WiFi क्या होता है, वाई फाई कितने में लगता है, #10 फायदे, Range

| | 5 Minutes Read

आज इस पोस्ट में हम जानेंगे Wi Fi Kya Hota Hai और WIFI Kitne Me Lagta Hai.

साथ ही जानेंगे वाई फाई क्या होता है, वाई फाई का फुल फॉर्म, Wi Fi Ki Range Kitni Hoti Hai, वाई फाई कैसे कनेक्ट करें, वाई फाई कितने का आता है इत्यादि की पूरी जानकारी विस्तार में जानेंगे.

WIFI Kya Hota Hai

वाई-फाई, एक Wireless संचार तकनीक है जो बिना किसी Physical Wired Connection के इंटरनेट Access देता है. वाई-फाई का उपयोग अक्सर घर, व्यवसाय स्थल, सार्वजनिक स्थान, हवाई अड्डे, होटलों इत्यादि में किया जाता है. वाई-फाई एक Wireless Networking तकनीक है जिसे आप Laptop, Smartphone, Tablet, Smart TV इत्यादि को एक नेटवर्क से Connect कर सकते हैं. 

वाई-फाई नेटवर्क का मुख्य हिस्सा एक्सेस प्वाइंट या Router होता है. यह इंटरनेट कनेक्शन को Wireless Signal में Convert करता है. इसके बाद Wi-fi Devices, Routers से निकलने वाले रेडियो तरंगों को डिटेक्ट करते हैं और सिग्नल का उपयोग डेटा ट्रांसमिशन के लिए किया जाता है.

Wi-Fi Network को सुरक्षित रखने के लिए Encryption का उपयोग होता है. इससे इसे Unauthorized पहुंच से बचाया जाता है. आमतौर पर उपयोग किए जाने वाले Encryption Standard WEP, WPA और WPA2 हैं.

वाई-फाई नेटवर्क को पहचानने के लिए एक नाम होता है, जिसे Service Set Identifier (SSID) कहा जाता है. आप अपने Device से Wi-Fi Network के SSID को चुन सकते हैं और कनेक्ट कर सकते हैं.

वाई-फाई की रेंज राउटर का कॉन्फ़िगरेशन और भौतिक हस्तक्षेप अनुसार होती है. ज़्यादा हस्तक्षेप होने पर सीमा कम होती है. वाई-फाई की स्पीड राउटर के प्रकार और तकनीक पर निर्भर करता है.

आजकल के Routers High-Speed ​​Wi-Fi 6 (802.11ax) तकनीक का उपयोग करते हैं.

WIFI Kitne Me Lagta Hai

घर पर वाईफाई लगवाने का खर्च आपके ऊपर Depend करता है. जैसे कि: आपको किस कंपनी का वाईफाई लगवाना है, आपको कितने Internet Speed की जरुरत है, आपके Wifi से कितने लोग जुड़ेंगे इत्यादि. एक सामान्य होम वाईफाई लगवाने का खर्च ₹3,000 से ₹5,000/- तक आता है.

WIFI Ki Range Kitni Hoti Hai

वाई-फाई की रेंज या कवरेज एरिया राउटर के प्रकार और उपयोग के लिए टेक्नोलॉजी पर निर्भर है. वाई-फ़ाई राउटर के अलग-अलग प्रकार होते हैं, उनमें से हर एक की अपनी विशिष्ट रेंज होती है. आम तौर पर, वाई-फाई राउटर की रेंज 100 फीट (करीब 30 मीटर) तक होती है.

WIFI Ki Range Kaise Badhaye

1. राउटर की प्लेसमेंट: आपके वाई-फाई राउटर का सही स्थान चुनना बहुत जरूरी है. राउटर को किसी ऊंची सतह पर रखें, जैसे कि एक टेबल या शेल्फ, और उसको सेंट्रल लोकेशन पर रखें ताकि सिग्नल सभी दिशाओं में अच्छे से पहुंचे.

2. राउटर का एंटीना: अगर आपके राउटर के कई एंटेना हैं, तो उनको सही दिशा में सेट करें. हॉरिजॉन्टल और वर्टिकल एंटेना अलग-अलग प्रकार के सिग्नल को प्रदान करते हैं, इसलिए एंटेना को Adjust करके देखें कि कौन सी दिशा में बेहतर प्रदर्शन मिलता है.

3. फर्मवेयर अपडेट: अपने Router के Firmware को नियमित अंतराल पर Update करते रहें. Firmware Update सुरक्षा Patch के साथ-साथ प्रदर्शन में सुधार भी लाते हैं.

4. वायरलेस चैनल: आपके क्षेत्र में दूसरे वाई-फाई नेटवर्क की वजह से हस्तक्षेप हो सकता है. राउटर के सेटिंग्स में जाकर एक कम Crowd Wireless चैनल चुन सकते हैं ताकि सिग्नल की क्वालिटी सुधर जाए.

5. Range Extend: रेंज Extender एक उपाय है, जिसे आप वाई-फाई सिग्नल को एक्सटेंड कर सकते हैं. रेंज एक्सटेंडर को राउटर के पास लगाएं और सेटअप करें. इससे सिग्नल का कवरेज एरिया बढ़ता है.

6. Mesh Wi-Fi System: Mesh Wi-Fi System Multiple Routers और Access Points का उपयोग करते हैं जो एक सीमलेस नेटवर्क बनाते हैं. ये सिस्टम बड़े घर या ऑफिस के लिए अधिक उपयुक्त होते हैं.

7. वायरलेस रिपीटर मोड: कुछ राउटर्स में Wireless Repeater मोड होता है. इस राउटर को एक एक्सटेंडर की तरह इस्तेमाल किया जा सकता है.

8. बाहरी एंटेना: अगर आपके राउटर में हटाने योग्य बाहरी एंटेना हैं, तो आप उन्हें हाई-गेन एंटेना से बदल सकते हैं जो सिग्नल रेंज को बढ़ाते हैं.

9. वाई-फाई रेंज बूस्टर: कुछ कंपनियां वाई-फाई रेंज बूस्टर या सिग्नल बूस्टर भी प्रदान करती हैं जो राउटर से जुड़कर सिग्नल को बढ़ाती हैं.

10. वाई-फाई विश्लेषक उपकरण: स्मार्टफोन ऐप्स और कंप्यूटर सॉफ्टवेयर का उपयोग करके आप वाई-फाई सिग्नल की शक्ति और हस्तक्षेप की जांच कर सकते हैं. इससे सही प्लेसमेंट और सेटिंग्स की जानकारी मिलती है.

WIFI Ki Khoj Kisne Ki

Wi-Fi का आविष्कार John O’Sullivan ने किया था. यह CSIRO (Commonwealth Scientific and Industrial Research Organization) में नौकरी करते थे और उसकी पूरी टीम ने WIFI Network के आविष्कार  में योगदान दिया था.

John O’Sullivan के कुछ बदलावों के कारण ही Wi-Fi की Speed को बढ़ाना मुमकिन किया गया था. Wi-Fi Signal को बेहतर बनाने की वजह से John O’Sullivan को Wi-Fi के आविष्कार का श्रेय दिया जाता है.

Wi Fi Ki Range Kaise Badhaye

वाई फाई की रेंज बढ़ाने के लिए वाईफाई को थोड़ा ऊंचाई पर रखें ताकि उसकी रेंज दूर तक जा सके.

Wi Fi Ki Khoj Kisne Ki

सन 1991 में O Sullivan और John Deane ने वाईफाई की खोज की थी इन्हीं दोनों को वाईफाई के जनक भी कहा जाता है.

उम्मीद करते हैं आपको हमारी पोस्ट WIFI Kya Hota Hai और WIFI Kitne Me Lagta Hai पसंद आई होगी.

अगर आपको हमारा यह Article पसंद आया तो इसे ज्यादा से ज्यादा लोगों के साथ शेयर करें और अगर इस Article से जुड़ा कोई सवाल हो तो उसे नीचे दिए Comment Box में पूछ सकते हैं.

Author:

Hello!! दोस्तों मेरा नाम Vishal है. मैं lipibaddh.com का Writer हूँ. मुझे हिंदी में Technical Blogs लिखना पसंद है. मैं इन Blogs की मदद से आप तक सभी तरह के Apps, Softwares और Hardwares की जानकारी पहुंचाना चाहता हूँ. मेरा आपसे निवेदन है की आप इसी तरह मेरा सहयोग देते रहें और ज़्यादा से ज़्यादा लोगों के साथ मेरे लिखे Content को शेयर करें. मैं आप सभी के लिए Latest जानकारियाँ उपलब्ध करवाता रहूँगा.

Questions Answered: (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *