0 Zero का आविष्कार किसने किया, शून्य की खोज किसने कब की

| | 4 Minutes Read

क्या आप भी Internet पैर इस्तेमाल होने वाले Zero के आविष्कारक की जानकारी ढूंढ रहे हैं? अगर हाँ तो आप सही जगह हैं. आज हम आपको इस Article की मदद से बताएंगे Zero Ka Avishkar Kisne Kiya और Zero Ki Khoj Kisne Ki Thi.

साथ ही हम आपको इस Article के माध्यम से Zero के इतिहास से जुड़े और भी महत्वपूर्ण सवालों के जवाब देंगे. जैसे कि Zero Kya Hai, Zero Ki Importance, Zero Ka Prayog Kaise Kare, Zero Even Hai Ya Odd इत्यादि की पूरी जानकारी विस्तार में जानेंगे.

Zero Ka Avishkar Kisne Kiya

जीरो का आविष्कार का श्रेय भारत के महान गणितज्ञ ब्रह्मगुप्त ने किया था. ब्रह्मगुप्त ने जीरो का आविष्कार लगभग 628 ईस्वी में किया था, परन्तु वह इसका इस्तेमाल करने में असफल थे. इसके बाद  ज्योतिषी आर्यभट्ट ने सबसे पहले जीरो का प्रयोग किया था. आज के वक़्त में हर कोई इन्हें ही जीरो के आविष्कारक का दर्ज़ा देता है.

ब्रह्मगुप्त ने केवल ऐसे शब्द की कल्पना की थी, लेकिन कोई सिद्धांत ना दे पाने की वजह से आर्यभट्ट को शून्य का मुख्य आविष्कारक नहीं माना जाता है.

Zero Ki Khoj Kisne Ki Thi

कई वैज्ञानिको का यह मानना है की ज़ीरो का आविष्कार सबसे पहले भारत में ही किया गया था उसके बाद यह पूरी दुनिया में पंहुचा, परन्तु अमेरिका के एक गणितज्ञ का यह कहना है की जीरो की खोज भारत में नहीं हुई थी बल्कि सबसे पुराना जीरो अमेरिकी गणितज्ञ Aamir Excel ने Cambodia में खोजा था. खैर सच्चाई तो सब लोग जानते ही है उसे कौन झुठला पाएगा.

Zero Kya Hai

“शून्य” (Zero) का इतिहास 2000 शब्दों में:

शून्य, जिसे Worldwide में शून्य नाम से जाना जाता है, यह गणित का एक महत्वपूर्ण और अद्वितीय अंक है. यह अंक हमारे Economics और गणित के शास्त्र में एक महत्वपूर्ण स्थान रखता है. यह आधुनिक गणित का मूल और अभिन्न हिस्सा है.

शून्य का इतिहास अत्यंत महत्वपूर्ण है, क्योंकि यह हमारे गणित और विज्ञान के विकास के साथ-साथ मानव सभ्यता के इतिहास का हिस्सा है.

शून्य का आविष्कार: शून्य का आविष्कार विभिन्न समयों और स्थानों पर हुआ है, और इसका इतिहास विचारशीलता और प्रौद्योगिकी के साथ जुड़ा हुआ है. इसका पहला प्रमुख उल्लेख Aryabhata द्वारा 5वीं शताब्दी ईसा पूर्व में किया गया था, जो भारतीय गणितज्ञ थे.

शून्य का प्रयोग: शून्य का प्रयोग गणित, विज्ञान, और प्रौद्योगिकी में व्यापक रूप से होता है. यह गणित में Arithmetic, Equations की हल करने, और Graphical Establishments में बड़ी संख्याओं को प्रस्तुत करने के लिए आवश्यक होता है. यह विज्ञान में Big Bang Theory से लेकर Quantum Mechanics तक कई क्षेत्रों में उपयोग होता है, जब हम शून्य को वास्तविकता के साथ मापन और उपयोग करते हैं.

शून्य का महत्व:
1. संख्या शास्त्र में: शून्य गणित के बहुत महत्वपूर्ण हिस्सा है, और यह प्राकृतिक अंगकों को प्रस्तुत करने के लिए क्रियाशीलता का एक अहम तरीका है.

2. विज्ञान में: शून्य विज्ञान में भी महत्वपूर्ण है, जैसे कि विभाजन और विस्तार के लिए.

3. प्रौद्योगिकी में: शून्य के बिना, Computer Technology और Electronics असंभव होती. शून्य बिना कोई भी Digital Signal असंभव होता.

शून्य का Characteristic अर्थ: शून्य का Character Meaning खालीपन, सुना और शांति है. यह ध्यान और मानसिक शांति का प्रतीक भी होता है.

Kya Zero Even Number Hai

हाँ, जीरो एक सम संख्या (Even Number) होती है, क्योंकि यह 2 से गुणा और भाग देने पर विभाजित हो जाती है और इसका परिणाम भी ज़ीरो ही मिलता है.

सम संख्या (Even Number): सम संख्या (Even Number) ऐसी संख्याएं होती है जिन्हें 2 से भाग दिया जाता है तो यह पूरी तरह विभाजित हो जाती है जैसे : 0, 2,4,6,8,10 आदि.

Kya Zero Rational Number Hai

हां, जीरो एक परिमेय संख्या (Rational Number) भी होती है क्योंकि इसे p/q के रूप में व्यक्त किया जा सकता है.

परिमेय संख्या ऐसी संख्या होती है जिन्हें p/q के रूप में व्यक्त किया जाता है जहाँ p और q दोनों पूर्णांक होते है. इसमें p शून्य के बराबर तथा q शून्य के बराबर नहीं होता है. इस तरह 0 को p/q के रूप में व्यक्त किया जा सकता है. अतः यह एक परिमेय संख्या भी है.

0 का मान कितना होता है

0 का मान शून्य या कुछ भी नहीं होता है, परन्तु 0! का मान 1 होता है.

Zero Kaisa Number Hai

जीरो एक परिमेय और सम संख्या है, यह एक पूर्णांक भी है.

Shunya Ka Avishkar Kisne Kiya

शून्य का आविष्कार ब्रह्म गुप्त ने किया था.

उम्मीद करते हैं आपको हमारी पोस्ट Zero Ka Avishkar Kisne Kiya और Zero Kya Hai पसंद आई होगी.

अगर आपको हमारा यह Article पसंद आया तो इसे ज्यादा से ज्यादा लोगों के साथ शेयर करें और अगर इस Article से जुड़ा कोई सवाल हो तो उसे नीचे दिए Comment Box में पूछ सकते हैं.

Author:

Hello!! दोस्तों मेरा नाम Sameer है. मैं lipibaddh.com का Writer हूँ. मुझे हिंदी में Inventions से जुड़ी जानकारी पर Blogs लिखना पसंद है. मैं इन Blogs की मदद से आप तक सभी नए पुराने Inventions/ आविष्कार की जानकारी पहुंचाना चाहता हूँ. मेरा आपसे निवेदन है की आप इसी तरह मेरा सहयोग देते रहें और ज़्यादा से ज़्यादा लोगों के साथ मेरे लिखे Content को शेयर करें. मैं आप सभी के लिए Latest जानकारियाँ उपलब्ध करवाता रहूँगा.

Questions Answered: (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *