Washing Machine का आविष्कार किसने किया – वाशिंग मशीन कैसे यूज़ करें

इस पोस्ट में हम जानेंगे की Washing Machine Ka Avishkar Kisne Kiya और Washing Machine Kaise Use Karen साथ ही जानेंगे वाशिंग मशीन कितने की आती है और वाशिंग मशीन के पार्ट्स के नाम क्या है.

Washing Machine Ka Avishkar Kisne Kiya और Washing Machine Kaise Use Karen

साथ ही पोस्ट में जानेंगे की वाशिंग मशीन से पानी कैसे निकाले और वाशिंग मशीन की सफाई कैसे करें. इन सब के बारे में इस पोस्ट में विस्तार से जानेंगे.

Washing Machine Kya Hai

वाशिंग मशीन को हिंदी में धुलाई मशीन भी कहते है. यह एक घरेलु उपकरण उपकरण होता है जिसकी मदद से कपड़ो को मशीन में ही धोया जाता है.

आजकल वाशिंग मशीन आटोमेटिक भी आने लगी है. जिसकी मदद से मशीन पानी अपने हिसाब से ले लेती है बस आपको उसमे डिटर्जेंट या सर्फ़ डालने क जरुरत होती है.

Washing Machine Ka Avishkar Kisne Kiya

वाशिंग मशीन का आविष्कार सबसे पहले जर्मन वैज्ञानिक जैकब क्रिश्चियन शेफ़र (Jacob Christian Schaefer) ने सन 1767 में किया था. यह एक स्केटबोर्ड था जो कपड़ो को धोने के लिए डिज़ाइन किया गया था. उस समय इसे ही वाशिंग मशीन कहा जाता था परन्तु यह वाशिंग मशीन नहीं थी.

इसके 30 सालो बाद एक अमेरिकी वैज्ञानिक नथानिएल ब्रिग्स ने वाशिंग मशीन के आविष्कार का पेटेंट प्राप्त किया था.

अमेरिकी इंजीनियर अल्वा जॉन फिशर को सामान्य रूप से पहली इलेक्ट्रॉनिक मशीन का आविष्कारक माना जाता है इन्होने 1901 में इसका पेटेंट अपने नाम किया था. फिर 1907 में  Chicago Illinois की हार्ले मशीन कंपनी ने इस मशीन को Mighty Thor नाम से मार्केट में लांच किया था. यह इलेक्ट्रॉनिक मशीन थी जिसने कपडे धोने के काम को बहुत आसान बना दिया था.

Washing Machine Kitne Ki Aati Hai

वाशिंग मशीन अलग-अलग ब्रांड में आती है. कुछ वाशिंग मशीन सिंपल तो कुछ सेमि ऑटोमेटिक और कुछ फूल ऑटोमेटिक होती है, जिसके कारण इसकी कीमत भी अलग-अलग हो जाती है.

सैमसंग 6.5 kg की फुल ऑटोमेटिक मशीन की कीमत लगभग 14,500 है, इसकी पावर क्षमता 350 Watts और 650 RPM है. कुछ अन्य ऑटोमेटिक वाशिंग मशीन की कीमत, उसके वजन, पावर कैपेसिटी और RPM की वजह से कम ज्यादा हो सकती है.

Washing Machine Ka Rate

वाशिंग मशीन के अलग-अलग ब्रांड होते है और उनकी क़्वालिटी भी अलग-अलग होती है. इन्ही के आधार पर वाशिंग मशीन की कीमत तय होती है. इसकी शुरुवाती कीमत 7000 रुपये होती है, और अधिकतम 30,000 रुपये या इससे भी अधिक हो सकती है.

Washing Machine Ka Stand

वाशिंग मशीन को रखने के लिए स्टैंड भी आता है जिस पर आप वाशिंग मशीन को रख सकते है. बाजार में और ऑनलाइन दोनों ही जगह वाशिंग मशीन का स्टैंड  उपलब्ध होता है जिसे आप कही से भी खरीद सकते है.

यह आपको 800 रु से लेकर 1500 रुपये तक मिल जाता है. इसकी कीमत कम ज्यादा हो सकती है.

Washing Machine Ke Parts Ke Naam

वॉशिंग मशीन अलग-अलग प्रकार की होती हैं, इनके कुछ पार्ट्स तो एक जैसे परंतु कुछ पार्ट्स अलग-अलग हो सकते हैं.

वाशिंग मशीन के पार्ट्स :

  • Wash Motor 
  • Spin Motor
  • Motor Belt
  • Wash Motor Capacitor
  • Spin Motor Capacitor
  • WM Gear Box
  • Wash Pulsator Wheel
  • Spin Motor Tag
  • Spin Timer
  • Wash Timer
  • Spin Motor plate
  • Wash timer Knobs
  • Drain Selector
  • Buzzer
  • Wash Machine Drain Out Rubber
  • Wah Machine Water Inlet Pipe
  • Drain Selector Tag
  • Drain Water Outlet Pipe
  • Spin Drum & Door
  • Wash Drum & Door
  • Lint Collector
  • Drain Section fitting
  • Spin Drum OTB Rubber
  • Wash Pulsator Wheel
  • Washing Machine Stand
  • Spin Cap
  • Drain Motor
  • Water Level Pressure Sensor
  • Wash drum Support Spring Sets
  • Wash Timer PCB Main
  • Water inlet Feed Valve
  • PCB Board
  • Door Sensor
  • Hub

Washing Machine Kaise Use Karen

वाशिंग मशीन को इस प्रकार इस्तेमाल करने से आपको और मशीन दोनों को बहुत फायदा होगा:

  • सबसे पहले वाशिंग मशीनरी कपड़ों को डालने से पहले कपड़ों को अलग-अलग कैटेगरी में बांट लें
  • कपड़ो को अलग-अलग केटेगरी में बाटने से बहुत फायदा होगा इसमें कॉटन के अलग और नए कपड़ो को अलग धोये नहीं तो दाग लगने का खतरा अधिक होता है.
  • वॉशिंग मशीन में कभी भी पहले डिटर्जेंट पाउडर को नहीं डालना चाहिए, शुरुवात कपड़ो को डालने से करना चाहिए.
  • वाशिंग मशीन में कपड़ों को डालने के बाद इसमें पानी डाले और फिर अंत में ऊपर से जरुरत के मुताबिक डिटर्जेंट पाउडर को डालें.
  • ऐसा करने से वाशिंग मशीन के ड्रम एवं अन्य हिस्सों में डिटर्जेंट और गंदगी जमने का खतरा कम हो जाता है.
  • अगर नए कपड़ो को आप वाशिंग मशीन में धो रहे हैं तो पहले इसे पानी से गिला कर देख ले कि यह कलर तो नहीं छोड़ रहे हैं, नहीं तो इससे आपके सारे कपड़े खराब हो सकते हैं.
  • शर्ट के बटन लगाकर उसे मशीन में ना डाले,  इससे शर्ट के बटन कमजोर हो सकते है और टूट सकते है.
  • कोशिश यही करे की कपड़ो को नेचुरल हवा में सुखाया जाए, ड्रायर के अधिक इस्तेमाल से कपड़ो में सिलवट और रिंकल्स हो सकती है.
  • कई बार कपड़ो में कम पानी और अधिक  डिटर्जेंट की वजह से डिटर्जेंट के कण कपड़ो पे चिपक जाते है.
  • वाशिंग मशीन में कपड़े को धोते समय पानी का लेवल और डिटर्जेंट पाउडर की मात्रा का भी ध्यान रखना चाहिए, इंस्ट्रक्शन को फॉलो कर कपडे को धोये तो कपडे अच्छी तरह से साफ़ हो जायेंगे.

Washing Machine Ki Safai Kaise Karen

वाशिंग मशीन कई तरह के कपडे धोती है. कई बार कुछ गंदे कपड़ो की वजह से इनमे दाग लग जाते है और अंदर से बदबू भी आने लगती है. इसलिए वाशिंग मशीन की सफाई करना भी जरुरी होता है. इसके लिए हम आपको कुछ तरीके बता रहे है जिनसे आप वॉशिंग मशीन को साफ कर सकते हैं :

  • वाशिंग मशीन के डिटर्जेंट बॉक्स को साफ़ करना 

वॉशिंग मशीन की मदद से जब भी कपड़ों को धोया जाता है तो वॉशिंग मशीन के डिटर्जेंट बॉक्स के अंदर कपड़ों से निकलने वाली गंदगी और कीटाणु रह जाते है. इसलिए जब भी आप अपने कपड़े को देखते हैं उसके बाद वाशिंग मशीन के डिक्टेशन बॉक्स को अच्छी तरह से साफ शुरू करें.

कोशिश यही करे की इस डिटर्जेंट बॉक्स को बाहर निकाल कर अच्छी तरह से साफ़ किया जा सके, जिससे सारे कीटाणु और गन्दगी अच्छी तरह से साफ़ हो  जाए.

  • सही वाशिंग पाउडर का प्रयोग करे 

नहीं लोग वॉशिंग मशीन में कपड़े को ढूंढने के लिए लिक्विड सॉप का इस्तेमाल करते हैं, जबकि ऐसा नहीं करना चाहिए इससे वॉशिंग मशीन के अंदर बदबू आने लगती है.

इसलिए जब भी वॉशिंग मशीन की मदद से कपड़े धोने जाए तो उसमें सही और अच्छी क़्वालिटी वाला डिटर्जन पाउडर इस्तेमाल किया जाए.

  • वाशिंग मशीन के ड्रम को साफ करें

कई लोग वाशिंग मशीन की ऊपरी सफाई तो करते हैं परन्तु भीतरी सफाई नहीं करते, जिससे कई बार कपडे ठीक तरह से साफ़ नहीं हो पाते है और मशीन और कपड़ो से बदबू आने लगती है.

जिस तरह वाशिंग मशीन की बाहरी सफाई करना जरुरी होता है ठीक उसी तरह वाशिंग मशीन के ड्रम की सफाई करना भी बहुत जरूरी होता है. वाशिंग मशीन के ड्रम में कई सारे छोटे-छोटे छिद्र होते हैं जिनमें गंदगी और कीटाणु रह जाते हैं.

ड्रम को साफ करने के लिए इसमें आप सोडा क्रिस्टल का इस्तेमाल कर सकते है और गरम पानी का भी इस्तेमाल कर सकते है. इससे वाशिंग मशीन में पनपने वाले कीटाणु भी मर जाते हैं.

  • फ़िल्टर को खोल कर अच्छी तरह से साफ़ करें 

वाशिंग मशीन में एक जगह और होती है जहा कीटाणु पनप सकते है और वो जगह वाशिंग मशीन का फ़िल्टर होता है. वाशिंग मशीन के यहां इसका अधिकतर जिला रहता है, इसलिए इसमें कीटाणुओं और गन्दगी के पनपने का खतरा भी अधिक रहता है.

वाशिंग मशीन के फिल्टर को साफ करने के लिए फ़िल्टर को बाहर निकाल कर उसे ब्रश की मदद से अच्छी तरह से साफ़ करे, इससे आप फ़िल्टर को आसनसोल अच्छी तरह से साफ कर पाएंगे.

Washing Machine Se Pani Kaise Nikale

वाशिंग मशीन में कपडे खोने के बाद कई बार उसमें पानी रह जाता है. इस पानी को निकालने के लिए वाशिंग मशीन में एक पाइप होता है जिसकी मदद से वाशिंग मशीन से पानी को बाहर निकाला जाता है. यह पाइप ड्रेन लाइन कहलाती है, जो पानी को निकलने में सहायक होती है.

Washing Machine Awaz Kare to Kya Karen 

कई बार वाशिंग मशीन चलते हुए भी आवाज करती है और कपडे धूल जाने पर भी आवाज करती है. कई बार वाशिंग मशीन के अंदर कुछ प्रॉब्लम्स आ जाती है जिसकी वजह से वाशिंग मशीन आवाज करने लग जाती है.

अगर मशीन ज्यादा ही आवाज करती है  या लगातार आवाज करने लग जाती है तो इसे बंद कर दीजिये और दोबारा चालू करने पर भी यही स्तिथि रहती है तो इसे किसी मैकेनिक को दिखाकर सही करवाए. 

Washing Machine – FAQs 
Washing Machine Ki Price

ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरीके से आप वॉशिंग मशीन को खरीद सकते हैं. वॉशिंग मशीन अलग-अलग प्रकार की होती है और उनकी कीमतें भी अलग-अलग हो सकती है.

Washing Machine Ki Motor Price

वाशिंग मशीन की मोटर अलग-अलग तरह की होती है और उनकी कीमत भी अलग-अलग हो सकती है. इसकी शुरुवाती कीमत 1000 रु से होती है. इसकी कीमत और ज्यादा हो सकती है. मोटर की परफॉरमेंस और ब्रांड पर भी इसकी कीमत निर्भर करती है.

Washing Machine Se Kapde Kaise Dhoye

वाशिंग मशीन से कपडे धोने का तरीका इस पोस्ट में हमने आपको बताया है जिसे आप जान सकते है.

उम्मीद करते है आपको हमारी यह पोस्ट Washing Machine Ka Avishkar Kisne Kiya और Washing Machine Kaise Use Karen पसंद आई होगी.

अगर आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया है तो इसे ज्यादा से ज्यादा लोगों के साथ शेयर कर दीजिए और इस आर्टिकल से जुड़ा कोई भी सवाल हो तो उसे आप नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट कर के पूछ सकते हैं.

Questions & Answer:
Control X Se Kya Hota Hai और Ctrl X Keyboard Kis Liye Use Karte Hai

Control X से क्या होता है – Ctrl X कीबोर्ड किस लिए यूज़ करते है

Computer
Ews Certificate Se Kya Hota Hai और Ews Certificate Banane Ke Liye Document

Ews Certificate से क्या होता है – Ews सर्टिफिकेट बनाने के लिए डॉक्यूमेंट

Kya Kaise
Vernier Caliper Kya Hai और Vernier Caliper Ka Avishkar Kisne Kiya

Vernier Caliper क्या है – वर्नियर कैलिपर का आविष्कार किसने किया

Avishkar
Author :
प्रिये पाठक, आपका हमारी वेबसाइट Lipibaddh.com पर स्वागत है, इस वेबसाइट का काम लोगों को हिंदी भाषा में देश, विदेश एवं दैनिक जीवन में काम आने वाली जरुरी चीजों के बारे में जानकरी देना है.
Questions Answered: (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *