगों के साथ शेयर करें और अगर इस Article से जुड़ा कोई सवाल हो तो उसे नीचे दिए Comment Box में पूछ सकते हैं.

Author:

Hello!! दोस्तों मेरा नाम Sameer है. मैं lipibaddh.com का Writer हूँ. मुझे हिंदी में Inventions से जुड़ी जानकारी पर Blogs लिखना पसंद है. मैं इन Blogs की मदद से आप तक सभी नए पुराने Inventions/ आविष्कार की जानकारी पहुंचाना चाहता हूँ. मेरा आपसे निवेदन है की आप इसी तरह मेरा सहयोग देते रहें और ज़्यादा से ज़्यादा लोगों के साथ मेरे लिखे Content को शेयर करें. मैं आप सभी के लिए Latest जानकारियाँ उपलब्ध करवाता रहूँगा.

Questions Answered: (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *