Cycle का आविष्कार किसने किया – भारत में साइकिल का आविष्कार कब हुआ

इस पोस्ट में हम जानेंगे की Cycle Ka Avishkar Kisne Kiya और भारत में साइकिल का आविष्कार कब हुआ साथ ही जानेंगे साइकिल कितने की आती है और साइकिल के बारे में 10 लाइन लिखिए.

Cycle Ka Avishkar Kisne Kiya और भारत में साइकिल का आविष्कार कब हुआ 

साथ ही पोस्ट में जानेंगे की साइकिल कंपनी के नाम, इसके पार्ट्स और साइकिल के बारे में जानकारी दीजिए. इन सब के बारे में इस पोस्ट में विस्तार से जानेंगे.

Cycle Kya Hai

साइकिल यातायात का एक साधन है जिसकी मदद से कही भी आ जा सकते है. इसे चलाने के लिए इसमें पैडल भी लगे होते है और मोड़ पर मुड़ने या किसी अन्य दिशा में जाने के लिए हैंडल लगा होता है. साइकिल की मदद से किसी भी जगह जाने में पैदल चलने के मुकाबले अधिक समय नहीं लगता और हम जल्दी पहुंच जाते है.

Cycle Ki Khoj Kisne Ki

दुनिया की सबसे पहली साइकिल की खोज का श्रेय जर्मनी के प्रसिद्द आविष्कारक Karl Von Drais को दिया जाता है. इन्होने इस साइकिल का आविष्कार 1817 में किया था.

Cycle Ka Avishkar Kisne Kiya

साइकिल का आविष्कार सबसे पहले जर्मनी के एक वनाधिकारी कार्ल वॉन ड्रैस (Karl Von Drais) ने किया था. इनके द्वारा बनायीं गयी यह साइकिल दुनिया की पहली साइकिल थी जिसका आविष्कार 205 साल पहले यानी 1817 में हुआ था. कार्ल यूरोप के एक प्रसिद्द आविष्कारक थे और उन्होंने साइकिल के साथ-साथ अन्य चीजों का भी आविष्कार किया था.

इनके द्वारा किये गए अन्य आविष्कार कागज पर पियानो म्यूजिक को रिकॉर्ड करने के लिए उपकरण, कीबोर्ड वाला शुरुवाती टाइपराइटर, 16 अक्षरों की स्टेनोग्राफ मशीन, मीट ग्राइंडर मशीन (कीमा बनाने वाली मशीन) है. इसके अलावा इनके नाम अन्य कई तरह की उपलब्धिया है.

कार्ल द्वारा बनायीं गयी यह साइकिल लकड़ियों से बनी थी जिसमे चलाने के लिए किसी भी तरह का पैडल नहीं हुआ करता था. इस साइकिल को चलाने के लिए इसमें धक्का लगाना पड़ता था तब जाकर कही यह साइकिल चलती थी. इसके अलावा इसमें हाथो को सहारा देने और साइकिल को दिशा देने के लिए हैंडल लगाया गया था.

इनके द्वारा बनायीं गयी इस साइकिल का वजन 23 किलोग्राम था. अपने इस आविष्कार को दुनिया के सामने लाने के लिए कार्ल ने 12 जून 1817 में जर्मनी के दो शहरो मैनहेम और रिनाउ के बिच में साइकिल चलाकर लोगो को इसके बारे में बताया था. उन्हें इस साइकिल के द्वारा 7 किलोमीटर की दुरी तय करने में लगभग 1 घंटे से भी अधिक का समय लगा था.

भारत में साइकिल का आविष्कार कब हुआ

भारत में साइकिल का आविष्कार 1942 में हुआ था जिसे हिन्द साइकिल नाम की कंपनी ने बनाया था.

Cycle Company Names

साइकिल बनाने वाली कई तरह की कम्पनिया है जिनमे से भारत में भी कई तरह की साइकिल बनाने वाली कम्पनिया है. साइकिल बनाने वाली कंपनिया इस प्रकार है :

भारत में साइकिल बनाने वाली प्रमुख कंपनिया

  • Hero Cycles
  • Atlas Cycles
  • Avon Cycles
  • Hercules Cycles
  • BSA Ladybird
  • La Sovereign Cycles
  • Firefox Cycles
  • Montra Cycles
  • Mach City Cycles
  • Road Master Cycles

अन्य देशो की प्रमुख साइकल कंपनियों के नाम

  • Airborne Cycles
  • Breezer
  • Bianchi Bike
  • Cervelo Bike
  • Cannondale Bicycle
  • Colnago Bike
  • Creme Cycles
  • Giant Bicycle
  • GT Bike
  • Kona Bike
  • Merida Bicycle
  • Pinarello Bike
  • Santa Cruz Bike
  • Schwinn Bike
  • Specialized Bike
  • Scott Bicycle
  • Trek Bicycle
Cycle Ke Parts

साइकिल के प्रमुख भागो (Parts) के नाम निम्नलिखित है :

  • फ्रेम
  • मड गार्ड
  • पैडल
  • पहिया
  • बालबेयरिंग
  • वॉल्व
  • टायर
  • चालक जंजीर
  • पैडल क्रैंक
  • ब्रेक
  • गियर
  • लोहे की रिंग
  • ट्यूब आदि.

Cycle Kitne Ki Aati Hai

साइकिल की कीमत उसे बनाने वाली कंपनी, उसकी क़्वालिटी और वारंटी पर भी निर्भर करती है, जितनी अच्छी साइकिल होगी कीमत भी उतनी ही अधिक होगी. कुछ शहरों में साइकिल की कीमत कम ज्यादा भी  हो सकती है.

साइकिल की शुरुवाती कीमत 3000 रुपये से होती है. इससे काफी महंगी साइकल्स भी बाजार में मौजूद है. साइकिल को आप ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरीके से मंगवा सकते है.

Cycle Ke Bare Mein 10 Line

साइकिल के बारे में 10 लाइन निम्नलिखित है :

  1. साइकिल एक यातायात का साधन होता है जिसे कही भी आना जाना किया जा सकता है.
  2. साइकिल को चलाने के लिए इसमें पेडल और मोड़ने या घुमाने के लिए हैंडल होता है.
  3. साइकिल की मदद से कम दुरी की जगह पर जल्दी पंहुचा जा सकता है.
  4. साइकिल कई तरह के कलर में आती है.
  5. साइकिल पर बैठने के लिए इसमें सीट लगी होती है.
  6. साइकिल चलाने के लिए किसी भी तरह के ईंधन की आवश्यकता नहीं होती है.
  7. साइकिल में गति नियंत्रण के लिए ब्रेक लगे होते है जिसकी मदद से रुका जा सकता है.
  8. साइकिल को बच्चे से लेकर बड़े तक सभी प्रकार के लोग चलाते है.
  9. साइकिल चलाने से पर्यावरण को किसी भी तरह का नुकसान नहीं होता है और ना ही प्रदुषण फैलता है.
  10. 3 जून 2018 से प्रत्येक वर्ष इसी दिनांक को विश्व साइकिल दिवस के रूप में मनाया जाता है.
Cycle – FAQs
Cycle Ke Bare Mein Jankari

साइकिल पैडल की मदद से चलने वाला एक साधन है जिसे कम दुरी की जगहों पर जल्दी पहुचने के लिए किया जाता है. साइकिल चलाने से शारीरिक स्वास्थ्य भी ठीक रहता है.

दुनिया की सबसे पहली साइकिल का आविष्कार सन 1817 में कार्ल वॉन ड्रैस (Karl Von Drais) ने किया था जो एक जर्मनी आविष्कारक थे. अधिक जानकारी के लिए आप इस पोस्ट को पड़े.

साइकिल का आविष्कार कब हुआ

दुनिया में सबसे पहले साइकिल का आविष्कार जर्मनी में साल 1817 में हुआ था.

सबसे पहले कौन सी साइकिल बनी थी

सबसे पहले साल 1817 में साइकिल बनी थी जिसका नाम ड्रेसियेन रखा गया था. यह पूरी तरह से लकड़ी से बनी हुई साइकिल थी.

वर्तमान साइकिल का आविष्कार कब हुआ और किसने किया

दुनिया की पहली पैडल वाली साइकिल का आविष्कार साल 1863 में फ़्रांस के एक मैकेनिक Pierre Lallement ने किया था.

Cycle Ke Parts Ke Naam

मड गार्ड, पैडल, पहिया, बालबेयरिंग, ब्रेक, गियर, घंटी, वॉल्व, टायर, चालक जंजीर, ट्यूब आदि.

Cycle Ki Ghanti 

साइकिल की घंटी साइकिल में लगा एक ऐसा उपकरण है जिसकी मदद से सामने आने वाले या जाने वाले किसी भी इंसान को सचेत किया जा सकता है. घंटी बजाने से वह इंसान सचेत होकर एक तरफ हो जाता है.

उम्मीद करते है आपको हमारी यह पोस्ट Cycle Ka Avishkar Kisne Kiya और भारत में साइकिल का आविष्कार कब हुआ पसंद आई होगी.

अगर आपको हमारी यह पोस्ट पसंद आयी है तो इसे ज्यादा से ज्यादा लोगों के साथ शेयर करे और इस आर्टिकल से जुड़ा कोई भी सवाल हो तो उसे आप नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट कर के पूछ सकते हैं.

Questions & Answer:
Ultrasound Se Kya Hota Hai और Ultrasound Kaise Karte Hai

Ultrasound से क्या होता है – अल्ट्रासाउंड कैसे करते हैं, अल्ट्रासाउंड के नुकसान

Health
Angur Khane Se Kya Hota Hai और  काले अंगूर खाने के फायदे और नुकसान

Grapes – काले अंगूर खाने से क्या होता है – फायदे, नुकसान, समय, Vitamins, तासीर

Kya Kaise
Radio Ka Avishkar Kisne Kiya और भारत में रेडियो प्रसारण की शुरुआत कब हुई

Radio का आविष्कार किसने किया – भारत में रेडियो प्रसारण की शुरुआत कब हुई

Avishkar
Author :
प्रिये पाठक, आपका हमारी वेबसाइट Lipibaddh.com पर स्वागत है, इस वेबसाइट का काम लोगों को हिंदी भाषा में देश, विदेश एवं दैनिक जीवन में काम आने वाली जरुरी चीजों के बारे में जानकरी देना है.
Questions Answered: (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *