Homeopathic का आविष्कार किसने किया, जाने होम्योपैथि के #6 फायदे

| | 4 Minutes Read

आज हम आपको इस Article की मदद से बताएंगे Homeopathic Ka Avishkar Kisne Kiya और Homeopathic Ki Padhai Kaise Kare.

साथ ही हम आपको होम्योपैथि से जुड़े और भी सवालों के जवाब देंगे. जैसे कि Homeopathic Ki Padhai Kaise Kare, Homeopathic Se Skin Ka Ilaj, Homeopathic Ke Side Effects in Hindi, Homeopathic Ka Matlab इत्यादि की पूरी जानकारी विस्तार में जानेंगे.

Homeopathic Ka Avishkar Kisne Kiya

होम्योपैथी का अविष्कार Dr. Christian Friedrich Samuel Hahnemann ने सन 1755 से 1843 के लगभग किया था. जो एक जर्मन चिकित्सक थे.

Homeopathic Ki Padhai Kaise Kare

Homeopathic की पढ़ाई करने के लिए आपको सबसे पहले 12वीं Biology Stream से पास करना होता है. इसके बाद आपको BHMS कोर्स में एडमिशन के लिए NEET एग्जाम Qualify करना होगा. NEET एग्जाम पास करने के बाद आप किसी भी मेडिकल College से BHMS कोर्स कर सकते हैं.

यह Bachelor of Homoeopathic Medicine and Surgery होता है. जो करीब साढ़े पांच साल तक का होता है. इसमें Theoretical Knowledge और इंटर्नशिप शामिल होती है.

डिग्री होम्योपैथिक दवा और औषधीय ज्ञान का नॉलेज प्रदान करने में मदद करता है.

Homeopathic Ilaj Ke Fayde

1. यह बुखार, खांसी, गठिया, डायबिटीज जैसी बीमारियों के इलाज में सहायक है.

2. कोई भी चोट जिसमें खून न निकले, खून जमकर काला पड़ना तो ऐसी चोट के लिए Homeopathic असरदार होती है.

3. कटने, फटने-चोट लगने से खून बहने एवं तेज छींके, सर्दी-जुकाम आदि होने पर जल्दी आराम मिलता है.

4. गर्भवती एवंस्तनपान कराने वाली महिलाओं, बच्चों, बुजुर्गों सभी के लिए सुरक्षित है.

5. शरीर की महत्वपूर्ण ऊर्जा को ठीक करने एवं महामारी रोगों के उपचार में उपयोगी है.

6. रोगी को होम्योपैथिक दवाओं की लत नहीं लगती है. जिससे इसका सेवन समिति मात्रा में बिना डर के किया जा सकता है.

Homeopathic Se Skin Ka Ilaj

1. Graphites: इसका उपयोग त्वचा संबंधित रोगों के इलाज में किया जाता है जैसे कि, Dry & Scaly त्वचा, Fixed Eczema, खोपड़ी चेहरे पर खुजली Eczema आदि.

2.Arsenicum: पुरानी Eczema बीमारी, Psoriasis और Urticaria के इलाज के लिए आर्सेनिकम दी जाती है.

3. Sulphur: त्वचा की स्थिति जैसे सूखी और खुजली खोपड़ी, पीले Crust के साथ विस्फोट, त्वचा के फोल्ड में खुजली, भंगुर नाखून, मुंह के कोनों एवं नाक के आसपास सूखी त्वचा इत्यादि इलाज में दी जाती है.

4. Mezearium: त्वचा Allergy और तीव्र खुजली के लिए Mezearium का उपयोग किया जाता है. जैसे कि Crustiness और खुजली, Thick Puss के साथ Scabs, तंत्रिका दर्द आदि.

5. Rhus Toxicodendron: इसका उपयोग त्वचा संबंधित रोग के इलाज में किया जाता है जैसे कि, जोड़ों में दर्द, चरम खुजली इत्यादि.

6. Natrum Muriaticum: Dry Skin इलाज के लिए किया जाता है. जैसे जोड़ों में तरल पदार्थ से भरे छाले, नमी एक्जिमा आदि.

Homeopathic Ke Side Effects in Hindi

Homeopathic दवा का कोई Side Effects नहीं है बल्कि यह एक ऐसा इलाज जिसके दौरान बीमारी को जड़ से खत्म करने की कोशिश की जाती है.

1. आपातकाल स्थि‍ति में होमियाेपैथि‍क दवाओं से आराम नहीं मिल पाता है.

2. सर्जरी या अन्य स्थितियों में तुरंत इलाज के लिए Homeopathy आपकी मदद नहीं कर सकती है.

3. पोषण संबंधित समस्या या कमी होने पर इसके इस्तेमाल से कोई फायदा नहीं मिलता है. उदाहरण: Anemia अथवा आयरन की कमी होने पर.

4. इन दवाइयों का Over Dose लेने से पेट संबंधित समस्या हो सकती है.

Homeopathic Kya Hota Hai

होम्योपैथी एक प्रकार की चिकित्सा पद्धति है जिसे विशेष तरीके से प्रकृति के चिकित्सात्मक पदार्थों का उपयोग करके बनाया जाता है. Homeopathic का शाब्दिक अर्थ है समान को समान से चिकित्सा होता है. इसका उद्देश्य शरीर की Natural Disease और Immune System को सक्रिय करना है.

Homeopathic Ka Matlab

होम्योपैथी एक प्रकार की चिकित्सा पद्धति है जिसे 1796 में जर्मन डॉक्टर Samuel Hahnemann ने विकसित किया था. इसका आधारभूत सिद्धांत समान को समान से चिकित्सा देना है. इसका अर्थ है कि जो अच्छी तरह से एक आरोग्य दायी व्यक्ति को बीमार करता है, वही उसे ठीक भी कर सकता है.

इसके अनुसार किसी व्यक्ति की बीमारी उसके मानसिक और भावनात्मक स्थिति का परिणाम है. इसलिए इन दवाओं का उपयोग करके शरीर की स्वास्थ्य प्रक्रियाओं को बढ़ावा देना है.

Homeopathic Medicine Ka Asar

Homeopathic Medicine का असर Acute रोगों में 5 से 30 मिनट और Chronic बीमारियों में 5 से 7 दिन में होता है. क्योंकि गंभीर बीमारियों में होम्योपैथी दवाएं बहुत धीमी गति से अपना प्रभाव दिखाती हैं और छोटी-मोटी बीमारियों में यह जल्दी असर करती हैं.

होम्योपैथी धीमी गति से बीमारी को जड़ से खत्म करने का काम करती हैं.

अगर आपको Homeopathic Ka Avishkar Kisne Kiya पोस्ट पसंद आई तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करें.

अगर आपके मन में कोई सवाल है तो आप Comment करके पूछ सकते हैं.

Author:

Hello!! दोस्तों मेरा नाम Sameer है. मैं lipibaddh.com का Writer हूँ. मुझे हिंदी में Inventions से जुड़ी जानकारी पर Blogs लिखना पसंद है. मैं इन Blogs की मदद से आप तक सभी नए पुराने Inventions/ आविष्कार की जानकारी पहुंचाना चाहता हूँ. मेरा आपसे निवेदन है की आप इसी तरह मेरा सहयोग देते रहें और ज़्यादा से ज़्यादा लोगों के साथ मेरे लिखे Content को शेयर करें. मैं आप सभी के लिए Latest जानकारियाँ उपलब्ध करवाता रहूँगा.

Questions Answered: (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *