Calendar का आविष्कार किसने किया – अंग्रेजी कैलेंडर का इतिहास

इस पोस्ट में हम जानेंगे की Calendar Ka Avishkar Kisne Kiya और अंग्रेजी कैलेंडर का इतिहास साथ ही जानेंगे कैलेंडर की शुरुवात कब हुई और कैलेंडर कितने प्रकार के होते है.

Calendar Ka Avishkar Kisne Kiya और अंग्रेजी कैलेंडर का इतिहास

साथ ही पोस्ट में जानेंगे की कैलेंडर क्या होता है और कैलेंडर एकादशी 2022 लिस्ट क्या है. इन सब के बारे में इस पोस्ट में विस्तार से जानेंगे.

Calendar Kya Hota Hai

कैलेंडर एक ऐसी वस्तु होती है जिसकी मदद से तिथि, वार और दिनांक का पता चलता है. कैलेंडर की मदद से यह भी पता चलता है की आज क्या विशेष है, किस महा पुरुष का जनम और पुण्य तिथि है किस दिनांक को कोनसा त्यौहार है, सूर्य ग्रहण और चंद्र ग्रहण कब है. इन सब चीजों के बारे में कैलेंडर से पता चल जाता है.

Calendar Ki Shuruaat Kab Hui

कैलेंडर की शुरुवात लगभग 3500 वर्ष ईसा पूर्व में मानी जाती है. यह कैलेंडर यहूदी कैलेंडर था जो सूरज और चाँद की गति को ध्यान में रखकर बनाया गया था.

Calendar Ki Khoj Kisne Ki

कैलेंडर की खोज का श्रेय रोमन सम्राट जूलियस सीजर को जाता है जिन्होंने सबसे पहले कैलेंडर बनाया था उन्होंने इस कैलेंडर में सुधार के लिए यूनानी ज्योतिष सोसिजिनीस की मदद ली थी.

Calendar Ki Spelling

कैलेंडर की स्पेलिंग Calendar होती है.

Calendar Ka Avishkar Kisne Kiya

दुनिया का सबसे पहला कैलेंडर का आविष्कार सबसे पहले रोम के राजा न्यूमा पोम्पिलियस ने ईसा पूर्व सातवीं शताब्दी में करवाया था. आज विश्व भर में जो कैलेंडर इस्तेमाल किये जाते है उनका आधार रोमन सम्राट जूलियस सीजर द्वारा ईसा पूर्व बनवाया गया कैलेंडर ही माना जाता है. उन्होंने इस कैलेंडर को सही बनाने के लिए यूनानी ज्योतिषी सोसिजिनीस की मदद ली थी.

जूलियस सीजर द्वारा बनवाये गए कैलेंडर को ईसाई धर्म का पालन करने वाले सभी देशो ने स्वीकार कर लिया था. उन्होंने इस कैलेंडर के वर्षो की गिनती ईसा के जन्म से की. उनके जन्म के पहले के वर्षो को बी.सी. (बिफोर क्राइस्ट) और बाद के वर्षो को ए.डी. (आफ्टर डेथ) कहते थे.

इसके अलावा यह भी माना जाता है की आज से 3500 ईसा पूर्व यहूदी कैलेंडर का आविष्कार सबसे पहले हुआ था. यह कैलेंडर सूरज और चंद्रमा की गति पर आधारित था. उसके बाद में 2500 साल पहले चीनी कैलेंडर आया और ईसा के 57 वर्ष पूर्व विक्रम संवत आया था.

अंग्रेजी कैलेंडर का इतिहास

अंग्रेजी कैलेंडर का अपना अलग ही इतिहास रहा है. समय-समय पर इस कैलेंडर में कई तरह के सुधार और संसोधन किये गए है. अंग्रेजी कैलेंडर का 2000 से भी अधिक वर्षो का इतिहास है.

ग्रिगेरियन कैलेंडर को 5 अक्टूबर 1582 को आखिरी बार पोप ग्रिगरी ने संसोधन और सुधार किया था. उस समय तक जूलियन कैलेंडर ही प्रचलन में था, जिसे ईसा पूर्व 46 में जूलियस सीजर ने सुधार किया था. इसके पहले जो कैलेंडर था वह रोमन कैलेंडर था जिसमे साल के केवल 304 ही दिन हुआ करते थे. इसमें महीने भी 10 ही हुआ करते थे.

रोमन कैलेंडर में 10वा महीना दिसंबर हुआ करता था जिसे उस समय रोमन संख्या डेका कहते थे. अक्टूबर 8वा महीना जिसे ऑक्टा, 7वा महीना सितम्बर जिसे सेप्टा कहते थे. अब इनके बिच में दो नए महीने जुड़ने की वजह से ये क्रम बदल गया, जो दो नए महीने जुड़े वो थे जूलियस सीजर के नाम पर जुलाई और ऑगस्टस के नाम पर बना अगस्त.

ईसा पूर्व 46 में पहली बार यह माना गया था की पृथ्वी 365 दिन और 6 घंटे में सूरज का एक चक्कर पूरा कर लेती है. इन 6 घंटे में भी 11 मिनट का अंतर पाया गया. सबसे मुश्किल बात भी इस 11 मिनट के चलते एक साल के कैलेंडर को बनाने में आयी होगी.

हर 4 साल में एक दिन बढ़ाने के लिए फरवरी के महीने को 28 से 29 कर दिया जाता है. लेकिन फिर भी इस 11 मिनट के अंतर को कैलेंडर पर ठीक करना बहुत कठिन रहा होगा. लगभग 1500 वर्षो के दौरान कई वैज्ञानिको ने शोध कर इस समस्यां को काफी हद तक कम कर दिया है.

Calendar Lala Ramswaroop 2022

लाला रामस्वरूप कैलेंडर एक बहुत ही प्रचलित और सटीक कैलेंडर माना जाता है. भारत में कई जगह इस कैलेंडर का इस्तेमाल किया जाता है. आप इसे गूगल से डाउनलोड कर सकते है. इसके अलावा आप इसे बाजार से भी खरीद सकते है. यह आपको 25 से 30 रुपये के मूल्य पर मिल बाजार में मिल जाता है.

Calendar Ke Sawal

कैलेंडर के कई सारे सवाल है जो आपको पता होना चाहिए :

  • कैलेंडर में 7 दिन (सोमवार, मंगलवार, बुधवार, गुरूवार, शुक्रवार, शनिवार और रविवार), 12 महीने (जनवरी ,फरवरी, मार्च अप्रैल, मई, जून, जुलाई, अगस्त, सितंबर, अक्टूबर, नवंबर, दिसंबर) होते है.
  • जनवरी , मार्च , मई, जुलाई, अगस्त, अक्टूबर एवं दिसंबर के महीनो में 31 दिन होते है.
  • वही कुछ महीनो जैसे अप्रैल, जून, सितंबर एवं नवंबर में 30 दिन होते है.
  • एक साल में 365 या 366 दिन होते है इसी के चलते वर्ष को दो भागो में बाटा गया है साधारण और लीप वर्ष
  • साधारण वर्ष में केवल 365 दिन होते है जबकि लीप वर्ष में 366 दिन होते है. लीप वर्ष ऐसा वर्ष होता है जिसमे 4 का पूरा भाग चला जाता है जैसे 2000, 2004 आदि.
  • महीने के कोड –  जनवरी (0),फरवरी (3), मार्च (3), अप्रैल (6), मई (1), जून (4), जुलाई (6), अगस्त (2), सितंबर (5), अक्टूबर (0), नवंबर (3), दिसंबर (5)
  • लीप वर्ष में जनवरी का कोड 6 और फरवरी का 2 होता है.
  • कुछ महीने ऐसे भी होते है जिनके शुरुवात के दिन सामान और महीने के अंत के दिन भी समान होते है :
  • प्रथम दिन समान : 1. फरवरी-मार्च, नवंबर 2. जनवरी, अक्टूबर 3. अप्रैल, जुलाई 4. सितम्बर, दिसंबर
  • अंतिम दिन समान : 1. जनवरी-फरवरी, अक्टूबर 2. मार्च, जून 3. अप्रैल, दिसंबर 4. अगस्त, नवंबर

Calendar Ki Sahi Disha

वास्तु शास्त्र के अनुसार कैलेंडर को हमेशा उत्तर, पूर्व या पश्चिम की दिशा में दीवार पर लगाना सही होता है. वास्तुशास्त्र के मुताबिक उत्तर दिशा में कैलेंडर को लगाने से बिज़नेस में सफलता और नए अवसर प्राप्त होने की संभावनाएं बढ़ जाती है.

Calendar Ekadashi 2022 List

साल 2022 में ग्यारस की दिनांक कुछ इस प्रकार है :

  • 13 January 2022
  • 28 January 2022
  • 12 Febuary 2022
  • 26 or 27 Febuary 2022
  • 14 March 2022
  • 28 March 2022
  • 12 or 13 April 2022
  • 26 April 2022
  • 12 May 2022
  • 26 May 2022
  • 10 or 11 June 2022
  • 24 June 2022
  • 10 July 2022
  • 24 July 2022
  • 8 August 2022
  • 23 August 2022
  • 6 or 7 September 2022
  • 21 September 2022
  • 6 October 2022
  • 21 October 2022
  • 4 November 2022
  • 20 November 2022
  • 3 or 4 December 2022
  • 19 December 2022

भारत का राष्ट्रीय कैलेंडर कौन सा है

भारत का राष्ट्रीय कैलेंडर शक संवत है.

Calendar Download Karna Hai

कैलेंडर डाउनलोड करने के लिए आप गूगल और गूगल प्ले स्टोर का इस्तेमाल कर सकते है.

Calendar – FAQs
कैलेंडर कितने प्रकार के होते हैं

कैलेंडर कई तरह के होते है जिसमे अकेले भारत में ही कई तरह के कैलेंडर जैसे हिन्दू पंचांग, बंगाली, उर्दू, इंग्लिश कैलेंडर आदि है. पुरे विश्व में लगभग 50 तरह के कैलेंडर होंगे.

सबसे पुराना कैलेंडर कौन सा है

विश्व का सबसे पुराना कैलेंडर ग्रिगेरियन कैलेंडर है, जिसकी शुरुवात लगभग 1582 में हुई थी. यह कैलेंडर सूर्य चक्र पर आधारित था.

उम्मीद करते है आपको हमारी यह पोस्ट Calendar Ka Avishkar Kisne Kiya और अंग्रेजी कैलेंडर का इतिहास पसंद आई होगी.

अगर आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया है तो इसे ज्यादा से ज्यादा लोगों के साथ शेयर कर दीजिए और इस आर्टिकल से जुड़ा कोई भी सवाल हो तो उसे आप नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट कर के पूछ सकते हैं.

Questions & Answer:
Hasne Se Kya Hota Hai - Hasne Ke Fayde Aur Nuksan

हंसने से क्या होता है – हंसने के फायदे और नुकसान

Health
Lungs में पानी भरने से क्या होता है और Lungs में पानी भरने के लक्षण

Lungs में पानी भरने से क्या होता है- फेफड़ों को साफ करने के लिए क्या खाना चाहिए

HealthKya Kaise
Tulsi Khane Se Kya Hota Hai और तुलसी के पत्ते को कैसे खाएं

Tulsi खाने से क्या होता है- तुलसी के पत्ते को कैसे खाएं, फायदे और नुकसान

Kya Kaise
Author :
प्रिये पाठक, आपका हमारी वेबसाइट Lipibaddh.com पर स्वागत है, इस वेबसाइट का काम लोगों को हिंदी भाषा में देश, विदेश एवं दैनिक जीवन में काम आने वाली जरुरी चीजों के बारे में जानकरी देना है.
Questions Answered: (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *