Power Loom क्या है – पॉवर लूम का आविष्कार किसने किया

आज हम जानेंगे Power Loom Kya Hai और Power Loom Ka Avishkar Kisne Kiya औद्योगीकरण के छेत्र में क्रांति लाने वाले पॉवर लूम का वस्त्र उद्योग में क्या योगदान है.

Power Loom Kya Hai और Power Loom Ka Avishkar Kisne Kiya

इस article की मदद से हम विस्तार में जानेंगे पॉवर लूम मशीन क्या है, पॉवर लूम की शुरुआत किस देश से हुई थी तथा हैंडलूम क्या है एवं हैंडलूम कैसे काम करता है.

Power Loom Ka Avishkar Kisne Kiya

Edmund Cartwright नाम के एक वैज्ञानिक ने पॉवर लूम का आविष्कार किया था. वह इंग्लैंड के रहने वाले थे. उन्होंने ये खोज सन 1785 ईस्वीं में की थी.

एडमंड कार्टराइट इंग्लैंड के एक सफल वैज्ञानिक थे जिन्होंने अपनी शिक्षा ऑक्सफ़ोर्ड यूनिवर्सिटी से पूरी की थी. उनका जन्म 24 अप्रैल 1743 में इंग्लैंड में हुआ था. 1784 में वह डर्बीशायर में रिचर्ड आर्क्राइट की कपास-कताई मीलों में गए थे वहा से उन्हें कपड़ा बुनाई की मशीन बनाने की प्रेरणा मिली.

उन्होंने अपने इस विचार पर पूरी मेहनत और लगन से काम किया और अपना पहला आविष्कार Power loom बना कर 1785 में दर्ज करवाया था. उनका यह सिलसिला यही ख़तम नही हुआ उन्होंने इसमें सुधार करने के प्रयास को जारी रखा और  1789 में अपने नए लूम का patent करवा लिया था.

फिर उन्होंने Doncaster में कपड़े बनाने का एक कारखाना खोला जिसमे बड़े पैमाने पर कपड़े बनाए जाते थे. इसके बाद भी उन्होंने इसकी कई सारी कमियों को दूर किया और इस छेत्र में अपना बहुत बड़ा योगदान दिया.

Power Loom Kya Hai

पॉवर लूम एक बिजली से चलने वाला यंत्र है जिसकी मदद से सूत को बुनकर वस्त्रो का निर्माण किया जाता है. पॉवर लूम एक प्रकार का करघा है, जिसने बिजली की सहायता से करघे का काम बहुत ज्यादा आसान और तेज़ कर दिया है.

आज पॉवर लूम की सहायता से वस्त्र निर्माण की गति को दस गुना तक बड़ा दिया गया है.

पॉवर लूम से पहले हथकरघो से कपड़े बुने जाते थे जिसमें काफी समय लगता था और बहुत मेहनत भी, लेकिन पॉवर लूम ने इस कार्य को बहुत सरल कर दिया .

पॉवर लूम के आ जाने से हैंडलूम उद्योग को काफी नुकसान हुआ है, हैंडलूम उद्योग की वजह से कई लोगो के पास रोज़गार था वह अपने रोज़मर्रा के खर्चे हथकरघा से कपड़े बुन कर चलाते थे परन्तु पॉवर लूम ने इनका बड़ी मात्रा में रोज़गार छीन लिया है.

पावरलूम उद्योग क्या है

Power loom उद्योग वस्त्र उद्योग का ही एक हिस्सा है जिसमें सूत, कपड़ा तथा कपड़ो की design से सम्बंधित काम होते है और इन कपड़ो का distribution भी वस्त्र उद्योग का ही हिस्सा कहलाता है.

पॉवर लूम से निर्माण होने वाले वस्त्रों के उद्योग को पॉवर लूम उद्योग कहा जाता है .उद्योग का मतलब उस पूरे छेत्र से है जहाँ पॉवर लूम से कपड़े का निर्माण बहुत अधिक मात्रा में होता है.

पावर लूम मशीन क्या है

पॉवर लूम मशीन वह मशीन है जिससे कपड़ा बनाया जाता है. यह electricity से चलने वाली मशीन है जिससे यार्न की बुनाई की जाती है, फिर कपडा बना कर तैयार किया जाता है.

इसे electricity से चलने वाला करघा भी कहा जा सकता है. यह मशीन औद्योगीकरण के छेत्र में एक क्रांति साबित हुई है.  

दुनिया की पहली पॉवर लूम मशीन 1786 में बनी थी जिसे Edmund Cartwright ने बनाया था.

यह मशीन पुरानी तकनीक से कई  गुना ज्यादा तेज़ है. पहले करघा हाथों से चलाया जाता था जिसमें ज्यादा Manpower, ज्यादा मेहनत और ज्यादा Time लगता था पर यह तकनीक आने से कपड़ा बहुत तेज़ी से बनाया जा सकता है.

पावरलूम का आविष्कार किस देश में हुआ

पॉवर लूम का आविष्कार एक ब्रिटिश scientist द्वारा किया गया था जिससे यह पता चलता है कि सबसे पहले पॉवर लूम इंग्लैंड में आया था.

Handloom Kya Hota Hai

Handloom को हिन्दी में हथकरघा बोला जाता है. करघा एक उपकरण है जिसकी मदद से कपड़ा बुना जाता है. हथकरघा हाथ से चलाए जाने वाले करघे को बोलते हैं.

आजकल इनका उपयोग बहुत कम हो गया है क्योंकि आजकल बिजली से चलने वाले करघे आ गए हैं जिन्हें Power loom कहा जाता है. यह ज्यादा किफ़ायती होते है और इनसे कपड़े ख़राब भी नही होते है.

आज भी कई गाँव में हथकरघे से कपड़े बनाए जाते है. ऐसा कहा जाता है की हथकरघे से बुने हुए कपड़ो की quality मशीन वाले कपड़ो से ज्यादा अच्छी होती है.

हाथ से बुने हुए कपड़े ज्यादा Soft और टिकाऊ होते है इसलिए सरकार भी हथकरघा बुनकरों को आगे बढ़ने के लिए प्रोत्साहित करती है जिससे उनका रोज़गार बना रहे और इससे बिजली की भी बचत होती है.

Powerloom Ka Aavishkar Kisne Kiya

Powerloom का आविष्कार इंग्लैंड के एक वैज्ञानिक ने किया था जिनका नाम एडमंड कार्टराइट था. इन्हे ही इस गजब की तकनीक का श्रेय दिया जाता है क्योकि इन्होने ने ही इस आविष्कार का पेटेंट अपने नाम किया था.

Power Loom Kya Hota Hai

पावर लूम विद्युत ऊर्जा से चलने वाला एक करघा होता है जिसका उपयोग कपड़ो की बुनाई के लिए किया जाता है. आज के समय में हाथ करघा, फ्रेम करघा, शटल करघा आदि कई तरह के करघे मौजूद है.

साल 2006 से पहले केवल हाथो से चलने वाले करघे अर्थात हैंडलूम ही हुआ करते थे, परन्तु अब हैंडलूम की जगह पॉवरलूम का इस्तेमाल किया जाता है, जो बिजली के द्वारा चलते है.

Power Loom Ka Avishkar Kisne Kiya – FAQs
पावरलूम का आविष्कार कब और किसने किया

पावरलूम का आविष्कार सन 1785 में Edmund Cartwright द्वारा किया गया था.

Power Loom Kya Hai

Power Loom एक तकनीक है जिससे धागों को बुन कर कपड़े बनाए जाते है.

Power Loom Was Invented by

पॉवरलूम का इन्वेंशन इंग्लिश वैज्ञानिक Edmund Cartwright द्वारा किया गया था.

पावरलूम का आविष्कार किसने किया

पॉवरलूम का आविष्कार एडमंड कार्टराइट ने इंग्लैंड में किया था क्योकि वह एक इंग्लिश वैज्ञानिक थे.

Powerloom Ka Aavishkar Kisne Kiya Tha

पॉवरलूम का आविष्कार एडमंड कार्टराइट (Edmund Cartwright) ने किया था.

Edmund Cartwright Ne Kis Machine Ka Aavishkar Kiya Tha

Edmund Cartwright ने पॉवरलूम मशीन का आविष्कार किया था.

उम्मीद है आपको यह Article, Power Loom Kya Hai और Power Loom Ka Avishkar Kisne Kiya पसंद आया होगा.

अगर आपको पसंद आया तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करें ताकि वह भी इसके बारे में जान सकते हैं. एवं आपको किसी तरह की समस्या आए तो आप नीचे दिए comment बॉक्स की मदद से हमसे पूछ सकते हैं.

Questions & Answer:
Sabse Acha Photo Editor App Konsa Hai

सबसे अच्छा Photo Editor App कौनसा है – Top 5 Photo Editor App

Computer
Spinner Se Kya Hota Hai और Spinner Ball Kya Hota Hai

Spinner से क्या होता है – Spinner Ball क्या होता है

Kya Kaise
Jyada Sochne Se Kya Hota Hai और ज्यादा सोचने के फायदे और नुकसान

ज्यादा सोचने से क्या होता है – Jyada Sochne के फायदे और नुकसान,बीमारी

HealthKya Kaise
Author :
प्रिये पाठक, आपका हमारी वेबसाइट Lipibaddh.com पर स्वागत है, इस वेबसाइट का काम लोगों को हिंदी भाषा में देश, विदेश एवं दैनिक जीवन में काम आने वाली जरुरी चीजों के बारे में जानकरी देना है.
Questions Answered: (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *